News Nation Logo
Banner

बीकानेर जमीन मामला: ED ने रॉबर्ट वाड्रा से 9 घंटे पूछताछ की, आज फिर होंगे हाजिर

ईडी के समक्ष हाजिर होने से पहले वाड्रा ने फेसबुक पर पोस्ट में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर लोकसभा चुनाव से पहले बदले की भावना से काम करने का आरोप लगाया.

PTI | Updated on: 13 Feb 2019, 12:02:32 AM
रॉबर्ट वाड्रा (फाइल फोटो : IANS)

रॉबर्ट वाड्रा (फाइल फोटो : IANS)

जयपुर:

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने बीकानेर जिले में कथित जमीन घोटाले के संबंध में मंगलवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के पति और बिजनेसमैन रॉबर्ट वाड्रा से अपने क्षेत्रीय कार्यालय में लगभग 9 घंटे तक पूछताछ की. वाड्रा को बुधवार को फिर निदेशालय के अधिकारियों के समक्ष हाजिर होने के लिए कहा गया है. वाड्रा मंगलवार को सुबह साढ़े दस बजे से रात साढे आठ बजे तक प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के क्षेत्रीय कार्यालय में रहे. इस बीच में उन्हें एक घंटे का भोजनावकाश दिया गया. रात साढे आठ बजे जैसे ही वह निदेशालय के कार्यालय से बाहर निकले वहां मौजूदा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ नारे लगाए.

वाड्रा के वकील सुमन ज्योति खेतान ने पूछताछ के बाद कहा, 'पूछताछ लगभग 9 घंटे चली. उन्होंने ईडी अधिकारियों के सवालों के जवाब दिए. वे कल सुबह साढे दस बजे एक बार फिर यहां ईडी के कार्यालय में उपस्थित होंगे.'

वकील ने बताया कि वाड्रा की मां मौरीन का स्वास्थ्य ठीक नहीं है, उनका इलाज चल रहा है इसलिए उन्हें बुधवार को पूछताछ के लिए नहीं बुलाया गया है. हालांकि उन्होंने जांच में पूरा सहयोग करने का आश्वासन दिया है.

इससे पहले सुबह साढ़े दस बजे वाड्रा अपनी मां मौरीन वाड्रा के साथ यहां अंबेडकर सर्किल स्थित ईडी कार्यालय पहुंचे. वाड्रा के साथ उनकी पत्नी व कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा उन्हें ईडी कार्यालय तक छोड़ने आईं. मौरीन लगभग एक घंटे बाद ईडी कार्यालय से चली गयीं.

वहीं ईडी के समक्ष हाजिर होने से पहले वाड्रा ने फेसबुक पर पोस्ट में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर लोकसभा चुनाव से पहले बदले की भावना से काम करने का आरोप लगाया.

और पढ़ें : राजस्थान के जैसलमेर में मिग-27 लड़ाकू विमान हुआ दुर्घटनाग्रस्त, पायलट सुरक्षित

ईडी कार्यालय की ओर जाने वाली सड़कों के किनारे के कुछ पोस्टर लगे थे जिन पर राहुल, प्रियंका व वाड्रा के फोटो के साथ 'कट्टर सोच नहीं युवा जोश' जैसे नारे लिखे हैं. हालांकि कांग्रेस के स्थानीय पदाधिकारियों ने इन पोस्टरों के बारे में अनभिज्ञता जाहिर की. ईडी कार्यालय के बाहर मौजूद कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रियंका गांधी जिंदाबाद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ 'चौकीदार चोर है' नारे लगाए.

वाड्रा जयपुर में ईडी के सामने पहली बार हाजिर हुए हैं. इससे पहले जांच एजेंसी ने दिल्ली में उनसे तीन बार पूछताछ कर चुकी है. एजेंसी वाड्रा के खिलाफ कथित धन शोधन और विदेशों में अवैध तरीके से संपत्ति खरीदने में उनकी कथित भूमिका के मामले की जांच कर रही है.

और पढ़ें : राजस्थान: गुर्जर समुदाय को मिल सकती है खुशखबरी, कल विधानसभा में बिल पेश होने की उम्मीद

राजस्थान हाई कोर्ट ने वाड्रा व उनकी मां से कहा था कि वे एजेंसी को जांच में सहयोग करें. इसके बाद ही दोनों यहां ईडी कार्यालय में हाजिर हुए हैं. एजेंसी ने बीकानेर जमीन घोटाला मामले में वाड्रा को तीन बार सम्मन जारी किए लेकिन वह नहीं आए तो एजेंसी अदालत चली गयी. ईडी ने 2015 में इस बारे में एक मामला दर्ज किया था.

वाड्रा व उनकी मां मौरीन सोमवार सुबह यहां पहुंचे, वहीं प्रियंका गांधी सोमवार रात विशेष विमान से यहां आयी थी. वह वाड्रा को ईडी कार्यालय छोड़ने के बाद विशेष विमान से उत्तर प्रदेश लौट गयीं.

First Published : 12 Feb 2019, 10:54:42 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×