News Nation Logo
उत्तराखंड : बारिश के दौरान चारधाम यात्रा बड़ी चुनौती बनी, संवेदनशील क्षेत्रों में SDRF तैनात आंधी-बारिश को लेकर मौसम विभाग ने दिल्ली-NCR के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया राजस्थान : 11 जिलों में आज आंधी-बारिश का ऑरेंज अलर्ट, ओला गिरने की भी आशंका बिहार : पूर्णिया में त्रिपुरा से जम्मू जा रहा पाइप लदा ट्रक पलटने से 8 मजदूरों की मौत, 8 घायल पर्यटन बढ़ाने के लिए यूपी सरकार की नई पहल, आगरा मथुरा के बीच हेली टैक्सी सेवा जल्द महाराष्ट्र के पंढरपुर-मोहोल रोड पर भीषण सड़क हादसा, 6 लोगों की मौत- 3 की हालत गंभीर बारिश के कारण रोकी गई केदारनाथ धाम की यात्रा, जिला प्रशासन के सख्त निर्देश आंधी-बारिश के कारण दिल्ली एयरपोर्ट से 19 फ्लाइट्स डाइवर्ट
Banner

यूपी में छह गुना बढ़ी आयकर देने वालों की संख्या : निर्मला सीतारमण

यूपी में छह गुना बढ़ी आयकर देने वालों की संख्या : निर्मला सीतारमण

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 26 Nov 2021, 09:35:01 PM
Union Miniter

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

लखनऊ:   केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश को बड़ा तोहफा दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ लखनऊ में आयकर विभाग के नवनिर्मित कार्यालय प्रत्यक्ष कर भवन का उद्घाटन किया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस अवसर पर यूपी के टैक्स कलेक्शन को जमकर सराहा। उन्होंने कहा कि हमने आज जिस भवन का उदघाटन किया है, उस भवन का निर्माण तीन साल में हुआ है। प्रदेश में बीते 15 साल से भवन निर्माण पर कोई काम नहीं हुआ। इस भवन के लिए 2002 में जमीन खरीदी गयी। इतने लंबे समय के बाद भी जब इस पर कोई काम नहीं हुआ तो हमारी सरकार के कार्यकाल में यह काम हो गया। नरेंद्र मोदी सरकार ने काम होगा इस धारणा को बदला। अब समय पर काम होने लगा है। इसी कारण यूपी में विकास का काम हो रहा है।

सीतारमण ने कहा कि यूपी टैक्स कलेक्शन में तेजी से बढ़ा है। यूपी ईस्ट में 21.83 लाख लोगों ने 31 मार्च 2021 तक रिटर्न फाइल किया। इसके साथ ही 1.63 लाख नये लोग जुड़े हैं। 2016 में 3.80 लाख लोगों ने रिटर्न फाइल किया था। अब तो छह गुना रिटर्न बढ़ा है। उन्होंने कहा कि टैक्स कलेक्शन बढ़ने से डेवलपमेंट बढ़ेगा। यूपी में मार्च 2022 तक गरीबों को फ्री में राशन दिया जायेगा। प्रदेश सरकार ने इसके लिए 79,000 करोड़ का अनाज खरीदा है। उन्होंने कहा कि यूपी को केंद्र सरकार की ओर से जो धनराशि मार्च के महीने में मिलने वाली थी, उसे हमने अभी जारी कर दिया है। जिससे कि प्रदेश में अब स्थापना परियोजनाओं में बाधा न आये।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने केंद्र सरकार की आयकर विभाग में पहचान विहीन पद्धति की पारदर्शिता नीति का उल्लेख करते हुए आयकर दाताओं को बिना कार्यालय गये कार्यों के संपादन व निष्पादन का उल्लेख किया। इस पहचान विहीन पद्धति से आयकर दाताओं को काफी सहूलियत हो रही है। प्रत्यक्ष कर भवन में स्थापित आयकर सेवा केंद्र के विषय में वित्त मंत्री ने कहा इससे आयकर दाताओं को अच्छी सेवा मिलेगी। उनकी विभिन्न आयकर संबंधी समस्याओं का त्वरित निराकरण होगा। उन्होंने विवाद से विश्वास तक योजना का उल्लेख करते हुए कहा कि इससे लंबित मुकदमेबाजी में काफी राहत मिली है और आयकर दाताओं ने इस योजना का भरपूर लाभ उठाया है। जिससे अपीलों में मौद्रिक सीमा की वृद्धि से मुकदमे बाजी में काफी कमी हुई है। वित्त मंत्री ने ईमानदारी का सम्मान संकल्पना पर आधारित करदाताओं के लिए नागरिक चार्टर लागू करने का उल्लेख भी किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मौके पर कहा कि लोग टैक्स देना चाहते हैं लेकिन इंस्पेक्टर राज की वजह से डरते हैं। उन्होंने कहा कि निर्मला सीतारमण ने रक्षा मंत्री रहने के दौरान यूपी को डिफेंस कॉरीडोर की सौगात दी थी जिसका अलीगढ़ और झांसी नोड शुरू भी हो चुका है। यूपी को डिफेंस कॉरिडोर में पचास हजार करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव मिले हैं। यूपी के दो क्षेत्रों पूर्वांचल व बुंदेलखंड को बेहतर रोड कनेक्टिविटी देने के लिए हमने दोनों क्षेत्रों के लिए एक्सप्रेस वे बनाया है। इसमें से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुल्तानपुर में 16 नवंबर को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण कर चुके हैं। बुंदेलखंड एकसप्रेस वे का भी लोकार्पण जल्दी होगा, जबकि बागपत से प्रयागराज तक बनने वाले गंगा एक्सप्रेसवे का शिलान्यास भी अगले महीने होगा। उन्होंने कहा कि आयकर भवन ग्रीन बिल्डिंग के मानकों को पूरा करता है। इसमें रेन वाटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था की गयी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी में रेवेन्यू दोगुना हुआ है। हमने यहां पर एनफोर्समेंट के बजाय संवाद से रेवेन्यू बढ़ाया है। आदमी टैक्स देना चाहता है। कहीं पर भर टैक्स के सरलीकरण किया जाए तो रेवेन्यू बढ़ेगा। यूपी में ढेर सारी संभावनाएं हैं। पहले लोग निवेश से डरते थे। आज यूपी की कानून व्यवस्था नजीर है। प्रदेश ने सभी सुधारों को आगे बढ़ाया। अब यूपी की जीडीपी को बढ़ाने से प्रति व्यक्ति आय बढ़ी है। यूपी में तीन लाख करोड़ रुपये से ज्यादा के निवेश प्रस्ताव जमीन पर उतरे। यूपी में कोरोना काल में 66,000 करोड़ रुपये का निवेश आया। आगे भी यहां पर बातचीत से रेवेन्यू बढ़ेगा।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 26 Nov 2021, 09:35:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.