News Nation Logo

ईशनिंदा के आरोप में शिया बोर्ड ने की वसीम रिजवी की गिरफ्तारी की मांग

ईशनिंदा के आरोप में शिया बोर्ड ने की वसीम रिजवी की गिरफ्तारी की मांग

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 11 Nov 2021, 12:45:01 PM
Shia Board

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

लखनऊ: ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएसपीएलबी) ने शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के सदस्य वसीम रिजवी को ईशनिंदा, शांति भंग करने, कानून-व्यवस्था भंग करने के आरोप में गिरफ्तार करने की मांग की है।

बोर्ड ने रिजवी के भाषणों, लेखन और कुरान और पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ अपमानजनक गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाने के साथ रिजवी की वक्फ बोर्ड की सदस्यता समाप्त करने की मांग की।

एआईएसपीएलबी के प्रवक्ता ने कहा, ऐसा प्रतीत होता है कि यूपी सरकार रिजवी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करके उनका समर्थन कर रही है।

उन्होंने आरोप लगाया कि सलमान रुश्दी और इस्लाम और पैगंबर का अपमान करने वाली तस्लीमा नसरीन पर रिजवी के विचार अपमानजनक हैं।

एआईएसपीएलबी के अध्यक्ष मौलाना सैयद साइम मेहदी ने देश भर के सभी सदस्यों से अपील की कि वे 16 नवंबर को अपने जिलों में रिजवी के खिलाफ प्रदर्शन करें।

मौलाना साइम ने कहा, जब रिजवी राज्य और देश में शांति भंग करता है तो सरकार चुप क्यों रहती है। सरकार कानून और व्यवस्था के मामूली मुद्दों पर लोगों को गिरफ्तार करती है, लेकिन रिजवी हुक से बाहर है, भले ही उसके खिलाफ कई प्राथमिकी दर्ज हों। अगर सरकार चुप्पी बनाए रखती है तो आगे जो कुछ भी होगा उसके लिए वह जिम्मेदार होगी।

बोर्ड के सदस्य मौलाना जहीर इफ्तेखारी ने कहा, सरकार रिजवी के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है क्योंकि उसे सांप्रदायिक ताकतों का समर्थन प्राप्त है। चूंकि यूपी में चुनाव नजदीक हैं, इसलिए विभाजन पैदा करने की सभी संभावनाएं तलाशी जा रही हैं।

इस बीच, यूपी शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष पद के लिए बहुप्रतीक्षित चुनाव 15 नवंबर को होगा।

राज्य सरकार ने चुनाव के लिए अधिसूचना जारी की है जिसमें बोर्ड के नवनियुक्त आठ सदस्यों में से नए अध्यक्ष का चुनाव किया जाएगा।

यह पद 18 महीने से अधिक समय से खाली पड़ा है।

आठ सदस्य जो आपस में अध्यक्ष का चुनाव करेंगे, उनमें रामपुर से पूर्व सांसद बेगम नूर बानो, बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी, सैयद फैजी, मौलाना मौलाना रजा हुसैन और लखनऊ से अली जैदी, अमरोहा के वकील जरयाब जमाल रिजवी, सिद्धार्थ नगर से शबाहत हुसैन, और जिला महिला अस्पताल, प्रयागराज में वरिष्ठ सलाहकार, डॉ नूरुस हसन नकवी शामिल हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 11 Nov 2021, 12:45:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.