News Nation Logo

अब तक 206 लोग लापता हुए हैं जिसमें से 31 के शव मिले हैं: रमेश पोखरियाल Live

उत्तराखंड आपदा के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक हाई लेवल मीटिंग की. इस दौरान सीएम योगी ने उत्तर प्रदेश के लोगों की मदद के लिए टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1070 और वॉट्सऐप नंबर 9454441036 जारी किया है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 10 Feb 2021, 12:21:47 AM
आपदा में अभी तक 30 की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

आपदा में अभी तक 30 की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी (Photo Credit: ITBP)

चमोली:

सोमवार को उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर टूटने से तबाही मच गई. ताजा जानकारी के मुताबिक अभी तक इस आपदा में 30 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 200 से भी ज्यादा लोग अभी लापता हैं. आपदा में उत्तर प्रदेश से आए 39 मजदूर लापता हैं. बताया जा रहा है कि समय के साथ-साथ इस संख्या में अभी और बढ़ोतरी भी हो सकती है. उत्तराखंड आपदा के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक हाई लेवल मीटिंग की. इस दौरान सीएम योगी ने उत्तर प्रदेश के लोगों की मदद के लिए टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1070 और वॉट्सऐप नंबर 9454441036 जारी किया है.

LIVE TV NN

NS

NS

इस समय वहां भारतीय सेना, एयर फोर्स, ITBP, NDRF , SDRF तालमेल के साथ काम कर रहे हैं. दो जगह नुकसान हुआ है. एक ऋषिगंगा जो कि जल विद्युत परियोजना है वह तो पूरी तरह नष्ट हो गया है और दूसरी तपोवन परियोजना है. वहां बचाव कार्य चल रहा है: 14 इंफैंट्री डिविजन के GOC 

अब तक 206 लोग लापता हुए हैं जिसमें से 31 के शव मिले हैं और दो की शिनाख्त हो पाई है. हमारे जवान दिन-रात काम कर रहे हैं. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री जी लगातार उस जगह का दौरा कर रहे हैं. राहत कार्य जारी है: केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक

197 लोग लापता हैं हमारे पास 192 लापता लोगों के नामों की लिस्ट आई है, उनमें से 30 शव मिल चुके हैं। बचे हुए लोगों के लिए सर्च अभियान जारी है: DGP अशोक कुमार

उत्तराखंड के बुरे समय में हरियाणा की मदद पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आभार जताया है.


कांग्रेस सांसद के. सुरेश ने लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया और उत्तराखंड में ग्लेशियर फटने के मामले में पर्यावरणीय विनाश को निर्धारित करने के संभावित कारणों की जांच की मांग की है.

राहत और बचाव सामग्री लेकर जोशीमठ पहुंचा भारतीय वायुसेना का MI-17 हेलिकॉप्टर.


आईटीबीपी के 450 जवान, एनडीआरएफ की 5 टीमें, भारतीय सेना की 8 टीमें, नेवी का एक और वायुसेना के 5 हेलिकॉप्टर सर्च ऑपरेशन में जुटे हुए हैं- अमित शाह

राज्य सभा के सासंदों ने उत्तराखंड आपदा में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित की.

3 शव बरामद किए जा चुके हैं और यहां ब्रिज बनाने का काम किया जा रहा है. इसके साथ ही यहां जिप लाइन भी फिक्स की गई है- स्वाति भदौरिया, डीएम चमोली

टनल में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए रातभर के अथक प्रयास के बाद सेना ने टनल के मुंह पर पड़े मलबे को साफ कर लिया है, हमारे लोग काफी अंदर तक गए हैं- अमित शाह

7 फरवरी 2021 के उपग्रह डाटा के अनुसार ऋषि गंगा नदी के जलग्रहण क्षेत्र में समुद्र तल से 5600 मीटर ऊपर ग्लेशियर के मुहाने पर हिमस्खलन हुआ जो लगभग 14 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र जितना बड़ा था. जिससे ऋषि गंगा नदी के निचले क्षेत्र में फ्लैश फ्लड की स्थिति बन गई- अमित शाह

वायुसेना के 5 हेलिकॉप्टर राहत और बचाव कार्य में जुटे- अमित शाह

ऋषिकेश पावर प्रोजेक्ट पूरी तरह से तबाह- अमित शाह

वायुसेना ने मंगलवार को मिशन के तहत Mi-17 को चमोली में उतार दिया है. ये विमान NDRF के जवानों को देहदादून से जोशीमठ पहुंचाएगा.

गृह मंत्रालय हालातों पर लगातार नजरें बनाया हुआ है- अमित शाह

टनल में फंसे हुए लोगों को सुरक्षित बचाने की कोशिशें जारी- अमित शाह

ITBP ने हादसे की जगह बनाया कंट्रोल रूम- अमित शाह

टनल से एनटीपीसी के 12 कर्मचारियों को सुरक्षित बाहर निकाला गया- अमित शाह

पूल टूटने की वजह से 13 गांवों से संपर्क टूटा- अमित शाह

राहत और बहाव कार्य लगातार जारी. निचले क्षेत्रों में कोई खतरा नहीं- अमित शाह

अभी तक 197 लोग लापता- अमित शाह

तपोवन टनल में 25 से 35 लोगों के फंसे होने की आशंका- अमित शाह

प्रभावित इलाकों में हेलिकॉप्टर की मदद से जरूरी सामान पहुंचाया जा रहा है- अमित शाह

उत्तराखंड त्रासदी में मारे गए मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये की सहायता दी जाएगी.

उत्तराखंड के चमोली में आई आपदा पर गृह मंत्री अमित शाह राज्य सभा में दे रहे हैं जानकारी.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने उत्तराखंड त्रासदी में मुख्यमंत्री राहत कोष से 11 करोड़ रुपए की राशि देने की घोषणा की है.

उत्तराखंड: पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत जोशीमठ के तपोवन टनल में चल रहे राहत और बचाव अभियान का जायजा लेने के लिए जोशीमठ पहुंचे.


टनल में करीब 35 श्रमिक फंसे हैं, उनके लिए ड्रिल करके टनल में रस्सी लगाने की कोशिश की जा रही है. इसकी सफलता में अभी थोड़ा समय लगेगा लेकिन इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं. प्रधानमंत्री का सुबह फोन आया था, वे लगातार यहां के हालातों की अपडेट ले रहे हैं: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

मलबे में से दो शव और बरामद हुए हैं, तीसरा शव दिख रहा है तो इस तरह अब तक कुल 29 शव बरामद हो चुके हैं: अशोक कुमार, DGP

आज 2 शव और बरामद हुए हैं और अब तक कुल 28 शव बरामद हो चुके हैं: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

यहां राशन का कोई अभाव नहीं है, डॉक्टरों की टीम काम कर रही है. रैणी गांव में दो लोगों के घर आपदा में ध्वस्त हुए हैं. मैंने जिलाधिकारी से कहा है कि उन लोगों के घर बनाए जा सकते हैं: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने चमोली जिले में ग्लेशियर टूटने से प्रभावित इलाकों का दौरा किया.


उत्तराखंड: भारतीय वायुसेना के स्पेशल हेलीकॉप्टर में गाजियाबाद से NDRF की एक अतिरिक्त टीम जोशीमठ पहुंची.

उत्तराखंड: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने चमोली जिले में ग्लेशियर टूटने से प्रभावित इलाकों का एरियल सर्वे किया.


रणनीति के मुताबिक टनल में दो मशीनों से काम लिया जा सकता है ताकि लोगों को ​जल्द से जल्द सुरक्षित बचाया जा सके. टनल के अंदर 30-35 लोगों के फंसे होने की आशंका है, उन तक पहुंचने के सभी प्रयास किए जा रहे हैं: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

जिन 12 घायलों को रेस्क्यू किया गया है वे ITBP के अस्पताल में भर्ती हैं. सभी लोग ठीक हैं. उन्होंने बताया कि शरीर में काफी दर्द है. डॉक्टरों का कहना है कि ये धीरे-धीरे सब ठीक हो जाएंगे. जो 360 परिवार पुल के ढहने से जिले से कट गए हैं, मैं उनसे संपर्क करने जा रहा हूं: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जोशीमठ में आईटीबीपी अस्पताल में जाकर रेस्क्यू किए गए लोगों से मिले और उनका हालचाल जाना.


कल रातभर तपोवन टनल में आर्मी, ITBP, SDRF और NDRF की टीम मलबा निकालने में लगी रहीं. ज्यादा से ज्यादा मलबा निकालने की पूरी कोशिश की जा रही है: अपर्णा कुमार, डीआईजी, सेक्टर हेडक्वार्टर, ITBP देहरादून

टनल में ​थोड़ा और आगे बढ़े हैं, अभी टनल खुली नहीं है. हमें उम्मीद है कि दोपहर तक टनल खुल जाएगी. कुल 26 शव बरामद हुए हैं: अशोक कुमार, उत्तराखंड डीजीपी

ग्लेशियर टूटने के बाद तपोवन सुरंग में फंसे लोगों को बचाने के लिए लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है. 


तपोवन टनल में राहत और बचाव कार्य लगातार जारी है. एसडीआरएफ की टीमें लोगों की जान बचाने के लिए दिन-रात काम कर रही हैं.


First Published : 09 Feb 2021, 07:09:57 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.