News Nation Logo
Banner

प्रियंका गांधी बोलीं- कुछ मोहरों को सस्पेंड करने से क्या होगा? इस्तीफा दें योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश की हाथरस दुष्कर्म कांड को लेकर पूरे देश में उबाल है. इसी बीच इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad HC) की लखनऊ पीठ ने हाथरस दुष्कर्म कांड को गंभीरता से लेते हुए स्वत:संज्ञान लिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 02 Oct 2020, 12:27:45 PM
hathras gangrape case

hathras gangrape case (Photo Credit: (फाइल फोटो))

हाथरस:

उत्तर प्रदेश की हाथरस दुष्कर्म कांड को लेकर पूरे देश में उबाल है. इसी बीच इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad HC) की लखनऊ पीठ ने हाथरस दुष्कर्म कांड को गंभीरता से लेते हुए स्वत:संज्ञान लिया है. कोर्ट ने गुरुवार को घटना पर चिंता व्यक्त करते हुए यूपी सरकार, शासन के शीर्ष अधिकारियों और हाथरस के डीएम व एसपी को नोटिस जारी किया है. न्यायमूर्ति राजन राय और न्यायमूर्ति जसप्रीत सिंह की पीठ ने इस दर्दनाक घटना पर स्वत:संज्ञान लेते हुए नोटिस जारी किया है.कोर्ट ने पीड़िता के साथ हाथरस पुलिस के बर्बर, क्रूर और अमानवीय व्यवहार पर राज्य सरकार से भी प्रतिक्रिया मांगी है. पीठ इस मामले की सुनवाई 12 अक्टूबर को करेगी.

 

कांग्रेस महासचिव ने सीएम योगी द्वारा अधिकारियों के सस्पेंड किए जाने पर ट्वीट करके कहा, 'योगी आदित्यनाथ जी, कुछ मोहरों को सस्पेंड करने से क्या होगा? हाथरस की पीड़िता, उसके परिवार को भीषण कष्ट किसके ऑर्डर पर दिया गया?' 



यूथ कांग्रेस गांधी की भेषभूषा में हाथरस घटना के खिलाफ जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन करने उतरें. 



सीएम अरविंद केजरीवाल जंतर मंतर पर हाथरस घटना के खिलाफ प्रदर्शन करने उतरें. 



प्रियंका गांधी ने कहा- ये एक अन्याय है. सूर्यास्त के बाद अंतिम संस्कार नहीं किया जाता है. जबतक इंसाफ़ नहीं मिल जाता तबतक शांत नहीं बैठेंगे.

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में माताओं-बहनों के सम्मान-स्वाभिमान को क्षति पहुंचाने का विचार मात्र रखने वालों का समूल नाश सुनिश्चित है. इन्हें ऐसा दंड मिलेगा जो भविष्य में उदाहरण प्रस्तुत करेगा. आपकी उत्तर प्रदेश सरकार प्रत्येक माता-बहन की सुरक्षा व विकास हेतु संकल्पबद्ध है.



सुनील सिंह साजन ने कहा कि हाथरस में मीडिया को गांव में नहीं जाने दिया जा रहा है, जनप्रतिनिधियों को नहीं जाने दिया जा रहा है. योगी जी क्या छिपाना चाहते हैं आप. आप जनरल डायर बनना चाहते हैं. इस देश ने जनरल डायर को भी सबक सिखाया है. आप को भी देश सबक सिखाएगा.

हाथरस की निर्भया के लिए प्रार्थना सभा में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पहुंची. 

जब तक SIT काम कर रही है तब तक मीडिया को गांव में जाने की अनुमति नहीं होगी, जांच प्रभावित न हो इसलिए रोक लगाई गई है। मौजूदा कानून और व्यवस्था को देखते हुए राजनीतिक प्रतिनिधिमंडल पर रोक लगी रहेगी,जब तक प्रशासन तय न करे ले कि अब गांव का माहौल मुफीद है:प्रकाश कुमार,एडिशनल SP,हाथरस

उसके परिवार को बंधक बना लिया जाता है, तब प्रधानमंत्री एक शब्द नहीं बोलते, प्रधानमंत्री जी आप कब तक चुप रहेंगे? आपको जवाब देना पड़ेगा. आज शाम 5 बजे हम आपसे जवाब मांगने इंडिया गेट आ रहे हैं. आपकी चुप्पी बेटियों के लिए खतरा है, आपको जवाब देना पड़ेगा और न्याय करना पड़ेगा: चंद्रशेखर

SIT टीम अंदर है, जांच चल रही है. जांच किसी तरह से प्रभावित न हो इसलिए दिशानिर्देश हैं और किसी को भी अंदर जाने की अनुमति नहीं है: तृणमूल कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल को हाथरस बोर्डर पर रोकने पर प्रेम प्रकाश मीणा, SDM हाथरस


 

भारत के प्रधानमंत्री कहते हैं कि दलितों को मत मारो, मुझे मारो। चुनाव से पहले वो दलितों के पैर धोते हैं, वो नारा देते हैं कि बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ। जिस उत्तर प्रदेश से चुनकर वो सदन में गए हैं जब उसी उत्तर प्रदेश के हाथरस की बेटी के साथ हैवानियत होती है: चंद्रशेखर,भीम आर्मी प्रमुख

यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि उत्तर भारत में महिलाओं के खिलाफ अपराधिक घटनाएं बढ़ी हैं. हमारी भूमिका घटना में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की होती है और समाज में जागरूकता जगाने की होती है. हमने ऐसे मामलों में कार्रवाई की है: राजस्थान डीजीपी भूपेंद्र यादव

टीएमसी की महिला सांसद ममता ठाकुर से भी पुलिस ने बदसलूकी की. मीडिया से बात करते हुए ममता ठाकुर ने कहा कि हम परिवार से मिलने जा रहे थे, लेकिन हमें अनुमति नहीं दी जा रही. जब हमने जोर दिया, तो महिला पुलिसकर्मियों ने हमारे ब्लाउज को खींचा और हमारी सांसद प्रतिमा मंडल पर लाठीचार्ज किया. वह नीचे गिर गईं. पुरुष पुलिस अधिकारियों ने उन्हें (प्रतिमा मंडल) छुआ. यह शर्मनाक है.



राहुल गांधी और प्रियंका जी अकेले जाकर पीड़िता के परिवार से मिलना चाहते थे, उनको क्यों रोका गया? धारा 144 और 188 लागू करने की जवाबदेही प्रशासन की है, जब भाजपा के कार्यक्रम होते हैं तब ये ही प्रशासन कार्रवाई क्यों नहीं करता? :राहुल गांधी को हाथरस जाने से रोकने पर दिग्विजय सिंह

हाथरस में पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन हाथरस बॉर्डर पर धक्का मुक्की में नीचे गिरे.



हाथरस गैंगरेप मामले में लोगों का गुस्सा उफान मार रहा हैं. बताया जा रहा  है कि दिल्ली में एक बार फिर निर्भाय केस की तरह महिलाएं बड़ी संख्या में जमा हो रही हैं.

हिन्दू धर्म में रात को कभी अग्नि(शव को) नहीं दी जाती लेकिन उसे (पीड़िता) रात को ही जला दिया गया, उसके परिवार को अंतिम दर्शन तक नहीं करने दिए गए. जिस तरह से सत्ता पक्ष ने पीड़ित परिवार के साथ व्यवहार किया वो अच्छी बात नहीं है: हाथरस की घटना पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल



हाथरस की घटना बेहद ही दर्दनाक है और पीड़ित परिवार के साथ सरकार का आचरण सही नहीं है. हम लोकतंत्र में रह रहे हैं और सत्ता पर बैठे लोगों को यह नहीं भूलना चाहिए कि वे इस देश के मालिक नहीं बल्कि 'सेवक' हैं: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल

राहुल गांधी से वहां की पुलिस ने जिस तरह बर्ताव किया उसका समर्थन देश में कोई नहीं कर सकता. राहुल गांधी इंदिरा गांधी के पोते हैं और राजीव गांधी के बेटे हैं ये हमें भूलना नहीं चाहिए, इन लोगों ने देश के लिए शहादत दी है:राहुल गांधी के हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने जाने पर संजय राउत

इतनी बड़ी घटना(हाथरस में कथित सामूहिक बलात्कार) है, लोकतंत्र के अंदर कोई राष्ट्रीय स्तर का नेता जाना चाहता है अगर कोई छुपाने की बात नहीं है तो रोकने की बात क्यों होनी चाहिए? :राहुल गांधी को कल हाथरस जाने से रोके जाने पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

पहली बार देखा कि पुलिस, प्रशासन और सरकार ने उत्तर प्रदेश में जानबूझकर सबूत निपटाने की कोशिश की और वहां के ज़िला कलेक्टर ने उनके परिजनों को धमकाने की कोशिश की. मुख्यमंत्री और पूरे प्रशासन ने विपक्ष की आवाज को दबाने में कोई कसर नहीं छोड़ी: हाथरस की घटना पर सचिन पायलट, कांग्रेस

कांग्रेस के जिला अध्यक्ष विनोद गुंबर ने पेट्रोल छिड़ककर लगाई आग. हाथरस दलित बेटी की दरिंदगी और किसानों का उत्पीड़न को लेकर 2 अक्टूबर को उपवास रखकर गांधी पार्क में बैठना था. कांग्रेस जिला अध्यक्ष विनोद गुंबर को उपवास रखकर प्रशासन द्वारा पार्क में बैठने नहीं दिया गया. इसके बाद पुलिस के अधिकारियों से हुई नोकझोंक के बाद पेट्रोल छिड़ककर लगाई आग.

यूपी में जिस तरह से महिलाओं के साथ रेप की घटनाएं हो रही हैं और उनकी हत्या की जा रही उसके खिलाफ हम लोग आज बाबू जी के चरणों में श्रद्धा सुमन अर्पित करके मौन विरोध करना चाहते थे लेकिन हमें पुलिस लाठी से मारकर रोक रही है, लेकिन हम रूकने वाले नहीं हैं: समाजवादी पार्टी के एक कार्यकर्ता

उत्तर प्रदेश के हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे टीएमसी के नेताओं को रोक दिया  गया है. डेरेक ओ ब्रायन समेत टीएमसी के प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को पीड़िता के परिवार मिलने जा रहे थे कि तभी उन्हें  हाथरस के बॉर्डर पर रोका दिया गया.

हाथरस गैंगरेप मामले को लेकर किसान कांग्रेस (Congress) भारतीय जनता पार्टी (BJP) अध्यक्ष जेपी नड्डा की आवास के सामने आज यानि कि शुक्रवार को सुबह 11:00 बजे प्रदर्शन करेगी.

First Published : 02 Oct 2020, 10:05:23 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो