News Nation Logo
Banner
Banner

खंडवा-खरगोन बनेगा बिजली का हब : शिवराज

खंडवा-खरगोन बनेगा बिजली का हब : शिवराज

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 27 Sep 2021, 09:35:01 PM
Shivraj Singh

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

खरगोन: मध्य प्रदेष के खंडवा संसदीय क्षेत्र में आगामी समय में उप-चुनाव होना है, सियासत तेज है और सरकार सौगातों की बरसात किए जा रही है। मुख्मयंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यहां ऐलान किया है कि खंडवा और खरगोन को बिजली का हब बनाया जाएगा।

मुख्यमंत्री चौहान ने झिरन्या में जनकल्याण और सुराज कार्यक्रम के तहत जनसभा कहा कि खरगोन जिले के झिरन्या क्षेत्र के गांवों में उद्वहन सिंचाई योजना से पानी उपलब्ध कराया जाएगा। खंडवा और खरगोन को बिजली का हब बनाया जाएगा। झिरन्या को नगर पंचायत का दर्जा दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि गरीब के लिए पढ़ाई, रोजी-रोटी और मकान के लिए सरकार फिक्रमंद है। परिवार बड़े हो रहे हैं, ऐसे में हर गरीब और आवासहीनों को मकान के लिए जमीन मुहैया कराई जाएगी।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि सरकार के खजाने में गरीब के लिए धन की कोई कमी नहीं है। सरकार माता-बेटी और बहनों को आगे बढ़ाना चाहती है। इसलिए हमने स्थानीय निकायों में महिलाओं का आरक्षण बढ़ा दिया था।

उन्होंने कहा कि बहनों के बनाए उत्पाद को बढ़ावा दिया जाएगा। स्व-सहायता समूह की महिलाओं को रोजगार के भरपूर अवसर मुहैया कराए जाएंगे। स्कूली बच्चों के यूनीफार्म स्व-सहायता समूह की महिलाएं ही बनाएंगी। इसमें कोई ठेकेदार नहीं होगा।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि अनुसूचित क्षेत्रों में जनजातीय कल्याण के लिए पेसा एक्ट लागू किया जाएगा। दूरदराज के गांवों में राशन के लिए भटकना नहीं पड़ेगा और घरों में जाकर गरीबों को राशन दिया जाएगा। झिरन्या क्षेत्र में जन-प्रतिनिधियों द्वारा रखी गई विभिन्न मांगों को पूरा किया जाएगा।

कृषि मंत्री और खरगोन जिले के प्रभारी मंत्री कमल पटेल ने कहा कि खरगोन जिले को विकास की बड़ी सौगात मिली है। झिरन्या में 42 करोड़ रुपये लागत के विद्युत सब-स्टेशन का लोकार्पण हुआ है। इससे इस क्षेत्र में विकास की नई रोशनी आएगी। जरूरतमंदों की मदद के लिए सबंल योजना का पुन: क्रियान्वयन शुरू किया गया है।

सांसद गजेंद्र सिंह पटेल ने कहा कि प्रदेश में तेज गति से विकास हो रहा है। विकास की नई गाथा लिखी जा रही है। झिरन्या में पेयजल समस्या शीघ्र दूर होगी। इसके लिए उद्वहन सिंचाई परियोजना स्थापित करने के लिए तेजी से प्रयास हो रहे हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 27 Sep 2021, 09:35:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो