News Nation Logo

BREAKING

तालिबानी अपराध किया है तब्लीगी जमात ने, माफ़ी योग्य नहीं : मुख़्तार अब्बास नक़वी

केंद्रीय मंत्री मुख़्तार अब्बास नक़वी ने कहा, तब्लीगी जमात ने यह तालिबानी अपराध किया है. इस तरह के आपराधिक कृत्य को माफ नहीं किया जा सकता है. उन्होंने कई लोगों की जान खतरे में डाल दी है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 01 Apr 2020, 10:48:53 AM
Mukhtar Abbas

तालिबानी अपराध किया है तब्लीगी जमात ने, माफ़ी योग्य नहीं : नक़वी (Photo Credit: Twitter)

नई दिल्ली :

तब्लीगी जमात (Tablighi Jamaat) ने यह तालिबानी अपराध किया है. इस तरह के आपराधिक कृत्य को माफ नहीं किया जा सकता है. उन्होंने कई लोगों की जान खतरे में डाल दी है. ऐसे लोगों और संगठनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए जो सरकार के निर्देशों की अवहेलना करते हैं. मोदी सरकार के मंत्री मुख़्तार अब्बास नक़वी ने तब्लीगी जमात के गैर जिम्मेदाराना रवैये पर यह बात कही. बता दें कि कुछ दिन पूर्व तबलीगी जमात का एक बड़ा धार्मिक आयोजन दिल्ली में हुआ था. इसमें पूरे देश के अलावा विदेश से भी श्रद्धालु भाग लेने आये थे. इस समूह में 200 लोगों के कोविड-19 से संक्रमित होने तथा इनमें से छह लोगों की तेलंगाना में मौत होने की सूचना प्राप्त हुई है.

यह भी पढ़ें : ALERT : तबलिगी जमात से निकले 'कोरोना बम' देश भर में फैले, अब सिर्फ सावधानी से ही बच सकते हैं आप

निजामुद्दीन में धार्मिक कार्यक्रम के आयोजन से 25 से अधिक लोगों में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने को लेकर हड़कंप मचा हुआ है. पूरे इलाके के लोगों की जांच शुरू कर एरिया सील कर दिया गया है. लॉकडाउन के बाद भी इस तरह के आयोजन को लेकर सवाल उठ रहे हैं.

महमूद मदनी ने कहा कि इस मसले पर राजनीति ना हो. लाखों लोग भी सड़क पर निकल गए थे अपने अपने घर जाने के लिए और आश्चर्य की बात की एक तरफ पीएम जनता कर्फ्यू और लॉक डाउन की बात करते हैं और दूसरी तरफ दो-दो मुख्यमंत्री सार्वजनिक तौर पर जलसा करते हैं यह भी ठीक नहीं है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 25 नए मामले सामने आने के बाद दिल्ली में इस घातक वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 97 हो गई है.

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि रविवार रात तक शहर में संक्रमित लोगों की संख्या 72 थी जिनमें से दो लोगों की मौत हो गई है. उसने बताया कि 97 मरीजों में से 89 एलएनजेपी अस्पताल, जीटीबी अस्पताल, आरएमल अस्पताल, सफदरजंग अस्पताल और राजीव गांधी सुपर स्पेश्येलिटी अस्पताल समेत विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं.

यह भी पढ़ें : तबलीगी जमात अलकायदा, तालिबान और कश्मीरी आतंकियों की आड़, फंड वीजा में इस्तेमाल

आखिर क्या है तबलीगी, जमात (Tablighi Jamaat)और मरकज

तबलीगी, जमात और मरकज ये तीनों ही शब्दों का मतलब अलग-अलग होता है. तबलीगी का अर्थ होता है अल्लाह या खुदा के संदेशों का प्रचार-प्रसार करना. वहीं जमात का मतलब लोगों का समूह (Group)और जिस जगह पर लोग इकट्ठा होते है उसका मतलब होता है जमात. इसका मुख्यालय दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में स्थित है, जिसका काम इस्लाम का प्रचार करना है. तबलीगी जमात के लोग पारंपरिक रूप से इस्लाम को मानते है और हर जगह इसे फैलाने का काम करते हैं.

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 01 Apr 2020, 10:22:22 AM