News Nation Logo

कांग्रेस बोली- PM नरेंद्र मोदी के भाषण में कोई सार नहीं था, क्योंकि... 

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए जब पीएम मोदी ने कहा कि एमएसपी जारी रहेगा और 80 करोड़ लोगों के लिए मासिक राशन योजना भी जारी रहेगी तो अपनी प्रतिक्रिया में कांग्रेस ने कहा कि उनके भाषण में कोई सार नहीं था.

IANS | Updated on: 08 Feb 2021, 10:55:22 PM
pm modi1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एमएसपी जारी रहेगा और 80 करोड़ लोगों के लिए मासिक राशन योजना भी जारी रहेगी तो अपनी प्रतिक्रिया में कांग्रेस ने कहा कि उनके भाषण में कोई सार नहीं था और उन्होंने केवल लोगों को गुमराह करने की कोशिश की है. इससे पहले मोदी ने कहा कि कृषि सुधारों को एक मौका दिया जाना चाहिए और एमएसपी था और भविष्य में भी जारी रहेगा. मैं सदन में भी कहता हूं कि 80 करोड़ लोगों तक राशन योजना जारी रहेगी.

कांग्रेस ने कहा कि कृषि कानूनों पर सदन में आपत्तियां प्रक्रियागत थीं और यहां तक कि विपक्ष भी इस बात को स्वीकार करता है कि देश को कृषि सुधारों की जरूरत है. उन्होंने इस पर पूर्व प्रधानमंत्रियों चरण सिंह और मनमोहन सिंह को उद्धृत किया- मनमोहन सिंह जी यहां हैं. मैं कृषि कानूनों पर यू-टर्न लेने वालों के लिए उनका उद्धरण पढ़ूंगा और शायद उनसे सहमत होऊंगा. 1930 के दशक में स्थापित किए गए विपणन प्रणाली ने हमारे किसानों को अपनी उपज को वहां बेचने से रोक दिया जहां उन्हें अधिक पैसे मिलते हैं. यह बात मनमोहन सिंहजी ने कही है.

संसद के बाहर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि हमें उम्मीद थी कि वह तीन कृषि कानूनों पर कुछ चर्चा करेंगे, जिस पर किसान पिछले 75 दिनों से विरोध कर रहे हैं.

राज्यसभा में पीएम मोदी का विपक्ष पर हमला

सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने किसान आंदोलन को लेकर राज्यसभा में विपक्ष पर जमकर हमला बोला. राष्ट्रपति के अभिभाषण (President Speech) का जवाब देते हुए पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा कि हमने सुना था कि देश में बुद्धिजीवी होते हैं लेकिन देश में कुछ 'आंदोलनजीवी' भी पैदा हो गए हैं. पीएम ने आगे कहा कि ये 'आंदोलनजीवी' देश में कहीं भी कुछ हो बिना बुलाए ही अपने आप वहां पहुंच जाते हैं. पीएम ने हमला जारी रखते हुए आगे कहा कि ये 'आंदोलनजीवी' कभी पर्दे के पीछे और कभी फ्रंट पर तैनात होते हैं. हमें ऐसे लोगों से बचकर रहना होगा. ये 'आंदोलनजीवी' लोग अपने दम पर कोई आंदोलन नहीं कर सकते हैं लेकिन कोई आंदोलन चला रहा हो तो ये वहां पहुंच जाते हैं. पीएम ने आगे कहा कि, ये 'आंदोलनजीवी' ही परजीवी हैं जो सभी जगहों पर उपलब्ध हैं.

पीएम मोदी इतने पर ही चुप नहीं हुए और अपना हमला अंर्राष्ट्रीय साजिशों पर जारी रखते हुए कहा कि एक नया एफडीआई (FDI) मैदान में आया है इसका पूरा नाम है फॉरेन डेस्ट्रक्टिव आइडियोलॉजी (Foreign destructive ideology). पीएम मोदी ने कहा कि देश को इस एफडीआई से भी बचाने की जरूरत है. पीएम मोदी ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत किसी सरकार नहीं बल्कि देश का आंदोलन है.

कुछ लोग देश को अस्थिर करना चाहते हैंः पीएम मोदी

पीएम मोदी ने आगे कहा कि कुछ ऐसे लोग भी देश में हैं जो देश को अस्थिर करना चाहते हैं. उन्होंने सिख भाईयों पर बोलते हुए कहा कि जब पंजाब का बंटवारा हुआ, पंजाब में साल 1984 में दंगे हुए, कश्मीर से कश्मीरी ब्राम्हणों को खदेड़ा गया और नॉर्थ ईस्ट में भी कुछ ऐसा ही माहौल पैदा किया गया था. पीएम ने कहा कि ऐसी घटनाओं से देश का बहुत नुकसान हुआ है. कुछ लोग देश के सिख भाइयों के दिमाग में गलतफहमियां पैदा कर रहे हैं उन्हें गलत चीजों से भ्रमित कर रहे हैं. ये देश हर एक सिख पर गर्व करता है. उन्होंने आगे कहा कि मैंने पंजाब की रोटी खाई है.

MSP थी, MSP है, MSP रहेगीः पीएम मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि एमएसपी खत्म नहीं होने वाली है और मंडिया पहले से कहीं ज्यादा आधुनिक बनेंगी. प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव की चर्चा का जवाब देते हुए कहा, मैं सदन को विश्वास दिलाता हूं कि मंडिया और आधुनिक होंगी. एमएसपी थी, है और रहेगी. 80 करोड़ से अधिक लोगों को सस्ते में राशन मिलता रहेगा. हमारे कृषि मंत्री ने बहुत अच्छे ढंग से चर्चा की है.

  • HIGHLIGHTS
  • कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर साधा निशाना
  • पीएम ने सिर्फ लोगों को गुमराह करने की कोशिश की
  • कांग्रेस ने कहा- देश को कृषि सुधारों की जरूरत है

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 Feb 2021, 10:55:22 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो