News Nation Logo

BREAKING

Banner

स्मृति ईरानी ने चुनाव आयोग से राहुल गांधी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की

ईरानी ने कहा कि उन्होंने यह निर्वाचन आयोग पर छोड़ा है कि गांधी को क्या सजा दी जाए

By : Sushil Kumar | Updated on: 13 Dec 2019, 10:27:41 PM
स्मृति ईरानी और सरोज पाण्डेय

स्मृति ईरानी और सरोज पाण्डेय (Photo Credit: ANI)

दिल्ली:

केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी के रेप वाले बयान पर शिकायत दर्ज की है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की टिप्पणी बहुत ही अशोभनीय है. उन्होंने कहा कि वह इस तरह के बयान राजनीति करने के लिए दिया है. चुनाव आयोग ने हमें आश्वासन दिया है कि वे कानूनी प्रक्रिया का पालन करेंगे और न्याय करेंगे. स्मृति ईरानी ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराधों पर राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए. राहुल गांधी ने बलात्कार को एक राजनीतिक उपकरण बनाने का साहस किया है. हमने चुनाव आयोग से कार्रवाई करने का अनुरोध किया है.

भाजपा ने शुक्रवार को निर्वाचन आयोग से कहा कि झारखंड की चुनावी रैली में राहुल गांधी की ‘‘रेप इन इंडिया’’ टिप्पणी के लिए उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए. इसके साथ ही पार्टी ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हिसाब चुकाने के लिए बलात्कार की घटनाओं का ‘‘राजनीतिक हथियार’’ के तौर पर ‘‘इस्तेमाल’’ कर रहे हैं. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की अगुवाई में भाजपा की महिला सांसदों ने चुनाव आयोग के अधिकारियों से मिलकर राहुल गांधी के खिलाफ ‘‘कठोरतम संभव कार्रवाई’’ की मांग की. गांधी ने यह बयान गुरुवार को दिया था.

यह भी पढ़ें- नागरिकता कानून में संशोधन लागू करने के लिए भाजपा राज्यों को बाध्य नहीं कर सकती : ममता

ईरानी ने कहा, ‘‘भाजपा की महिला सासंद इतनी नाराज हैं कि उन्होंने राहुल गांधी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के लिए निर्वाचन आयोग से संपर्क किया. श्री गांधी ने नरेंद्र मोदी के साथ हिसाब चुकाने के लिए बलात्कार को एक राजनीतिक हथियार के रूप में इस्तेमाल किया है.’’ उन्होंने चुनाव अधिकारियों के साथ बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने निर्वाचन आयोग से कहा कि यह पहली बार है जब किसी राजनीतिक नेता ने राजनीतिक मजाक के लिए बलात्कार का इस्तेमाल किया है. पूरा देश इस संवैधानिक संस्था (चुनाव आयोग) की ओर देख रहा है ताकि महिलाओं की गरिमा को बरकरार रखा जा सके और जो नेता बलात्कार को राजनीतिक हथियार के रूप में इस्तेमाल करना चाहते हैं, उन्हें कड़ी से कड़ी सजा मिल सके.’’

यह भी पढ़ें- देश के निर्यात में लगातार चौथे महीने गिरावट जारी, नवंबर में घटकर 25.98 अरब डॉलर रहा

ईरानी ने कहा कि उन्होंने यह निर्वाचन आयोग पर छोड़ा है कि गांधी को क्या सजा दी जाए. उन्होंने पूछा, ‘‘राहुल गांधी को यह कहने का अधिकार किसने दिया कि देश में सभी महिलाओं के साथ बलात्कार हो रहा है? राहुल गांधी को यह कहने का अधिकार किसने दिया कि हर आदमी बलात्कारी है? किसने राहुल गांधी को अपनी राजनीति के लिए देश की छवि को धूमिल करने का अधिकार दिया है?’’ ईरानी ने कहा कि निर्वाचन आयोग ने प्रतिनिधिमंडल को भरोसा दिया कि वह कानूनी प्रक्रिया के अनुसार न्याय करेगा. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने अपने राजनीतिक फायदे के लिए ‘‘जानबूझकर’’ ऐसा निंदनीय बयान दिया. 

First Published : 13 Dec 2019, 08:53:41 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×