News Nation Logo

Shaheen Bagh: तीसरे दिन भी वार्ताकार और प्रदर्शनकारियों के बीच वार्ता बेनतीजा

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 22 Feb 2020, 12:38:52 AM
सुप्रीम कोर्ट के वार्ताकार प्रदर्शनकारियों से बातचीत करते हुए

सुप्रीम कोर्ट के वार्ताकार प्रदर्शनकारियों से बातचीत करते हुए (Photo Credit: ट्विटर)

नई दिल्ली:  

अब से थोड़ी देर बाद सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) के वार्ताकार शाहीन बाग (Shaheen Bagh) वार्ता के पहुंचे जहां तीसरे दिन भी वार्ताकारों को खाली हाथ लौटना पड़ा. शुक्रवार को शाहीन बाग प्रदर्शनकारियों और सुप्रीम कोर्ट के वार्ताकारों के बीच कोई खास बात नहीं हो सकी और एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट के वार्ताकारों शाहीन बाग से खाली हाथ लौटना पड़ा.  आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के वार्ताकारों का लगातार यह तीसरा दिन था जब वो शाहीन बाग में नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों को अपना प्रदर्शन शाहीन बाग से हटाकर कहीं और रख लें, यह बात समझाने के लिए. इसके पहले सुप्रीम कोर्ट के वार्ताकार 19 फरवरी और 20 फरवरी को भी शाहीन बाग प्रदर्शनकारियों को समझाने के लिए धरना प्रदर्शन स्थल पर बातचीत के लिए गए थे. वार्ताकारों ने बताया कि प्रदर्शनकारी शाहीन बाग का रास्ता छोड़ने के लिए तैयार नहीं है उनकी 2 दिन पहले भी प्रदर्शनकारियों के साथ बातचीत बेनतीजा रही है. 

इसके पहले सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को दो वार्ताकारों को शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों से मिलने के लिए भेजा था. सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त वार्ताकार वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े शाहीन बाग पहुंचे थे. जहां उन्होंने शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों के बातचीत के लिए गए थे वहां उनके साथ साधना राम चंद्रन भी पहुंची थीं. प्रदर्शनकारियों से कहा कि उच्चतम न्यायालय ने प्रदर्शन करने के उनके अधिकार को बरकरार रखा है, लेकिन इससे अन्य नागरिकों के अधिकारों पर प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए.

यह भी पढ़ें-कन्हैया के आरोप-पत्र पर निर्णय के लिए विधि विभाग से कहेंगे : सीएम अरविंद केजरीवाल

बुधवार को वार्ताकार और प्रदर्शनकारियों में हुई थी बातचीत

बुधवार को लगभग दो घंटे के की बातचीत वार्ताकार और प्रदर्शनकारियों के बीच चली थी. इस दौरान दोनों वार्ताकारों ने मीडिया से अलग होकर प्रदर्शनकारियों की बात सुनी. उसके बाद अगले दिन यानि कि गुरुवार को एक बार फिर से प्रदर्शनकारियों से सुप्रीम कोर्ट के वार्ताकारों की बातचीत हुई लेकिन इस दिन भी बातचीत बेनतीजा रही है. मीडिया में आईं खबरों की मानें तो बातचीत में कोई हल नहीं निकला है. प्रदर्शनकारी सरकार द्वारा लागू किए गए नागरिकता संशोधन बिल (CAA) के वापस लिए जाने तक आंदोलन जारी रखने की बात कही है.  

यह भी पढ़ें-VIDEO : 'हुनर हॉट' में अचानक पहुंचे PM मोदी, लोग हो गए हैरान, साथ में ली सेल्फी 

रास्ता बंद होने से स्कूली बच्चों को भी हो रहीं हैं दिक्कत

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट से वार्ताकार बनकर आए संजय हेगड़े ने इसके पहले भी प्रदर्शनकारियों को बातचीत के दौरान समझाते हुए कहा था कि यह रास्ता बंद होने से स्कूली बच्चों को भी परेशान होना पड़ रहा है, ऐसे में उनके बारे में सोचते हुए आपसब को रास्ता देना चाहिए. संजय हेगड़े ने आगे कहा था कि हम यहां सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत आए हैं. हमें सबसे बात करने की उम्मीद है. हमें उम्मीद है कि सबके सहयोग से मसले का समाधान कर पाएंगे. वहीं, साधना रामचंद्रन ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने यह नहीं कहा है कि आपके विरोध के अधिकार को छीना जाए. हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा है कि दूसरों के हक को भी नहीं माना जाए.

दिल्ली: संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन, सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त मध्यस्थ, प्रदर्शनकारियों से बातचीत करते हुए. 



शाहीन बाग के SHO ने कहा हम प्रदर्शन कारियो को पुरी सुरक्षा देंगे. प्रदर्शनकारियो का कहना है कि पुलिस की सुरक्षा के बीच कोई गोली चला देता है.

संजय हेगडे ने दिल्ली पुलिस के किसी अधिकारी को बातचीत करने के लिये  प्रदर्शन स्थल पर बुलाया.

प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने के बाद साधना रामचंद्रन ने उनसे पूछा कि आपने सड़क क्यों घेर रखी है तो प्रदर्शनकारियों का कहना है कि हमने खाली एक सड़क घेरी है जबकि दूसरी सड़क पुलिस ने बंद कर रखी है वह सड़क हमने नहीं घेरी है.

वार्ताकारों ने पुरुष प्रदर्शनकारियों से बाहर जाने को कहा.


 

वार्ताकारों का प्रदर्शनकारियों से बातचीत का तीसरे दिन महिला प्रदर्शनकारियों से बातचीत कर रहे हैं वार्ताकार.

साधना रामचंद्रन और संजय हेगड़े सुप्रीम कोर्ट की ओर से लगातार तीसरे दिन भी वार्ताकार बनकर शाहीन बाग पहुंचे.

सुप्रीम कोर्ट के वार्ताकार संजय हेगड़े प्रदर्शनकारियों से मिलने के लिए शाहीन बाग 6 बजकर 30 मिनट पर पहुंचेंगे.

First Published : 21 Feb 2020, 04:50:53 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.