News Nation Logo
मलेशिया में ओमीक्रॉन के पहले मामले की पुष्टि अमेरिका में ओमीक्रॉन से संक्रमण के मामले बढ़कर 8 हुए केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: CCTV के मामले में दिल्ली दुनिया में नंबर 1 केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: दिल्ली में महिलाएं पूरी तरह सुरक्षित केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: दिल्ली में 1.40 कैमरे और लगाए जाएंगे थोड़ी देर में ओमीक्रॉन पर जवाब देंगे स्वास्थ्य मंत्री IMF की पहली उप प्रबंध निदेशक के रूप में ओकामोटो की जगह लेंगी गीता गोपीनाथ 12 राज्यसभा सांसदों के निलंबन को लेकर विपक्षी दलों के सांसदों का गांधी प्रतिमा के पास विरोध-प्रदर्शन यमुना एक्‍सप्रेसवे पर सुबह सुबह बड़ा हादसा, मप्र पुलिस के दो जवानों समेत चार की मौत जयपुर में दक्षिण अफ्रीका से लौटे एक ही परिवार के चार लोग कोरोना संक्रमित

शांति समझौते के लिए यूएनएससी का एक प्रतिनिधिमंडल दक्षिण सूडान पहुंचा

शांति समझौते के लिए यूएनएससी का एक प्रतिनिधिमंडल दक्षिण सूडान पहुंचा

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 20 Nov 2021, 10:15:01 AM
UNITED NATIONS,

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

जुबा:

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) का एक प्रतिनिधिमंडल देश की सत्ताधारी पार्टी के विभिन्न गुटों के बीच चल रहे संघर्ष को खत्म करने और शांति समझौते के लिए दक्षिण सूडान पहुंचे है।

राष्ट्रपति ने एक बयान में कहा, दक्षिण सूडान के राष्ट्रपति सलवा कीर ने गुरुवार को प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की और सुरक्षा से संबंधित समझौते पर चर्चा की।

यूएनएससी प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि शांति हासिल करना एक सामूहिक जिम्मेदारी है।

उन्होंने शांति और स्थिरता प्राप्त करने के लिए दक्षिण सूडान की सरकार को भारी समर्थन प्रदान करने को कहा।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, पुनर्जीवित शांति समझौते से दक्षिण सूडान की संक्रमणकालीन सरकार का गठन हुआ, जिसका गठन फरवरी 2020 में हुआ था।

हालांकि, प्रक्रिया के लिए सबसे बड़ा झटका सशस्त्र बलों के पुनर्मिलन की आवश्यकता है।

सूडान पीपुल्स लिबरेशन मूवमेंट या आर्मी (एसपीएलएम/ए) की सेनाओं को फिर से एकजुट करने का सौदा शांति समझौते के प्रारंभिक चरण के हिस्से के रूप में लागू होने की उम्मीद थी।

ऐसी आशंकाएं हैं कि शांति समझौते की सुरक्षा व्यवस्था को व्यापक रूप से लागू करने में विफलता से शांति समझौते का खुलासा हो सकता है।

गुरुवार को बैठक में, यूएनएससी प्रतिनिधिमंडलने राष्ट्रपति कीर से आग्रह किया कि वे अगले समीक्षा चरण से पहले पुनर्जीवित शांति समझौते के पहलुओं को प्रभावी ढंग से लागू करें, जो कि 15 अप्रैल, 2022 को किया जाएगा।

बयान के अनुसार, यूएनएससी प्रतिनिधिमंडल दक्षिण सूडान की सरकार की गतिविधियों और आगे के रास्ते पर विकास पर प्रतिबंधों के प्रभावों के बारे में जानकारी लेने आया था।

सुरक्षा परिषद द्वारा एक नई रिपोर्ट जारी करने की उम्मीद है, जो दक्षिण सूडान पर प्रतिबंध हटाने पर विचार करने के लिए एक आधार के रूप में काम करेगी।

दक्षिण सूडान दिसंबर 2013 में राष्ट्रपति कीर और उनके उप, मचर के बीच एक राजनीतिक विवाद के बाद संघर्ष शुरू हुआ।

2015 में हस्ताक्षरित एक शांति समझौता जुलाई 2016 में नए सिरे से हुई हिंसा के बाद खत्म हो गया।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 20 Nov 2021, 10:15:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो