News Nation Logo
Banner

बड़ी खबर: कश्मीर में हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने किया गिरफ्तार

Kashmir में गिरफ्तार आतंकियों के पास से AK-47 एवं अन्य कई हथियार मिले हैं.

By : Vikas Kumar | Updated on: 14 Oct 2019, 12:43:58 PM
कश्मीर में दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने किया गिरफ्तार

कश्मीर में दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने किया गिरफ्तार (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • जम्मू कश्मीर में भारतीय सुरक्षाबलों को मिली बड़ी सफलता. 
  • सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को किया गिरफ्तार. 
  • दोनों आतंकियों को कश्मीर के गंदेरबाल एरिया से गिरफ्तार किया गया है. 

नई दिल्ली:

बड़ी खबर: जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में भारतीय सुरक्षाबलों (Indian Security Forces) को बड़ी सफलता मिली है. सुरक्षाबलों ने कश्मीर (Kashmir) से दो आतंकियों (Terrorist) को गिरफ्तार किया है. आतंकियों के पास से AK-47 एवं अन्य कई हथियार मिले हैं. जानकारी है कि दोनों आतंकियों को कश्मीर के गंदेरबाल एरिया (Ganderbal Area)से गिरफ्तार किया गया है. बताया जा रहा है कि गिरफ्तार आतंकी संगठन (terrorist group) हिजबुल मुजाहिदीन से ताल्लुख रखते हैं.

पिछले दिनों ही  जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के श्रीनगर (Srinagar) में कड़ी सुरक्षा के बावजूद हरि सिंह हाइट स्ट्रीट के पास आतंकियों ने ग्रेनेड हमला किया था. इस अटैक में 5 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. इसी के साथ पाकिस्तान सीमा पार आतंकवाद फैलाने के लिए अब हवाई मार्ग का भी प्रयोग कर रहा था. हाल ही में पंजाब और राजस्थान से सटी सीमा पर पाकिस्तान का ड्रोन देखा गया था.

यह भी पढे़ं: पाकिस्तान की नई चाल, पंजाब में आतंकवाद फैलाने की रच रहा साजिश- NIA

बता दें कि 15 दिनों पहले भारतीय सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया था. जम्मू कश्मीर राज्य में आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से अभी तक लागू रोक में से ज्यादातर को खत्म कर दिया गया है. 14 अक्टूबर को राज्य में पोस्ट पेड मोबाइल सेवाओं को भी चालू कर दिया गया है. जबकि इसके पहले राज्य को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया था. 

यह भी पढे़ं: LoC पर पाकिस्तानी आतंकियों की घुसपैठ रोकने के लिए बढ़ाए गए भारतीय सैनिक

गौरतलब है कि पाकिस्तान की तरफ से हो रही लगातार घुसपैठ की कोशिशों के चलते भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर बीते दो महीनों में अधिसंख्य सैनिकों को तैनात किया था. 

कश्मीर में व्याप्त शांति और सुरक्षाबलों की मुस्तैदी के चलते आतंकी राज्य में कुछ भी नहीं कर पा रहे थे. सूत्रों के हवाले से खबर थी कि राज्य में आतंकवादियों के पास से हथियार भी खत्म हो चले थे. जबकि आतंकवादी कश्मीर की शांति को भंग करने के लिए कई प्रयास कर चुके हैं, जिन्हें हमारे सुरक्षाबलों ने नाकाम कर दिया है.

यह भी पढे़ं: पाकिस्तान के कश्मीर पर नए बहाने से भड़के शशि थरूर, सर्बिया में लगाई लताड़

भारत ने जम्मू कश्मीर राज्य का विशेष दर्जा 5 अक्टूबर 2019 को खत्म कर दिया था और पूरे राज्य को छावनी में बदल दिया था. इसके बाद से आतंकियों की घुसपैठ भारत के अंदर नहीं हो पा रही थी. इसे देखते हुए बौखलाया पाकिस्तान भारतीय सीमा पर सीजफायर का उलंग्धन कर अपने ट्रेंड आतंकियों को भारत के अंदर घुसाने के फिराक में लगा हुआ था. जम्मू कश्मीर पर भारत की केंद्र सरकार को कई विपक्षी नेताओं का भी समर्थन मिला है, जिसमें सबसे ऊपर नाम आता है-डॉ. शशि थरुर का.

First Published : 14 Oct 2019, 11:50:08 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×