News Nation Logo
Banner

'कश्मीर' को लेकर तुर्की ने दिया बड़ा बयान, इमरान खान भी सुनकर हुए खुश

एर्दोगान ने कहा कि कश्मीर में जुल्म हो रहा है और वो चुप नहीं रहेंगे. कोई जमीन पर खींची हुई सीमा इस्लाम मानने वालों को बांट नहीं सकती हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 14 Feb 2020, 03:44:57 PM
तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयप एर्दोगान

तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयप एर्दोगान (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

मलेशिया के बाद अब तुर्की ने भी कश्मीर मुद्दे पर टांग अड़ाई है. इतना ही नहीं कश्मीर को लेकर उन्होंने बिना शर्त इमरान खान को मदद करने का वादा भी कर दिया. दरअसल, तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयप एर्दोगान (Recep Tayyip Erdoğan)पाकिस्तान के दौरे पर हैं. यहां उन्होंने पाकिस्तान के दोनों सदनों को संबोधित किया.

अपने संबोधन में एर्दोगान ने कहा कि कश्मीर में जुल्म हो रहा है और वो चुप नहीं रहेंगे. कोई जमीन पर खींची हुई सीमा इस्लाम मानने वालों को बांट नहीं सकती हैं. इसके साथ ही उन्होंने पाकिस्तान के पीएम इमरान खान को कश्मीर मुद्दे पर बिना शर्त समर्थन देने का वादा कर डाला.

तुर्की के राष्ट्रपति अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर भी वार किया. पाकिस्तान के सदन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मध्य-पूर्व में अमेरिका का शांति योजना दरअसल आक्रमणकारी नीयत है. जहां भी मुसलमान मारे जा रहे हैं वहां मुस्लिम देशों को एकजुट होने की जरूरत है.

इसे भी पढ़ें: पुलवामा हमले की बरसी पर खौफ में पाकिस्‍तान, जताई हमले की आशंका

आतंकवाद का पनाहगार पाकिस्तान को एर्दोगान ने पीड़ित बता दिया. तुर्की के राष्ट्रपति ने पाकिस्तान को आतंकवाद का सबसे बड़ा भुक्तभोगी बता दिया. इसके साथ ही फाइनेन्सियल एक्शन टास्क फोर्स ( FATF ) की बैठक में भी बिना शर्त पाकिस्तान का समर्थन करने की बात कही.

तुर्की के राष्ट्रपति यहीं नहीं रुकें. उन्होंने का पाकिस्तान को अपना दूसरा घर बता दिया. एर्दोगान ने कहा कि आपका दर्द मेरा दर्द है. हमारी दोस्ती प्यार और सम्मान पर आधारित है. पाकिस्तान तरक्की की तरफ है और ये कुछ दिनों में नहीं हो सकता. इसमें वक्त लगेगा और तुर्की इसमें सहयोग करता रहेगा.

और पढ़ें:पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की वाशिंगटन यात्रा की 20वीं वर्षगांठ पर भारत आ रहे डोनाल्‍ड ट्रंप

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान भी तुर्की के राष्ट्रपति को खुश करने के लिए उनकी गाड़ी को चलाकर राष्ट्रपति भवन तक ले आएं. इमरान खान खुद एर्दोगान को लेने एयबेस पहुंच गए. गार्ड ऑफ ऑनर देने के बाद जब एर्दोगान राष्ट्रपति आरिफ अल्वी के घर के लिए रवाना हो रहे थे, तभी इमरान खान कार की ड्राइविंग सीट पर बैठ गए और एर्दोगान को लेकर निकल गए.

First Published : 14 Feb 2020, 03:44:57 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Kashmir Turkey Imran Khan
×