News Nation Logo
Banner

बर्खास्त देविंदर सिंह को जम्मू में NIA कोर्ट में पेश किया जाएगा

देविंदर सिंह की पुलिस रिमांड गुरुवार को खत्म हो रही है. उसके अगले कुछ दिनों में दिल्ली (Delhi) लाए जाने की संभावना है.

News State | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 06 Feb 2020, 03:50:46 PM
एनआईए का कस रहा शिकंजा.

एनआईए का कस रहा शिकंजा. (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

highlights

  • देविंदर को NIA के विशेष कोर्ट के समक्ष गुरुवार को पेश किया जाएगा.
  • देविंदर के फोन से मिले डाटा का लगातार आकलन किया जा रहा है.
  • देविंदर के साथ रहे चार पुलिसकर्मियों से भी एनआईए करेगी पूछताछ.

नई दिल्ली:

बर्खास्त डीएसपी देविंदर सिंह (Devender Singh) के साथ हिजबुल मुजाहिद्दीन (Hizbul Mujahideen) के कमांडर नवीद बाबू व उसके सहयोगी मोहम्मद रफी व मोहम्मद इरफान को रिमांड बढ़ाने के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) के विशेष कोर्ट के समक्ष गुरुवार को पेश किया जाएगा. सूत्रों ने यह जानकारी दी. देविंदर सिंह की पुलिस रिमांड गुरुवार को खत्म हो रही है. उसके अगले कुछ दिनों में दिल्ली (Delhi) लाए जाने की संभावना है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी चार पुलिसकर्मियों से पूछताछ कर सकती है. चारों देविंदर के साथ कुछ समय के दौरान तैनात रहे हैं.

यह भी पढ़ेंः कांग्रेस और राहुल गांधी को लेकर आज अलग ही मूड में थे पीएम नरेंद्र मोदी, लोकसभा में दिया गया पूरा भाषण यहां पढ़ें

फिलहाल पूछताछ है जारी
वर्तमान में एनआईए की टीमें जम्मू में देविंदर सिंह से पूछताछ कर रही हैं. पिछले महीने डीजी एनआईए, वाईसी मोदी ने जम्मू में मामले की जांच की समीक्षा की.
पुलिस ने 11 जनवरी को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर देविंदर सिंह को गिरफ्तार किया था. वह नवीद, रफी व इरफान को जम्मू ले जा रहा था. जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा मामले की जांच के बाद इसे एनआईए को सौंप दिया गया. देविंदर के फोन से मिले डाटा का लगातार आकलन किया जा रहा है.

यह भी पढ़ेंः अमित शाह की रैली में जब लगने लगे 'गोली मारो' के नारे, गृह मंत्री ने कहा- बंद करो ये बकवास

देविंदर के साथी पुलिस कर्मियों से भी होगी पूछताछ
एनआईए ने देविंदर के साथ रहे चार पुलिसकर्मियों को कथित तौर पर चिन्हित किया है. इनसे देविंदर की विभिन्न गतिविधियों और उनसे मिलने वाले कुछ खास लोगों के बारे में पूछा जाएगा. इनसे पूछा जाएगा कि देविंदर ने कितनी बार उनके बिना घाटी के विभिन्न हिस्सों में यात्र की है और वह क्यों उसके साथ नहीं गए थे. आतंकरोधी अभियानों में हिस्सा लेने के कारण आतंकियों की हिटलिस्ट में शामिल देविंदर कैसे अपने अंगरक्षकों को छोड़ सामान्य लोगों की तरह दक्षिण कश्मीर में आ-जा सकता है. इन पुलिसकर्मियों में से कुछ के साथ देविंदर की गिरफ्तारी से पूर्व फोन पर लंबी बातचीत भी हुई बताई जा रही है.

First Published : 06 Feb 2020, 03:50:46 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

DSP Devender Singh NIA Jammu