News Nation Logo
Banner

मंगलवार को निर्भया केस में दोषी अक्षय की पुनर्विचार याचिका पर खुली सुनवाई होगी

चीफ़ जस्टिस एस ए बोबडे ,जस्टिस आर बानूमति और जस्टिस अशोक भूषण की तीन जजों की बेंच सुनवाई करेगी.

By : Ravindra Singh | Updated on: 14 Dec 2019, 10:11:59 PM
सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट (Photo Credit: न्‍यूज स्‍टेट)

नई दिल्‍ली:

दिल्ली में हुए निर्भया गैंगरेप केस (Delhi Nirbhaya Gang Rape Case 2012) में दोषी अक्षय की पुनर्विचार याचिका (Review Petition of Akshay Kumar) पर मंगलवार को दोपहर दो बजे खुली अदालत (Open Court) में सुनवाई होगी. चीफ़ जस्टिस एस ए बोबडे ,जस्टिस आर बानूमति और जस्टिस अशोक भूषण की तीन जजों की बेंच सुनवाई करेगी. इसके पहले दिल्ली में 12 दिसंबर को हुए निर्भया गैंगरेप केस के चारो आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई जा चुकी है.

आपको बता दें कि दिल्ली में 12 दिसंबर को हुए निर्भया गैंगरेप के चारो आरोपी इस समय तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद हैं. इन आरोपियों को निर्भया बलात्कार-हत्याकांड (Nirbhaya Gangrape and Murder Case) के जुर्म में फांसी की सजा सुना दी गई है. जिसके बाद इन चारों आरोपियों में से एक अक्षय कुमार ने सुप्रीम कोर्ट में एक पुनर्विचार याचिका दायर की है. 

यह भी पढ़ेें-प्रदर्शनकारी छात्रों ने JNU कैंपस में वाइस चांसलर पर हमला, कार के शीशे तोड़े

जेल के सूत्रों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. सूत्रों ने बताया कि चारों दोषियों- अक्षय, मुकेश, पवन गुप्ता और विनय शर्मा के साथ चार-पांच सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है, ताकि वे खुद को कोई नुकसान न पहुंचा सकें. तिहाड़ जेल के महानिदेशक संदीप गोयल (Sandeep Goyel) समेत वरिष्ठ अधिकारियों ने शुक्रवार को जेल का दौरा कर दोषियों को फांसी पर लटकाने की तैयारियों का जायजा लिया और संतुष्टि जाहिर की. इस चर्चित मामले की कोई जानकारी लीक न हो, इसके लिये तिहाड़ जेल के अधिकारियों के फोन निगरानी पर लगा दी गई हैं.

यह भी पढ़ें-देश की टूटी अर्थव्यवस्था को छोड़, मोदी सरकार गोलवलकर और सावरकर के एजेंडे को आगे बढ़ाने में जुटी: चिदंबरम

First Published : 14 Dec 2019, 09:01:29 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×