News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

झारखंड: पुलिस छापामारी के दौरान बुजुर्ग महिला की मौत, फूटा ग्रामीणों का गुस्सा, अंतिम संस्कार से इनकार

झारखंड: पुलिस छापामारी के दौरान बुजुर्ग महिला की मौत, फूटा ग्रामीणों का गुस्सा, अंतिम संस्कार से इनकार

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 21 Oct 2021, 04:45:02 PM
Villager boiled

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

रांची: रामगढ़ जिले के रजरप्पा थाना क्षेत्र अंतर्गत बड़कीपोना गांव में बुधवार की देर रात पुलिस की छापामारी के दौरान 65 साल की बुजुर्ग महिला उमानो देवी की मौत के बाद ग्रामीणों में गुस्से का उबाल है। महिला के परिजनों और गांव के लोगों का आरोप है कि उनकी मौत पुलिस की पिटाई से हुई है।
इस घटना के बाद गांव के सैकड़ों लोग इकट्ठा होकर प्रदर्शन कर रहे हैं। गिरिडीह के सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी, रामगढ़ की विधायक ममता देवी, हजारीबाग के पूर्व सांसद यदुनाथ पांडेय सहित विभन्न राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता भी बड़ी संख्या में गांव में जमा हैं। आक्रोशित ग्रामीणों की मांग है कि महिला की मौत के लिए पुलिसकर्मियों को जिम्मेदार बताते हुए उनके खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाये। इधर, गांव और आस-पास के इलाके में पसरे तनाव को देखते हुए बड़ी तादाद में पुलिसकर्मी तैनात किये गये हैं।

बता दें कि पिछले शनिवार को बड़कीपोना गांव में प्रशासन की अनुमति के बिना रावण दहन कार्यक्रम हो रहा था। पुलिस इस कार्यक्रम को रुकवाने गयी थी तो ग्रामीणों ने पथराव कर दिया, जिसमें आठ पुलिसकर्मी घायल हो गये थे। इसके बाद पुलिस ने इस गांव के दो दर्जन से ज्यादा ग्रामीणों को गिरफ्तार किया है। गांव में पुलिस की कार्रवाई लगातार जारी रही। इसके बाद बुधवार की रात को भी पुलिस ने पथराव की घटना में शामिल लोगों की गिरफ्तारी के नाम पर गांव के कई घरों में दबिश दी। ग्रामीणों के अनुसार रात 12 बजे पुलिस ने चानो महतो के घर का दरवाजा खटखटाया। घर के लोग भयभीत हो गये। ग्रामीणों का आरोप है कि इस बीच पुलिस दरवाजे पर जोरदार धक्का देकर अंदर घुस गयी और घर में मौजूद 65 वर्षीय उमानो देवी और उनकी पोती प्रभा कुमारी की पिटाई की। उमानो देवी गिर गयीं और उनकी मौत हो गयी। ग्रामीणों का यह भी कहना है कि पुलिस ने घर में तोड़-फोड़ भी मचायी। हालांकि पुलिसकर्मियों ने महिला से मारपीट की बात से इनकार किया है। गुस्साये ग्रामीणों ने पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई होने तक महिला के शव का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया है।

घटना के बाद से ही बड़कीपोना सहित आस-पास के गांवों में तनाव कायम हो गया है। गांव में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पूरा गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है। रामगढ़ के मुख्यालय डीएसपी संजीव कुमार मिश्रा सहित गोला, बरलंगा व रजरप्पा थाना प्रभारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे हैं।

रामगढ़ की कांग्रेस विधायक ममता देवी ने पुलिस की कार्रवाई पर आक्रोश जताया है। उन्होंने रामगढ़ के एसपी को फोन कर इस मामले में तत्काल कार्रवाई की मांग की है। पूर्व भाजपा सांसद यदुनाथ पांडेय ने कहा है कि हेमंत सोरेन की सरकार में पुलिस आततायी हो गयी है। अपराधी बेखौफ हैं और पुलिस निर्दोश लोगों पर जुल्म कर रही है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 21 Oct 2021, 04:45:02 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.