News Nation Logo
Banner

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को प्रदेश में सख्ती बरतने के दिए निर्देश

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को प्रदेश में सख्ती बरतने के दिए निर्देश

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 03 May 2022, 01:20:01 AM
Uttar Pradeh

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

लखनऊ:   उत्तर प्रदेश की सीमा से जुड़े कुछ राज्यों में तेजी से कोरोना संक्रमण के मामलों में इजाफा हो रहा है। ऐसे में मुख्यमंत्री योगी ने अधिकारियों को प्रदेश में सख्ती बरतने के निर्देश दिए हैं।

सर्वाधिक आबादी वाले यूपी में मुख्यमंत्री के कुशल प्रबंधन का परिणाम है कि दूसरे राज्यों की अपेक्षा यहां पर सर्वाधिक कोरोना के टेस्ट और टीकाकरण किए जा चुके हैं। प्रदेश की सीमा से जुड़े कुछ राज्यों में तेजी से कोरोना संक्रमण के मामलों में इजाफा हो रहा है। ऐसे में मुख्यमंत्री ल ने अधिकारियों को प्रदेश में सख्ती बरतने के आदेश दिए हैं। प्रदेश सरकार हर स्तर पर सतर्कता बरत रही है।

सरकार से मिली जानकारी के अनुसार एनसीआर के जिलों में भी संक्रमण का प्रभाव देखने को मिल रहा है। बीते 24 घंटे में पूरे प्रदेश में 193 नए केस मिले। जिसमें, गौतमबुद्ध नगर में 66, गाजियाबाद में 36, लखनऊ में 21, मेरठ में 18 और कानपुर नगर में 17 नए केस शामिल हैं। इसी अवधि 159 लोगों ने संक्रमण को मात दी है। सीएम ने इन सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क लगाने और टेस्ट की संख्या को बढ़ाने के निर्देश दिए। प्रदेश में कुल 1621 एक्टिव केस हैं। इसमें 1556 लोग होम आइसोलेशन में हैं।

यूपी में अब तक कोविड टीके की 31 करोड़ 50 लाख डोज लगाई दी जा चुकी है। जबकि 11 करोड़ 15 लाख से अधिक कोविड टेस्ट भी किए जा चुके हैं। 18 से अधिक आयु की पूरी आबादी को टीके की कम से कम एक डोज दी जा चुकी है, जबकि 88.72 प्रतिशत वयस्क लोगों को दोनों खुराक मिल चुकी है। 15 से 17 आयु वर्ग में 95.3 प्रतिशत और 67 प्रतिशत से किशोरों को दोनों डोज दी जा चुकी है। 12 से 14 आयु वर्ग में 63 प्रतिशत से अधिक बच्चे टीकाकवर पा चुके हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 03 May 2022, 01:20:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.