News Nation Logo
Banner

कोरोना काल में बेहतर एजुकेशन के लिए छात्रों को करना पड़ेगा ये काम

देश में कोरोना वायरस की महामारी के बीच विद्यार्थियों की पढ़ाई-लिखाई बाधित हो रही है. कोरोना वायरस ने हमारे जीवन को काफी प्रभावित किया, जिससे लोगों की दृष्टिकोण हर चीज के लिए बदल गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 12 Oct 2020, 11:11:16 PM
online study

एजुकेशन (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

देश में कोरोना वायरस की महामारी के बीच विद्यार्थियों की पढ़ाई-लिखाई बाधित हो रही है. कोरोना वायरस ने हमारे जीवन को काफी प्रभावित किया, जिससे लोगों की दृष्टिकोण हर चीज के लिए बदल गई है. इसी क्रम में आता है आनलाइन एजुकेशन, लेकिन विद्यार्थियों को आनलाइन एजुकेशन में सही एजुकेशन की परख होनी जरूरी है. माई ई-गुरु (My e-Guru) ने छात्रों की मदद के लिए एजुकेशन पोर्टल शुरू किया है.  

देश में करीब 50 लाख से अधिक इंजीनियरिंग व मेडिकल उम्मीदवार हैं, जिनमें से लगभग 20 लाख छात्र तैयारी के लिए ऑनलाइन सोल्यूशन का उपयोग कर रहे हैं. कोटा के इन्स्टीट्यूट के 35 से अधिक दिग्गज फैकल्टीज का एक समूह माई ई-गुरु के साथ आया है और ये ई-गुरु एवं ई-गुरुकुल पार्टनर्स के रूप में काम करना शुरू किया. 

इस ई-लर्निंग पोर्टल की विशेषता है कि ये काफी इन्ट्रैक्टिव, व्यवस्थित, छात्रों की जरूरतों को नजर में रखकर बनाया गया है, जहां छात्र 50 से अधिक छोटे और बड़े कोर्स के जरिये कम फीस पर अनुभवी अध्यापकों से कोचिंग ले सकते हैं. इसके तहत दूर बैठे छात्र भी अच्छे शिक्षक तक पहुंच सकते हैं. यह शैक्षिक गुणवत्ता को सुनिश्चित करेगा.

इस ग्रुप ने 8वीं से 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए 23 अक्टूबर 2020 को मेगनेट (माई ई-गुरु नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट) परीक्षा आयोजित करने का निर्णय किया है और 5 करोड़ तक की छात्रवृत्ति फीस प्रदान करेगा. मेगनेट स्कॉलरशिप टेस्ट का फ्री रेजिस्ट्रेशन पर करवाएं. यह समूह विभिन्न श्रेणियों जैसे JEE, NEET, NTSE, KVPY, ओलंपियाड, 8वीं से 12 वीं, SSC, बैंकिग, रेलवे, रक्षा और दूसरे इसी तरह के प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करता है. 

First Published : 12 Oct 2020, 11:11:16 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो