News Nation Logo

सचिन हिंदुराव वाजे : पुलिस अधिकारी या बिजनस मैन, देखें यहां 

मुंबई के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सचिन हिंदुराव वाजे पर मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक से भरी एसयूवी मामले में शिकंजा कसता जा रहा है.

IANS | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 19 Mar 2021, 01:00:00 AM
Sachin Hindurao Vaze

सचिन हिंदुराव वाजे : पुलिस अधिकारी या बिजनस मैन (Photo Credit: IANS)

नई दिल्ली:

मुंबई के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सचिन हिंदुराव वाजे पर मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक से भरी एसयूवी मामले में शिकंजा कसता जा रहा है. वाजे सिर्फ पुलिस अधिकारी ही नहीं बल्कि तीन कंपनियों डिजीनेक्स्ट मल्टीमीडिया, मल्टीबिल्ड इंफ्राप्रोजेक्ट्स और टेकलीगल सोल्यूशन के निदेशक के रूप में भी सूचीबद्ध हैं. वाजे मुंबई पुलिस हैं या एक व्यवसायी? और क्या यह हितों का टकराव है? वाजे जैसे पुलिस अधिकारी कैसे डाइरेक्टरशिप और इक्विटी रख रहे थे. उनके व्यवसायिक हितों के देखते हुए यह अलग से जांच का विषय हो सकता है. दो कंपनियों को कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय (एमसीए) ने बंद कर दिया था, जबकि डिजीनेक्स्ट मल्टीमीडिया अभी भी सक्रिय कंपनी के रूप में सूचीबद्ध हैं. शिरीष थोरात दो कंपनियों में निदेशक के रूप में सूचीबद्ध हैं.

ऐसी खबरें हैं कि वह एक मर्सिडीज चला रहे था, जिसे पुलिस मुख्यालय में नकली नंबर प्लेट के साथ पार्क किया गया था. डिजीनेक्स्ट मल्टीमीडिया लिमिटेड को 27 सितंबर, 2011 को इनकोर्पोरेट किया गया था. इसे गैर-सरकारी कंपनी के रूप में वर्गीकृत किया गया है और यह रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज, मुंबई में पंजीकृत है. इसकी अधिकृत शेयर पूंजी 5 लाख रुपये और इसकी पेड अप कैपिटल भी 5 लाख रुपये है. रिकॉर्ड के अनुसार कंपनी की स्थिति सक्रिय है.

कंपनी लाइन टेलीफोनी और लाइन टेलीग्राफी के लिए उपकरण और टेलीविजन और रेडियो ट्रांसमीटर के निर्माण में शामिल है. डिजीनेक्स्ट मल्टीमीडिया लिमिटेड की वार्षिक आम बैठक (एजीएम) अंतिम बार 30 सितंबर 2017 को आयोजित की गई थी. इसकी बैलेंस शीट 31 मार्च 2017 को दर्ज की गई थी. कंपनी को कार्पोरेट मामलों के मंत्रालय द्वारा रिकॉर्ड से बाहर कर दिया गया है.

डिजीनेक्स्ट मल्टी मीडिया लिमिटेड के निदेशक वेंकटेश अप्पासाहेब वेज, संयोग शिवाजी शेलार, शिरीष थोरात, आलोक जयंत ठक्कर, सुमीत महेंद्र राठौड़ और सचिन हिंदुराव वाजे हैं. इसका पंजीकृत पता ऑफिस नंबर 1, केलकर कंपाउंड कोर्ट, नाका ठाणे, ठाणे, महाराष्ट्र है. मल्टीबिल्ड इंफ्राप्रोजेक्ट्स को 19 जनवरी 2013 को इनकोर्पोरेट किया गया था. इसे गैर-सरकार कंपनी के रूप में वर्गीकृत किया गया है और यह रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज, मुंबई में पंजीकृत है. इसकी अधिकृत शेयर पूंजी 5 लाख रुपये और इसकी पेडअप कैपिटल 5 लाख रुपये है.

यह सिविल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में पार्ट्स या फिर पूर्ण संरचना के निर्माण में शामिल है. मल्टीबिल्ड इंफ्राप्रोजेक्ट्स लिमिटेड के निदेशक संजय चंद्रकांत माशिलकर, सचिन हिंदुराव वाजे, उदय पुंडलिक वागले, यश उदय वागले और विजय पंधारी गवई हैं. मल्टीबिल्ड इंफ्राप्रोजेक्ट्स लिमिटेड का स्थायी पता, राधा निवास, केलकर कंपाउंड कोर्ट नक्का, ठाणे (पश्चिम), ठाणे है.

टेकलीगल सोल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड को 5 फरवरी 2010 को इनकोर्पोरेट किया गया था. इसे गैर-सरकार कंपनी के रूप में वर्गीकृत किया गया है और यह रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज, मुंबई में पंजीकृत है. इसकी अधिकृत शेयर पूंजी 2 लाख रुपये है और इसकी पेडअप कैपिटल 1,30,000 रुपये है. यह व्यावसायिक गतिविधियों में शामिल है.

टेकलीगल सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड की वार्षिक आम बैठक (एजीएम) आखिरी बार 30 अगस्त 2011 को आयोजित की गई थी और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय (एमसीए) के रिकॉर्ड के अनुसार, इसकी बैलेंस शीट 31 मार्च 2011 को दर्ज की गई थी. टेकलीगल सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक सचिन हिंदुराव वजे, शिरीष थोरात और मंदार विश्वास जोशी हैं. इसका पंजीकृत पता ऑफिस नंबर 1, केलकर कंपाउंड कोर्ट, नाका ठाणे, ठाणे, महाराष्ट्र है. डिजीनेक्स मल्टीमीडिया का भी यही पता है.

शिरीष थोरात, वाजे के साथ दो कंपनियों टेकलीगल सॉल्यूशंस और डिजीनेक्स मल्टीमीडिया में वेज के साथ एक निदेशक के रूप में सूचीबद्ध किया गया है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 19 Mar 2021, 01:00:00 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो