News Nation Logo
Banner

मिर्जा गालिब को भारत रत्न दिए जाने की तृणमूल कांग्रेस ने राज्यसभा में उठाई मांग

राज्यसभा में सोमवार को तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) के एक सदस्य ने उर्दू के महान शायर मिर्जा गालिब (Mirza Galib) को भारत रत्न (Bharat Ratna) दिए जाने की मांग की.

Bhasha | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 16 Mar 2020, 03:49:38 PM
mirza ghalib

मिर्जा गालिब। (Photo Credit: फाइल फोटो।)

नई दिल्ली:  

राज्यसभा में सोमवार को तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) के एक सदस्य ने उर्दू के महान शायर मिर्जा गालिब (Mirza Galib) को भारत रत्न (Bharat Ratna) दिए जाने की मांग की. तृणमूल कांग्रेस सदस्य मोहम्मद नदीमुल हक ने शून्यकाल में विशेष उल्लेख के जरिए यह मांग की. उन्होंने कहा कि आगरा में पैदा हुए ग़ालिब ने 11 साल की उम्र से ही गद्य तथा पद्य लिखना शुरू कर दिया था. गालिब को भारत रत्न दिए जाने की मांग करते हुए हक ने गजल क्षेत्र में उनके योगदान का जिक्र किया.

यह भी पढ़ें- BIG NEWS: सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया के दोषी मुकेश की अर्जी खारिज की, 20 मार्च को लगेगी फांसी

उन्होंने कहा कि गालिब को जो सम्मान मिलना चाहिए था, वह उन्हें नहीं मिला. शून्यकाल में ही बीजद के प्रसन्न आचार्य ने कोयला रॉयल्टी में संशोधन की मांग करते हुए कहा कि लंबे समय से इसमें कोई संशोधन नहीं हुआ है. सपा के सुखराम सिंह यादव ने टॉल टैक्स से जुड़ा मुद्दा उठाते हुए कहा कि कई बार सांसदों को असहज स्थिति का सामना करना पड़ता है.

यह भी पढ़ें- Coronavirus: कोरोना वायरस तो नहीं कर रहा आम और खास में भेद, फिर यहां ये भेद क्यों

उन्होंने मांग की कि टॉल टैक्स की जगह गाड़ियों को खरीदने के समय ही एकमुश्त कर ले लिया जाना चाहिए. भाजपा के विजयपाल सिंह तोमर ने किसान क्रेडिट कार्डों से जुड़ा मुद्दा उठाते हुए इसकी सीमा मौजूदा तीन लाख रुपये से बढ़कार पांच लाख रुपये करने तथा इसकी अवधि पांच साल करने की मांग की.

यह भी पढ़ें- शेयर बाजार में हाहाकार, सेंसेक्स 2,700 प्वाइंट गिरकर हुआ बंद, निफ्टी 9,200 के नीचे

तोमर ने उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में एक किसान द्वारा बैंक के सामने आत्महत्या किए जाने का मुद्दा भी उठाया. उन्होंने आरोप लगाया कि किसानों पर बैंकों द्वारा दबाव बनाया जाता है. कांग्रेस के पीएल पुनिया ने अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति से जुड़ा मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि संबंधित नियमों में बदलाव किया गया है जिससे लाखों छात्रों के प्रभावित होने का खतरा पैदा हो गया है.

First Published : 16 Mar 2020, 03:49:38 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.