News Nation Logo
Banner

Coronavirus: रैपिड टेस्ट किट का हुआ था टेंडर, ICMR ने भुगतान पर लगाई रोक

चीन से आयातित कोविड-19 रैपिड टेस्ट किट में गड़बड़ी पाए जाने के बाद इसके इस्तेमाल पर आईसीएमआर ने रोक लगा दिया गया. रैपिड टेस्ट किट के लिए किए जाने वाले भुगतान पर भी रोक लगा दी गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 27 Apr 2020, 05:18:42 PM
corona virus

रैपिड टेस्ट किट का हुआ था टेंडर (Photo Credit: प्रतिकात्मक फोटो)

नई दिल्ली:  

चीन (China) से आयातित कोविड-19 रैपिड टेस्ट किट में गड़बड़ी पाए जाने के बाद इसके इस्तेमाल पर आईसीएमआर ने रोक लगा दिया गया. रैपिड टेस्ट किट (rapid test kit) के लिए किए जाने वाले भुगतान पर भी रोक लगा दी गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने इसकी सूचना देते हुए कहा कि रैपिड टेस्ट किट पर रोक लगा दी गई है.

लव अग्रवाल ने बताया, 'रैपिड टेस्ट किट का टेंडर हुआ था. फिल्ड की शिकायतों पर आईसीएमआर ने उनका भुगतान रोक दिया. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि डेडिकेट कोविड हॉस्पिटल पर जोर देना होगा. जिससे अन्य बीमारियों का इलाज अन्य अस्पतालों में चला रहे.

उन्होंने कहा कि टैली मेडिसिन पर भी काम कर रहे हैं. हमारे पास टेस्ट किटों की कमी नहीं है. जैसे-जैसे इसकी जरूरत होगी, हम किट मंगाएंगे.

इसे भी पढ़ें:क्या कोरोना टेस्टिंग में हो रहा है भ्रष्टाचार? ICMR ने उदित राज को दिया ये जवाब

पीएम मोदी ने सभी राज्यों के सीएम से की बातचीत

लॉकडाउन खोलने को लेकर लव अग्रवाल ने कहा कि आज प्रधानमंत्री जी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत की. उन्होंने मुख्यमंत्रियों से कहा कि सजग रहें. सचेत रहें. रेड जोन और ऑरेंज जोन में पड़ने वाले सभी जिलों में सख्ती रखते हुए चैन ऑफ ट्रांसमिशन को तोड़ा जाए.

बता दें कि चीन से आयातित रैपिड टेस्ट किट को लेकर इसके वितरक और आयातक के बीच मुकदमेबाजी हो गई.मामला दिल्ली हाईकोर्ट पहुंच गया है. इस दौरान एक खुलासा हुआ कि आईसीएमआर को बेची गई किट में बहुत मोटा मुनाफा कमाया गया है.

और पढ़ें:क्वारंटीन किए गए लोगों को अमानवीय तरीके से खाना देने वाले BDO पर गिरी गाज, जांच में पाया था दोषी

रैपीड टेस्ट किट को लेकर हुआ खुलासा 

इस किट की भारत में आयात लागत 245 रुपये ही है, लेकिन इसे ICMR को 600 रुपये प्रति किट बेचा गया है, यानी करीब 145 फीसदी के मोटे मुनाफे के साथ.रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट किट के एकमात्र डिस्ट्रीब्यूटर रेयर मेटाबोलिक्स ने आयातक मैट्रिक्स लैब्स के खिलाफ एक याचिका दाखिल की थी. मैट्रिक्स लैब्स ने इस किट को चीन के वोंडफो बायोटेक से आयात किया था.

First Published : 27 Apr 2020, 05:14:39 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.