News Nation Logo
Breaking
पहले बड़े मंगल के मौके पर लखनऊ में बजरंगबली के मंदिरों पर दर्शनार्थियों की भीड़ मैरिटल रेप का मामला SC पहुंचा, याचिकाकर्ता खुशबू सैफी ने दिल्ली HC के फैसले को SC में चुनौती दी मुंबई : कार्तिक चिदंबरम और उनसे जुडे ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी दिल्ली : कुतुबमीनार के कुव्वुतुल इस्लाम मस्जिद मामले की याचिका पर साकेत कोर्ट में सुनवाई टली मथुरा जिला अदालत में एक और याचिका, शाही ईदगाह मस्जिद को सील करने की मांग दाऊद के करीबी और 1993 मुंबई धमाकों के वॉन्टेड आरोपियों को गुजरात ATS ने पकड़ा हरिद्वार हेट स्पीच मामला : जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी उर्फ़ वसिम रिज़वी को 3 महीने की अंतरिम जमानत जम्मू : म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन में गैर कानूनी लाउडस्पीकर बैन के प्रस्ताव के पारित होने पर हंगामा चिंतन शिविर के बाद हरियाणा कांग्रेस की कोर टीम आज शाम राहुल गांधी से करेगी मुलाकात वाराणसी कोर्ट में आज ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश नही होगी, तीन दिन का और समय मांगा जाएगा राजस्थान : पुलिस कांस्टेबल भर्ती में 14 मई की द्वितीय पारी की परीक्षा दोबारा ली जाएगी जम्मू कश्मीर : राजौरी इलाके के कई वन क्षेत्रों में भीषण आग, बुझाने में जुटे फायर टेंडर्स
Banner

गुजरात में दलित की बारात पर पथराव करने के आरोप में 6 लोग हिरासत में

गुजरात में दलित की बारात पर पथराव करने के आरोप में 6 लोग हिरासत में

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 13 May 2022, 12:00:01 AM
Six detained

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

अहमदाबाद:   गुजरात के पाटन जिले के भाटासन गांव में असामाजिक तत्वों ने गुरुवार सुबह दलित समुदाय की बारात पर पथराव किया। पुलिस ने गांव में अतिरिक्त बल तैनात करने के अलावा छह लोगों को हिरासत में लिया है।

रामजी परमार के बेटे विजय की शादी गुरुवार को तय हुई थी और बारात को पास के गांव में पहुंचना था।

ग्रामीणों ने कहा कि परिवार के सदस्यों को आशंका थी कि बारात पर हमला किया जाएगा और इसलिए उन्होंने अग्रिम पुलिस सुरक्षा के लिए अनुरोध किया था, जो दी गई थी।

पाटन के एसपी विजय कुमार पटेल ने आईएएनएस को बताया कि जब बारात ठाकोर पहुंची, तो कुछ अज्ञात लोगों ने बारात पर पथराव कर दिया, जिससे चार लोग मामूली रूप से घायल हो गए।

पटेल ने कहा कि लगभग नौ से दस साल पहले भाटासन ग्रामसभा ने सभी समुदायों के लिए शादियों में बारात और दिखावे पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव पारित किया था। उसके बाद से शादियां सादे तरीके से होने लगीं।

डीएसपी ने कहा कि रामजी परमार और उसका परिवार अहमदाबाद में रहता है और विशेष रूप से शादी के लिए गांव आया था। वह ग्रामसभा के प्रस्ताव का पालन करने से असहमत था और जुलूस के साथ आगे बढ़ने का फैसला किया।

पथराव की घटना की सूचना मिलते ही गांव में अतिरिक्त बल भेजा गया है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 13 May 2022, 12:00:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.