News Nation Logo

कैबिनेट विस्तार से पहले थावरचंद गहलोत बनाए गए कर्नाटक के राज्यपाल, 8 नए राज्यपाल बने

मोदी कैबिनेट के विस्तार (Modi Cabinet Expansion) की सुगबुगाहट के बीच केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत (Thawar Chand Gehlot) को कर्नाटक का राज्यपाल (Governor of Karnataka) बना दिया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 06 Jul 2021, 01:22:41 PM
thaawarchand gehlot

कैबिनेट विस्तार से पहले थावरचंद गहलोत बने गवर्नर (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • बंडारू दत्तात्रेय का हिमाचल से हरियाणा तबादला
  • डॉ. हरि बाबू कंभमपति को बनाया गया मिजोरम का गवर्नर 
  • राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर बने हिमाचल प्रदेश के नए राज्यपाल

नई दिल्ली:

केंद्रीय कैबिनेट (Union Cabinet) में फेरबदल की चर्चाओं से पहले 8 राज्यों के नए राज्यपाल (Governor) नियुक्त किए गए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के कैबिनेट विस्तार की संभावनाओं के बीच राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कई राज्यों के राज्यपालों को बदल दिया है. राजस्थान से आने वाले दलित नेता और केंद्र में सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत को कर्नाटक का राज्यपाल नियुक्त किया गया है. हरि बाबू कंभंपति को मिजोरम के राज्यपाल नियुक्त किया गया है. मंगू भाई छगनभाई पटेल को मध्य प्रदेश का राज्यपाल बनाया गया है. 

कुछ राज्यपालों का हुआ ट्रांसफर, तीन नई नियुक्ति

- कर्नाटक के राज्यपाल के रूप में थावरचंद गहलोत को नियुक्त किया गया है.
- हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय का तबादला कर उन्हें हरियाणा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.
- पी.एस. मिजोरम के राज्यपाल श्रीधरन पिल्लई का तबादला कर उन्हें गोवा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.
- हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य को त्रिपुरा के राज्यपाल के रूप में स्थानांतरित और नियुक्त किया गया है.
- त्रिपुरा के राज्यपाल रमेश बैस को झारखंड के राज्यपाल के रूप में स्थानांतरित और नियुक्त किया गया है.
- डॉ. हरि बाबू कंभमपति को मिजोरम का राज्यपाल बनाया गया है. 
- मंगूभाई छगनभाई पटेल को मध्य प्रदेश के राज्यपाल की जिम्मेदारी दी गयी है.
- राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर को हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.

यह भी पढ़ेंः Twitter ने माना- नहीं किया IT नियमों का पालन, HC ने कहा- सरकार एक्शन के लिए फ्री

दूसरी तरफ केंद्रीय मंत्रिमंडल में विस्तार की चर्चाएं जोरों पर हैं. माना जा रहा है कि जल्द ही मोदी कैबिनेट में फेरबदल होने की संभावना है, कई नामों को कैबिनेट में शामिल किए जाने चर्चाएं हैं. इस बीच बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के यहां से कुछ सांसदों को फोन गया और उनसे कहा गया है कि वह दिल्ली पहुंचकर मुलाकात करें. नड्डा के फोन कॉल के बाद कई नेताओं ने दिल्ली की ओर दौड़ लगा दी है. अभी जेपी नड्डा खुद इस वक्त अपने गृह राज्य हिमाचल प्रदेश में हैं, जो दोपहर बाद दिल्ली लौट रहे हैं.

यह भी पढ़ें : मोदी कैबिनेट विस्तार: नड्डा ने किया इन नेताओं को फोन, बुलाया दिल्ली

इन नेताओं को गया नड्डा का फोन
बीजेपी सांसद नारायण राणे और सर्वदानंद सोनेवाल दिल्ली पहुंच रहे हैं. केंद्रीय कैबिनेट विस्तार को लेकर महाराष्ट्र से नारायण राणे, कपिल पाटिल, डॉ भागवत कराड, रणजीत सिंह निंबालकर के नाम की चर्चा है. सूत्रों के मुताबिक, इन्हें बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा के दफ्तर से फोन आया है. इसके अलावा ज्योतिरादित्य सिंधिया भी आज दोपहर 3.30 बजे की फ्लाइट से इंदौर से दिल्ली रवाना होंगे. जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह भी दिल्ली रवाना हो चुके हैं. पशुपति पारस कल रात ही दिल्ली पहुंच गए हैं.

कैबिनेट में इन्हें मिल सकती है जगह
ज्योतिरादित्य सिंधिया, सर्बानंद सोनोवाल, सुशील मोदी या संजय जयसवाल, वरुण गांधी, दिलीप घोष, मीनाक्षी लेखी, लद्दाख़ के सांसद जमयांग सेरिंग नामग्याल, भूपेंद्र यादव, विनय सहस्त्रबुद्द्हे, बिजयंत पांडा जैसे अनेक बीजेपी नेताओं की चर्चा चल रही है. इनके अलावा अपना दल की अनुप्रिया पटेल और बीजेपी के दूसरे सहयोगी प्रवीण निषाद और जदयू के नेताओं के भी सरकार में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है.

First Published : 06 Jul 2021, 01:01:16 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो