logo-image
लोकसभा चुनाव

NEET पेपर लीक कांड पर धर्मेंद्र प्रधान का बड़ा बयान, नहीं रद्द होगी परीक्षा, जांच के लिए हाई लेवल कमेटी गठित

नीट पेपर लीक कांड को लेकर देशभर में हंगामा जारी है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इस मसले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की है, जिसमें उन्होंने कहा कि छात्रों के हितों के लिए सरकार प्रतिबद्ध है. पारदर्शिता से किसी भी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा.

Updated on: 21 Jun 2024, 06:24 AM

New Delhi:

Neet Paper Leak Row: नीट पेपर लीक कांड को लेकर देशभर में जारी हंगामे के बीच केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बड़ा बयान दिया है. धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि नीट परीक्षा रद्द नहीं होगी. सरकार छात्रों के हितों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है. पारदर्शिता से किसी भी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा. इस पूरे विवाद की जांच करने के लिए एक हाई लेवल जांच कमेंटी बनाई गई है. दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. बता दें कि 5 मई को नीट यूजी एग्जाम को नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने देशभर में कराया था. इस परीक्षा में लगभग 24 लाख स्टूडेंट शामिल हुए थे. लेकिन बाद में पेपर लीक समेत अन्य गड़बड़ियों के चलते इस देशभर में स्टूडेंट्स प्रदर्शन कर रहे हैं.

दोषियों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई

धर्मेंद्र प्रधान ने आगे कहा कि, 'नीट एग्जाम को लेकर हम बिहार सरकार के संपर्क में हैं. हमें पटना से कुछ खबरें मिल रही हैं. पुलिस जांच कर रही है और उनकी ओर से एक रिपोर्ट पेश की जाएगी. दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.' शिक्षा मंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि बिहार पेपर लीक से उन लाखों छात्रों पर असर नहीं पड़ना चाहिए, जिन्होंने ईमानदारी से परीक्षा दी थी, इसलिए नीट यूजी एग्जाम 2024 को रद्द करने का फैसला नहीं लिया गया है.

वहीं, यूजीसी नेट के एग्जाम रद्द किए जाने पर शिक्षा मंत्री ने कहा, 'जैसे ही यह स्पष्ट हो गया कि डार्क नेट पर यूजीसी-नेट का प्रश्नपत्र यूजीसी-नेट के मूल प्रश्नपत्र से मेल खाता है, हमने परीक्षा रद्द करने का फैसला किया.'

नीट पेपर विवाद पर गरमाई सियासत

नीट पेपर विवाद पर सियासत भी गरमाई हुई है. कांग्रेस पार्टी मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं. भारतीय युवा कांग्रेस ने गुरुवार को नीट यूजी और नेट परीक्षाओं में कथित अनियमितताओं के खिलाफ केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के आवास के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. भारतीय युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ मुर्दाबाद जैसे नारे लगाए. इस दौरान पुलिस प्रदर्शनकारियों को काबू करते हुए नजर आई.

यहां देखें वीडियो

उम्मीदवारों का प्रदर्शन जारी

नीट एग्जाम में गड़बड़ियों को लेकर इस एग्जाम को देने वाले कैंडिडेट्स का प्रदर्शन जारी है. वे सड़कों पर उतर आए हैं. इस मामले पर एक कैंडिडेट ने कहा कि जब समाधान नहीं निकलता है तब हम अपने तरीके से विरोध जताते रहेंगे.

काउंसलिंग रोकने से SC का फिर इनकार

वहीं, आज सुप्रीम कोर्ट में भी इस मामले को लेकर अहम सुनवाई हुई. कोर्ट ने एक बार फिर NEET UG काउंसलिंग पर रोक लगाने से इनकार किया है. कोर्ट ने कहा है कि आखिरी सुनवाई के बाद परीक्षा कैंसिल होती है तो काउंसलिंग भी कैंसिल हो जाएगी. साथ ही कोर्ट ने राजस्थान, कलकत्ता और बॉम्बे हाईकोर्ट में नीट यूजी केस में दायर याचिकाओं को क्लब कर दिया है. NTA ने यह मांग की थी. याचिकाकर्ताओं ने एग्जाम में 620 से ज्यादा स्कोर वाले स्टूडेंट्स का बैकग्राउंड चेक करने, फॉरेंसिक जांच करने और CBI जांच की मांग की थी.