News Nation Logo

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू पहुंचे गुरुग्राम..मुख्यमंत्री के साथ पैरालंपिक प्लेयर को किया सम्मानित

वेंकैया नायडू ने पैरालंपिक खिलाड़ियों को संबोधित तरते हुए कहा कि आपने कई बाधाओं को पार किया है, रूढ़ियों को ध्वस्त किया है.. पूरा देश आपके साथ है और आप पर गर्व कर रहा है.. साथ ही पैरालंपिक 2020 के इन प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को सम्मानित करने का अवसर प

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 19 Sep 2021, 11:10:58 PM
pairalampic

Vice President Venkaiah Naidu (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • विजेताओं के साथ प्रतिभागियों को भी किया सम्मानित 
  • उपराष्ट्रपति बोले पूरे देश को आप पर गर्व है
  • पदक विजेताओं को दिया गया 27 करोड़ रुपए का पुरस्कार

New delhi:

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू (Vice President Venkaiah Naidu) और सीएम मनोहर लाल खट्टर ने आज गुरुग्राम में टोक्यो पैरालिंपिक 2020 के प्रतिभागियों और पदक विजेताओं को सम्मानित किया..इस दौरान सभी पदक विजोताओं को लगभग 27 करोड़ रुपए का पुरस्कार वितरित किया गया. वेंकैया नायडू ने कहा कि भारतीय पैरालंपियनों के साहस और दृढ़ संकल्प की वहज से पूरा देश उन पर गर्व कर रहा है.. इस दौरान उन्होने सबसे अधिक पदक जीतने के लिए पूरे दल की सराहना की. साथ ही उन्हे आगे बढने के लिए प्रेरित किया. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भी पैलालंपिक खिलाडि़यों को संबोधित किया. साथ धनराशि देकर सभी का मान बढ़ाया.

यह भी पढें :दिल्ली में कोरोना के 24 घंटे में मिले 28 केस, एक भी मौत नहीं

वेंकैया नायडू ने पैरालंपिक खिलाड़ियों को संबोधित तरते हुए कहा कि आपने कई बाधाओं को पार किया है, रूढ़ियों को ध्वस्त किया है.. पूरा देश आपके साथ है और आप पर गर्व कर रहा है.. साथ ही  पैरालंपिक 2020 के इन प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को सम्मानित करने का अवसर पाकर मैं सम्मानित महसूस कर रहा हूं. देश में खेल संस्कृति बनाने की आवश्यकता पर जोर देते हुए उपराष्ट्रपति ने खेलों को युवाओं के लिए एक आकर्षक और व्यवहार्य करियर विकल्प के रूप में विकसित करने का आह्वान किया. उन्होंने इस संबंध में कई नीतिगत पहल करने के लिए हरियाणा सरकार की सराहना की. स्थानीय स्तर पर दिव्यांग खिलाड़ियों के लिए खेल सुविधाओं की सामान्य कमी का संज्ञान लेते हुए, नायडू ने ऐसे और केंद्रों के निर्माण का आह्वान किया. उन्होंने स्थानीय स्तर पर दिव्यांग खिलाड़ियों की पहचान करने और उन्हें प्रोत्साहित करने की आवश्यकता पर भी जोर दिया.

इन्हे मिला ईनाम 
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक निशानेबाज मनीष नरवाल और भाला फेंक खिलाड़ी सुमित अंतिल (दोनों स्वर्ण पदक विजेता) को छह-छह करोड़ रुपये का नकद पुरस्कार दिया गया. पुरुषों के चक्का फेंक में रजत पदक जीतने वाले योगेश कथुनिया और पुरुषों की निशानेबाजी में रजत पदक विजेता सिंहराज अधाना को चार-चार करोड़ रुपये दिए गए. तीरंदाजी में कांस्य पदक विजेता हरविंदर सिंह को 2.5 करोड़ रुपये का नकद पुरस्कार दिया गया. इस दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पैरालंपिक खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि हमें गर्व है कि मेरे राज्य से पैरालंपिक खिलाड़ियों ने सबसे ज्यादा पदक जीतकर भारत को दिय़े.

First Published : 19 Sep 2021, 11:10:58 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.