News Nation Logo
Banner

सोनिया गांधी ने पूर्वोत्तर के नेताओं के साथ की बैठक, एनआरसी पर चर्चा

कांग्रेस नेता ने कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक से संबंधित मसलों पर भी चर्चा हुई. यह भाजपा के चुनावी घोषणा पत्र का हिस्सा है और राज्यसभा में इसका विरोध किया गया.

By : Ravindra Singh | Updated on: 14 Sep 2019, 03:00:00 AM
सोनिया गांधी (फाइल)

सोनिया गांधी (फाइल)

नई दिल्‍ली:

कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को पूर्वोत्तर के प्रांतों से आने वाले पार्टी के नेताओं के साथ बैठक करके राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) समेत अन्य मसलों पर चर्चा की और पूर्वोत्तर समन्वय समिति को मजबूत करने का फैसला लिया. बैठक में पूर्व मुख्यमंत्रियों और पूर्वोत्त प्रदेशों के प्रभारी सचिव लुजिनहो फलेरियो समेत पूर्वोत्तर के शीर्ष कांग्रेस नेता शामिल हुए. तीन घंटे तक चली इस बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल और के.सी. वेणुगोपाल भी मौजूद थे.

बैठक के बाद फलेरियो ने संवाददाताओं को बताया, "सोनिया गांधी ने पूर्वोत्तर के सभी प्रांतों के नेताओं की बैठक बुलाई. हमने उनसे मुलाकात की. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, अहमद पटेल और के.सी. वेणुगोपाल मौजूद थे."उन्होंने कहा कि बैठक के दौरान उन्होंने पूर्वोत्तर प्रांतों की समस्याओं पर चर्चा की और पार्टी के नेताओं ने उनको सुझाव दिए.

फलेरियो ने कहा, "बैठक के दौरान पूर्वोत्तर समन्वय समिति को मजबूत और संगठित करने का फैसला लिया गया. हमने प्रमुख कार्यालय गुवाहाटी में बनाने का फैसला लिया. हमने यह भी निर्णय लिया कि हम समय-समय पर बैठक करके विचार-विमर्श करेंगे, ताकि पूर्वोत्तर जो आज समस्याएं बढ़ रही हैं उनसे निजात पाने के उपाय किए जाएं और हम संगठित हो सकें." फलेरियो ने कहा कि असम में एनआरसी की समस्या पर भी बैठक में विचार-विमर्श किया गया. कांग्रेस नेता ने कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक से संबंधित मसलों पर भी चर्चा हुई. यह भाजपा के चुनावी घोषणा पत्र का हिस्सा है और राज्यसभा में इसका विरोध किया गया.

First Published : 14 Sep 2019, 03:00:00 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.