News Nation Logo

अमरनाथ यात्रा पर आतंकी साया, इंसानियत के दुश्मनों ने दी खूनखराबे की धमकी

कोरोना महामारी की वजह से लगातार स्थगित होने के बाद इस वर्ष अमरनाथ यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में भारी उत्साह है. इस बार अमरनाथ यात्रा के लिए 33,000 से ज्यादा श्रद्धालुओं ने अपना एडवांस पंजीकरण करवाया है.

News Nation Bureau | Edited By : Iftekhar Ahmed | Updated on: 19 Apr 2022, 11:26:49 AM
Amarnath yatra

अमरनाथ यात्रा पर आतंकी साया, देश के दुश्मनों ने दी खूनखराबे की धमकी (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • 30 जून से शुरू होगी बाबा अमरनाथ यात्रा
  • श्रद्धालु 75 दिनों तक कर सकेंगे बाबा के दर्शन
  • यात्रा के राजनीतिकरण का लगाया आरोप

नई दिल्ली:  

कोरोना महामारी की वजह से लगातार स्थगित होने के बाद इस वर्ष अमरनाथ यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में भारी उत्साह है. इस बार अमरनाथ यात्रा के लिए 33,000 से ज्यादा श्रद्धालुओं ने अपना एडवांस पंजीकरण करवाया है. इस बीच इस यात्रा को लेकर एक धमकी सामने आई है, इसमें यात्रा के दौरान खून खराबे की बात कही गई है. यह धमकी कश्मीर में आतंक का नया पर्याय बने लश्कर-ए-तैयबा का हिट स्क्वाड कहे जाने वाले आतंकी संगठन द रेजिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) ने दी है. टीआरएफ की तरफ से लोगों से कहा गया है कि वो सरकार के इस एजेंडे का हिस्सा न बनें. इस आतंकी संगठन ने आरोप लगाया है कि केंद्र की भाजपा सरकार लोगों को बलि का बकरा बनाने की कोशिश कर रही है. इसके साथ ही इस पत्र में लोगों से कहा गया है कि वो भड़के नहीं और सरकार की बातों में न आएं. आखिर में टीआरएफ ने कहा है कि उसके लड़ाके हालात पर नजर बनाए हुए हैं और किसी भी तरह का भड़काऊ कदम खून खराबे को न्योता दे सकता है. 

अमरनाथ यात्रा के राजनीतिकरण का आरोप
कश्मीर के आतंकी संगठन टीआरएफ की तरफ से कहा गया है कि, हर साल 15 हजार की जगह अब 8 लाख लोग अमरनाथ यात्रा पर आ रहे हैं, वहीं 15 दिन की जगह 75 दिन की यात्रा हो रही है. ये अमरनाथ यात्रा का राजनीतिकरण है. इसमें आगे कहा गया है कि श्राइन बोर्ड की तरफ से हाल ही में ये ऐलान किया गया कि पवित्र गुफा तक तीन लाख श्रद्धालु जा सकेंगे और यात्रा 75 दिन तक जारी रहेगी. ये और कुछ नहीं बल्कि एक पॉलिटिकल मूव है. टीआरएफ ने कहा है कि, संघी और फासीवादी सरकार इस पवित्र स्थल का भगवाकरण करना चाहती है. 

 33,000 से ज्यादा श्रद्धालुओं ने करवाया एडवांस पंजीकरण 
गौरतलब है कि दो साल बाद अमरनाथ यात्रा फिर शुरू होने से इस बार श्रद्धालुओं में भारी उत्साह देखने को मिल रहा है.  बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए इस वर्ष अब तक 33,000 से अधिक श्रद्धालुओं ने एडवांस पंजीकरण करवाया है. बाबा अमरनाथ की वार्षिक यात्रा 30 जून से शुरू हो रही है और 43 दिन की यात्रा 11 अगस्त को रक्षाबंधन वाले दिन संपन्न होगी. श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नीतीश्वर कुमार के मुताबिक पिछले शनिवार तक 33,795 श्रद्धालुओं ने अपना पंजीकरण करवा लिया है, जिसमें से 22,229 श्रद्धालुओं ने ऑनलाइन और 11,566 यात्रियों ने ऑफलाइन तरीके से बैंकों से पंजीकरण करवाया है. 

First Published : 19 Apr 2022, 11:00:16 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.