News Nation Logo
Banner

राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को दी चेतावनी- आतंकवाद बंद करो नहीं तो हो जाएंगे टुकड़े-टुकड़े

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने आतंकवाद के मुद्दे पर एक बार फिर पाकिस्तान (Pakistan) को आड़े हाथ लिया है.

न्यूज स्टेट ब्यूरो | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 15 Sep 2019, 06:24:42 AM
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (ANI)

नई दिल्ली:  

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने आतंकवाद के मुद्दे पर एक बार फिर पाकिस्तान (Pakistan) को आड़े हाथ लिया है. उन्होंने गुजरात के सूरत में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, पाकिस्तान को आतंकवाद पर लगाम लगानी चाहिए, नहीं तो कोई भी इसे टुकड़ों में तोड़ने से नहीं रोक सकेगा. उन्होंने आगे कहा, भारत के अल्पसंख्यक सुरक्षित थे, सुरक्षित हैं, और सुरक्षित रहेंगे. इंडिया (India) जाति या धर्म के आधार पर लोगों को विभाजित नहीं करता है.

यह भी पढ़ेंःJ&K को इतना चमकाओ कि PoK के लोग भी कहें हमें भी भारत में मिला लो : सत्यपाल मलिक

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि अनुच्छेद 370 को रद्द करने के भारत के फैसले को पाकिस्तान सहन नहीं कर पा रहा है. पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र में भी गया और उन्हें गुमराह करने की कोशिश की. सरहद पर पहरा देते हुए शहीद हुए 122 सैनिकों की याद में रखे गए कार्यक्रम में बोलते हुए राजनाथ सिंह ने कहा, अगर पाकिस्तान की तरफ से कोई भी घुसपैठ होती है तो हमारी सेना इसके लिए भी तैयार बैठी है. कोई भी घुसपैठिया भारत से जिंदा वापस नहीं लौटेगा.

राजनाथ सिंह ने आगे कहा. पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (Imran Khan) ने अपने यहां के लोगों को सही सलाह दी है कि उन्हें लाइन ऑफ कंट्रोल (LOC) पार नहीं करनी चाहिए, क्योंकि हमारी सेना तैयार है. अगर वो सीमापार कर यहां आते हैं तो वापस नहीं जा पाएंगे. इमरान खान ने मुजफ्फराबाद में शुक्रवार को बोलते हुए कहा था कि पाकिस्तान के लोगों से आग्रह किया था कि वह एलओसी की ओर तबतक मार्च न करें, जबतक वह उनसे नहीं पूछते.

यह भी पढ़ेंःजेल में बंद नवाज शरीफ और बेटी मरियम जल्द छोड़ देंगे पाकिस्तान, इमरान खान के साथ ये हुई है डील

उन्होंने आगे कहा, पाकिस्तान, जो अपने देश में अल्पसंख्यकों को सुरक्षा प्रदान करने में सक्षम नहीं है, वह मानव अधिकारों के बारे में बात कर रहा है. अगर कहीं भी मानवाधिकारों का उल्लंघन हो रहा है तो वह पाकिस्तान में है. भारत में अल्पसंख्यक सुरक्षित थे, सुरक्षित हैं, और सुरक्षित रहेंगे. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को विभाजित करने की आवश्यकता नहीं है वह खुद टूट जाएगा. पाकिस्तान को आतंकवाद का समर्थन करना बंद कर देना चाहिए, अन्यथा उसे टूटने से कोई नहीं रोक सकता. रक्षा मंत्री ने मारुति वीर जवान ट्रंप की तरफ से 122 शहीदों को परिजनों को ढाई लाख रुपए की सहायता राशि दी.

First Published : 14 Sep 2019, 11:07:07 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.