News Nation Logo

साक्षरता परीक्षा टॉप करने वाली 96 वर्षीय कार्त्यायिनी अम्मा को मिला लैपटॉप

साक्षरता मिशन के तहत परीक्षा देने वाली 96 वर्षीय कार्त्यायिनी अम्मा के परीक्षा में टॉप करने पर उन्‍हें राज्‍य सरकार की ओर से लैपटॉप दिया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Vinay Mishra | Updated on: 08 Nov 2018, 10:08:55 AM
Karthiyani Amma got the laptop (ANI twitte photo)

नई दिल्‍ली:  

साक्षरता मिशन के तहत परीक्षा देने वाली 96 वर्षीय कार्त्यायिनी अम्मा के परीक्षा में टॉप करने पर उन्‍हें राज्‍य सरकार की ओर से लैपटॉप दिया गया है. यह लैपटॉप उन्‍हें राज्‍य के शिक्षा ने उनके घर पर जाकर दिया है. इस परीक्षा में उन्‍होंने 98 फीसदी नंबर प्राप्‍त किए थे. परीक्षा में टॉप करने के बाद उन्‍होंने इच्‍छा जताई थी कि उनके पास भी एक कंप्‍यूटर हो, जा आज पूरी हो गई.

अक्षरलक्षम योजना के तहत लिया भाग
केरल के अलप्पुझा में साक्षरता मिशन वाली योजना 'अक्षरलक्षम' के तहत आयोजित चौथी कक्षा की टेस्ट परीक्षा में शामिल 96 वर्षीय कार्त्यायिनी अम्मा इस बात से नाखुश थी कि क्योंकि उसने जितनी पढ़ाई की थी उतने ही प्रश्न परीक्षा में पूछे गए थे. अम्मा की शिक्षिका और साथी ने यह जानकारी दी है. खास बात ये है कि कार्त्यायिनी अम्मा ने 96 वर्ष की उम्र में अपने जीवन की न सिर्फ पहली परीक्षा दी, बल्कि उन्होंने इंग्लिश रीडिंग टेस्ट में पूरे नंबर भी प्राप्त किए.

इंग्लिश रीडिंग में लाई फुल मार्क्स
अलप्पुझा के कानिचेनेल्लुर सरकारी स्कूल में रविवार को संचालित की गई इस परीक्षा में कार्त्यायिनी अम्मा जब हॉल में दाखिल हुई तो उनके चेहरे पर गजब का आत्मविश्वास झलक रहा था. शिक्षिका ने बताया कि परीक्षा में कुल 45 विद्यार्थी शामिल हुए थे और हॉल में बैठी वह सबसे वृद्ध महिला थी. परीक्षा तीन चरणों में आयोजित की गई थी- पहली 30 नंबर की रीडिंग टेस्ट, 40 नंबर की मलयालम लेखन और 30 नंबर गणित के. जिसमें अम्मा ने रीडिंग टेस्ट में पूरे 30 में से 30 नंबर लेकर आई.

अगले साल चौथी कक्षा में लेंगी दाखिला
रिपोर्ट्स के मुताबिक, पूरे केरल में इस साल 45,000 सीनियर सिटिजन ने साक्षरता मिशन के टेस्ट परीक्षा में भाग लिया था. कार्त्यायिनी अम्मा ने इस साल जनवरी में साक्षरता मिशन में पंजीकरण करवाया था. बतााया जाता है कि लिखित परीक्षा में अगर वह पास कर जाती है तो वह अगले साल चौथी कक्षा में प्रवेश लेंगी. 96 वर्षीय वृद्ध महिला को पिछले 6 महीने से मलयालम और गणित की ट्यूशन ले रही थी. रीडिंग टेस्ट पास करने के बदले एक मलयालम चैनल के द्वारा उन्हें एक पुस्तक भेंट स्वरूप दी गई. अम्मा का कहना है कि वह चौथी कक्षा की पढ़ाई शुरू करने से पहले अपनी अंग्रेजी का अभ्यास जारी रखना चाहती है.

First Published : 08 Nov 2018, 10:04:31 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.