News Nation Logo
Banner

लखनऊ: 'स्वाइन फ्लू' की चपेट में आए 9 छात्र, जांच के लिए टीमें गठित

लखनऊ में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। अब तक यहां आठ स्कूल के नौ बच्चे स्वाइन फ्लू बीमारी के चपेट में गए हैं।

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 08 Aug 2017, 05:50:39 PM
प्रतीकात्मक चित्र

प्रतीकात्मक चित्र

highlights

  • स्वाइन फ्लू के 178 मामले सामने आए, इसमें चार मामले जनपद और चार लखनऊ के हैं
  • अधिकारियों ने स्वाइन फ्लू से पीड़ित बच्चों के स्कूलों की जांच कराने का दिया निर्देश

नई दिल्ली:

इन दिनों देशभर में स्वाइन फ्लू तेजी से बढ़ रहा है। मुंबई के बाद अब यह बीमारी उत्तर प्रदेश के लखनऊ में भी नौ मासूमों को अपनी चपेट में ले चुकी है। राज्य में आठ स्कूलों के नौ बच्चे स्वाइन फ्लू से बीमार हैं। अधिकारियों ने स्वाइन फ्लू से पीड़ित बच्चों के स्कूलों की जांच कराने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही इन स्कूलों की जांच के लिए टीमें भी गठित कर दी गई हैं।

इसे भी पढ़ें : शिया वक्फ बोर्ड ने SC में दिया हलफनामा, कहा-अयोध्या में विवादित भूमि पर बने राम मंदिर

जिले के मुख्य चिकित्साधिकारी जी. एस. वाजपेयी ने जिला विद्यालय निरीक्षक मुकेश कुमार को पत्र लिखकर इन बच्चों की सूची भेजी है। इन सभी बच्चों को स्कूल जाने से रोकने की हिदायत दी गई है, ताकि यह बीमारी दूसरे बच्चों के बीच न फैले। जिला विद्यालय निरीक्षक की ओर से इन विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को भी सूचित कर दिया गया है, जिन स्कूलों के बच्चे स्वाइन फ्लू की चपेट में आए हैं, उन स्कूलों में दो दिनों के भीतर जांच टीमें भेजी जाएंगी।

ये टीम सभी बच्चों की जांच करेंगी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि अन्य बच्चों को यह बीमारी तो नहीं है। इसके अलावा स्कूल प्रशासन को भी इस बीमारी से बचाव के बारे में जागरूक किया जाएगा। इस बीच, ट्रॉमा सेंटर के क्रिटिकल केयर यूनिट में भर्ती एक महिला की भी सोमवार को मौत हो गई।

अब तक राजधानी में स्वाइन फ्लू से चार लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि जिले में यह संख्या आठ हो गई है। अब तक स्वाइन फ्लू के 178 मामले सामने आए हैं। इसमें चार मामले जनपद और चार राजधानी के हैं।

स्वाइन फ्लू से बचने के उपाय

स्वाइन फ्लू के टेस्ट के लिए गले, नाक के द्रव्यों का टेस्ट होता है, जिससे एच1एन1 वायरस की पहचान की जाती है। ऐसा कोई भी टेस्ट डॉक्टर की सलाह के बाद ही करवाएं।

 1. स्वाइन फ्लू के मरीज से क्लोज कॉंटेक्ट से और उनसे हाथ मिलाने से बचें, रेग्यूलर ब्रेक पर हाथ धोते रहें। 

 2. हाइजीन का खासतौर पर ध्यान रखें।

 3. खांसते और छींकते समय टीशू से कवर रखें। इसके बाद टीशू को नष्ट करें।

 4. सांस लेने में परेशानी होने और लगातार हाई फीवर होने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह ले।

 5. स्वाइन फ्लू के लक्षण होने पर मास्क का इस्तेमाल करें और घर में ही रहें।

इसे भी पढ़ें : यूपी कैबिनेट की मीटिंग में यूपीकोका कानून को मिली मंजूरी

First Published : 08 Aug 2017, 04:58:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Swine Flu Lucknow

वीडियो