News Nation Logo

Toolkit Case : Twitter के दफ्तर पर छानबीन कर रही दिल्ली पुलिस

कोरोना वायरस को लेकर जारी कथित टूलकिट मामले में पुलिस की जांच तेज हो गई है. इस मामले में पहले माइक्रोब्लॉगिंग साइट टि्वटर को नोटिस भेजने के बाद अब दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने उसके दफ्तर पर पहुंचकर छानबीन की है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 24 May 2021, 10:21:22 PM
twiter

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit: File)

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस को लेकर जारी कथित टूलकिट मामले में पुलिस की जांच तेज हो गई है. इस मामले में पहले माइक्रोब्लॉगिंग साइट टि्वटर को नोटिस भेजने के बाद अब दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने उसके दफ्तर पर पहुंचकर छानबीन की है. दिल्ली पुलिस की एक टीम सोमवार को ट्विटर के दिल्ली और हरियाणा स्थित दफ्तर पर पहुंची. दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने हरियाणा के गुरुग्राम और दिल्ली के लाडो सराय क्षेत्र में स्थित ट्विटर दफ्तर पर पहुंचकर जांच-पड़ताल की है. टूलकिट मामले को लेकर टि्वटर पर शेयर किए गए पोस्ट्स के नीचे मैनिपुलेटेड मीडिया लिखने को लेकर पुलिस ने यह कार्रवाई की. इसी मामले में स्पेशल सेल ने टि्वटर को नोटिस भेजकर जवाब मांगा था.

इससे पहले दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के सूत्रों के अनुसार, इस मामले की तफ्तीश शुरू कर दी गई है. हालांकि, अभी मुकदमा दर्ज नहीं किया गया था. आपको बता दें कि कोरोना टूलकिट मामले को लेकर भारतीय जनता पार्टी के कई नेताओं ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट पर पोस्ट शेयर किए थे. टूलकिट को लेकर कई पोस्ट्स में कांग्रेस के ऊपर आरोप लगाए गए थे, जिसके खिलाफ कांग्रेस ने पुलिस से शिकायत भी की थी. इस पर ऐसे पोस्ट्स के नीचे टि्वटर ने 'मैनिपुलेटेड मीडिया' का टैग लगाया था. इस पर बीजेपी नेताओं के साथ-साथ केंद्र की मोदी सरकार ने भी आपत्ति जताई थी.

इस मामले को लेकर केंद्र ने कहा था कि टि्वटर की इस हरकत से माइक्रोब्लॉगिंग साइट के मध्यस्थ और तटस्थ रहने की भूमिका पर सवाल उठते हैं. देश में केंद्र ने टूलकिट को कोरोना रोकथाम की कोशिशों को बदनाम करने की साजिश करार देते हुए कहा था कि जब तक इस मामले की जांच की जा रही है तब तक टि्वटर पोस्ट्स के नीचे लगाए गए मैनिपुलेटेड मीडिया का टैग हटाए. सरकार ने ट्विटर को स्पष्ट रूप से कहा था कि ट्विटर को यह तय नहीं करेगा, बल्कि जांच एजेंसियों की रिपोर्ट से पता चलेगा कि यह कंटेंट सही है या गलत. इस प्रकरण की जांच जब तक हो रही है, तब तक ट्विटर अपना फैसला नहीं दे.

सपा के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि ट्विटर के दिल्ली व गुरुग्राम के ऑफिस पर छापा मरवाना भाजपा सरकार की गिरती हुई वैश्विक छवि को और नीचे गिराएगा. ये एक अलोकतांत्रिक व घोर निंदनीय कृत्य है. भाजपाई अपने ही बिछाये झूठ के जाल में फंस गए हैं. ये भूल गए हर कोई दाना नहीं चुगता. इस बार बहेलिए को चिड़िया ले उड़ी.

HIGHLIGHTS



कोरोना वायरस को लेकर जारी कथित टूलकिट मामले में पुलिस की जांच तेज
टूलकिट के खिलाफ कांग्रेस ने पुलिस से शिकायत भी की थी
बीजेपी नेताओं के साथ-साथ केंद्र की मोदी सरकार ने भी आपत्ति जताई थी

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 24 May 2021, 10:13:14 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.