News Nation Logo
Banner

कोरोना के कारण बेंगलुरू में होने वाली RSS की प्रतिनिधिसभा की बैठक रद्द

देशभर में फैल रहे कोरोनावायरस (Corona Virus) को देखते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) ने रविवार से बेंगलुरू में शुरू होने वाली तीन दिवसीय प्रतिनिधि सभा की बैठक रद्द कर दी है. इस बात की जानकारी खुद सह सर कार्यवाह भैया जी जोशी ने दी.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 14 Mar 2020, 11:08:07 AM
RSS

कोरोना के कारण बेंगलुरू में होने वाली RSS की प्रतिनिधिसभा की बैठक रद्द (Photo Credit: फाइल फोटो)

बेंगलुरु:

देशभर में फैल रहे कोरोनावायरस (Corona Virus) को देखते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) ने रविवार से बेंगलुरू में शुरू होने वाली तीन दिवसीय प्रतिनिधि सभा की बैठक रद्द कर दी है. इस बात की जानकारी खुद सह सर कार्यवाह भैया जी जोशी ने दी. भैया जी जोशी के मुताबिक अभी देशभर में कोरोना का प्रकोप है. प्रशासनिक अनुरोध के अनुसार अभी सभी को इसकी रोकथाम में लगना है, लिहाजा प्रतिनिधि सभा की बैठक फिलहाल रद्द की जाती है. उन्होंने सभी स्वयंसेवकों से आह्वान किया है कि बीमारी की रोकथाम के लिए प्रशासन के साथ सहयोग करें और जागरूकता लाएं.

यह भी पढ़ेंः मध्यप्रदेश से भाजपा के राज्यसभा प्रत्याशी सुमेर सिंह सोलंकी की उम्मीदवारी हो सकती है रद्द!

गौरतलब है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की तीन दिवसीय वार्षिक बैठक रविवार को बेंगलुरू में तय थी. प्रतिनिधि सभा आरएसएस की निर्णय लेने वाली सर्वोच्च संस्था है. आरएसएस और इसके आनुषंगिक संगठनों के 1,500 निर्वाचित प्रतिनिधियों के इस बैठक में भाग लेने की उम्मीद थी. माना जा रहा था कि आरएसएस बैठक के दौरान अपने 15 लाख स्वयंसेवकों को समाज में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए सक्रिय करने के बारे में कोई फैसला करेगा.

यह भी पढ़ेंः मोदी सरकार ने मास्क और सेनिटाइजर की सप्लाई बढ़ाने के लिए लिया ये बड़ा फैसला

इस बैठक में संघ आगामी एक साल के कामकाज की रूपरेखा तय करती है. भाजपा के राष्ट्रीय अध्य्क्ष जे पी नड्डा और संगठन महामंत्री बी एल संतोष को भी इस बैठक में शिरकत करना था. दूसरी तरफ केंद्रीय उपभोक्ता मामले मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को जारी एक बयान में कहा गया कि विगत कुछ सप्ताहों के दौरान कोविड-19 (कोरोना वायरस) के मौजूदा प्रकोप और कोविड-19 प्रबंधन के लिए लॉजिस्टिक संबंधी चिंताओं को देखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है क्योंकि मास्क (2 प्लाई एवं 3 प्लाई सर्जिकल मास्क, एन95 मास्क) और हैंड सैनिटाइजर या तो बाजार में अधिकांश विक्रेताओं के पास उपलब्ध नहीं है या बहुत अधिक कीमतों पर बमुश्किल से उपलब्ध हो रहे हैं.

First Published : 14 Mar 2020, 11:08:07 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो