News Nation Logo
Banner

डॉक्‍टरों पर हमला करने वालों पर मोदी सरकार (Modi Sarkar) की टेढ़ी नजर, 3 माह से लेकर 5 साल तक होगी सजा

प्रकाश जावड़ेकर ने बताया, आरोग्यकर्मियों के खिलाफ अब किसी भी प्रकार की हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी. इसलिए स्वास्थ्यकर्मियों को संरक्षण देते हुए नया अध्यादेश लाया जा रहा है. अब स्वास्थ्यकर्मियों पर हमला संज्ञान लेने वाला और गैर जमानती होगा.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 22 Apr 2020, 05:15:55 PM
prakash javadekar

आरोग्‍य कर्मचारियों के खिलाफ हिंसा बर्दाशत नहीं होगी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अध्‍यक्षता में आज बुधवार दोपहर हुई कैबिनेट (Modi Cabinet) की बैठक के बाद मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javdekar) ने फैसलों की जानकारी दी. प्रकाश जावड़ेकर ने बताया, डॉक्‍टरों और आरोग्यकर्मियों के खिलाफ अब किसी भी प्रकार की हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी. इसलिए स्वास्थ्यकर्मियों (Health Workers) को संरक्षण देते हुए नया अध्यादेश लाया जा रहा है. अब स्वास्थ्यकर्मियों पर हमला संज्ञान लेने वाला और गैर जमानती होगा. इसमें कड़ी सजा का प्रावधान किया गया है. हमलावरों को 3 माह से लेकर 5 साल तक की सजा हो सकती है. साथ ही 50 हजार से 2 लाख रुपये तक का जुर्माना हो सकता है.

यह भी पढ़ें : कौन सी चीज कोरोना वायरस को शरीर के अंदर में घुसने में मदद करती है, स्टडी में हुआ खुलासा

उन्‍होंने बताया, अगर बहुत गंभीर हमला होता है तो 6 महीने से 7 साल की सजा हो सकती है. ऐसे मामलों में 1 लाख से 5 लाख तक का जुर्माना होगा. इसकी जांच 30 दिनों में होगी और इसका फैसला 1 साल में आएगा. गाड़ी या क्लीनिक के नुकसान पर मार्केट कॉस्ट का दोगुना हमलावरों से लिया जाएगा. जावड़ेकर ने बताया, 25 लाख N-95 मास्क हैं और ढाई करोड़ मास्क का ऑर्डर दिया गया है. सभी आरोग्यकर्मियों के परिवार का ख्याल सरकार रखना चाहती है.

जावड़ेकर ने यह भी जानकारी दी कि गृह मंत्री अमित शाह जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए डॉक्टरों और उनके प्रतिनिधियों से बात की है. उन्होंने डॉक्टरों को विश्वास दिलाया है कि सरकार हर हाल में उनकी सुरक्षा करेगी.

यह भी पढ़ें : पालघर मॉब लिंचिंग केस का गुनहगार कौन? पूरी लिस्‍ट आप खुद ही देख लीजिए

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, कोरोना वायरस से देश को बचाने की कोशिश कर रहे स्वास्थ्य कार्यकर्ता दुर्भाग्यवश हमलों का सामना कर रहे हैं. अब उनके खिलाफ हिंसा की कोई घटना बर्दाश्त नहीं की जाएगी. सरकार एक अध्यादेश ला रही है, जो राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद से लागू हो जाएगा.

केंद्रीय मंत्री ने यह भी जानकारी दी कि सरकार की ओर से फर्टिलाइज़र के लिए दी जाने वाली सब्सिडी को बढ़ाया गया है. अब इसे बढ़ाकर 22 हजार करोड़ से अधिक किया गया है.

यह भी पढ़ें : लॉकडाउन तोड़ कार में इश्क फरमा रहा था प्रेमी जोड़ा, पुलिस ने पकड़ा और...

मोदी सरकार के इस फैसले पर प्रतिक्रिया करते हुए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष राजन शर्मा ने पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह का शुक्रिया किया. उन्होंने कहा कि यह बहुत ही अच्छी बात है कि बहुत ही कम समय में डॉक्टरों की सुरक्षा के लिए यह अध्यादेश लाया गया. डॉक्टरों की सुरक्षा बेहद जरूरी है. राष्ट्रीय आपदा में डॉक्टर ही भगवान हैं. उन्‍होंने कहा- पीएम मोदी, गृह मंत्री और स्वास्थ्य मंत्री अपने वादों पर खरे उतरे.

First Published : 22 Apr 2020, 03:04:36 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो