News Nation Logo
Banner

शिवसेना-NCP और कांग्रेस की सरकार बनने से पहले नितिन गडकरी ने कर दी ये बड़ी भविष्यवाणी

शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाने जा रहे हैं. लेकिन इस बीच केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने इस सरकार के भविष्य की भविष्यवाणी कर दी है.

By : Nitu Pandey | Updated on: 22 Nov 2019, 03:48:52 PM
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Photo Credit: ANI)

highlights

  • महाराष्ट्र में शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी गठबंधन को लेकर नितिन गडकरी ने की भविष्यवाणी
  • सरकार बनती है तो ज्यादा दिन तक नहीं चलेगी, बोले नितिन गडकरी
  • बीजेपी-शिवसेना का गठबंधन हिंदुत्व पर आधारित था, जिसके टूटने से महाराष्ट्र को नुकसान हुआ है

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर रास्ता करीब-करीब साफ हो गया है. शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाने जा रहे हैं. लेकिन इस बीच केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने इस सरकार के भविष्य की भविष्यवाणी कर दी है. बीजेपी नेता (BJP Leader) नितिन गडकरी ने कहा है कि यह शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन वाली सरकार ज्यादा दिनों तक नहीं चलेगी.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Union Minister Nitin Gadkari) ने कहा, 'कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी के बीच वैचारिक मतभेद है. सरकार बनने के बाद भी सरकार ज्यादा दिनों तक नहीं चलेगी.'

केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा, 'बीजेपी और शिवसेना का गठबंधन हिंदुत्व की विचारधारा पर आधारित था और आज भी हमारे बीच वैचारिक मतभेद नहीं है. इस तरह के गठबंधन को तोड़ना न केवल देश के लिए बल्कि हिंदुत्व के लिए और महाराष्ट्र के लिए भी एक नुकसान है.

इसे भी पढ़ें:कर्नाटक उपचुनाव से पहले भाजपा ने 2 बागियों को निष्कासित किया

नितिन गडकरी ने आगे कहा कि यह (शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस) अवसरवाद का गठबंधन है, वे महाराष्ट्र को एक स्थिर सरकार नहीं दे पाएंगे.

बता दें कि महाराष्ट्र में कई दिनों की माथापच्ची के बाद सरकार गठन की रूपरेखा सामने आ गई है.

सूत्रों मानें तो महाराष्‍ट्र में शिवसेना (Shiv Sena) का मुख्‍यमंत्री होगा, जैसा कि अनुमान था. सरकार में दूसरे नंबर के मंत्रालय यानी गृह (Home) पर शरद पवार (Sharad Pawar) की पार्टी एनसीपी (NCP) का कब्‍जा होगा तो कांग्रेस के हिस्‍से में राजस्‍व मंत्रालय (Revenue Ministry) आया है.

यह भी पढ़ें:इकबाल मिर्ची से जुड़े इलेक्टोरल बांड पर कांग्रेस ने भाजपा पर बोला हमला

अभी तक ढाई-ढाई साल के लिए रोटेशनल सीएम को लेकर कोई बात निकलकर सामने नहीं आई है. पहले कहा जा रहा था कि कांग्रेस ने रोटेशनल सीएम पद को लेकर एनसीपी से दावा करने को कहा है, लेकिन बताया जा रहा है कि एनसीपी को रोटेशनल सीएम पद पर नजर नहीं है.

इधर, शुक्रवार को शिवसेना विधायकों को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा बीजेपी ने हमे धोखा दिया,हमे NDA से बाहर निकाला. मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने दीपावली के समय 50-50 फॉर्मूले पर झूठ बोला है. दूसरे राज्य में यानी कश्मीर में pdp और कुछ राज्यो में विपरीत विचारधारा के साथ सरकार बना सकते हैं, मुख्यमंत्री पद के लिये समझौता कर सकते है,लेकिन हमारे साथ ऐसा नही करते. गठबंधन टूटा तो इसे रोकने के लिये अमित शाह और प्रधानमंत्री ने पहल नहीं की. हमे NDA तक से बाहर निकाला, इसीलिए शिवसेना को ये निर्णय लेने पर मजबूर होना पड़ा. इसी के साथ उन्होंने ये भी कहा कि महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री शिवसेना से ही होगा.

First Published : 22 Nov 2019, 03:45:26 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो