News Nation Logo

गुजरात : राजकोट निगम ने सरकार से नर्मदा नदी से पानी छोड़ने की मांग की

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 30 Dec 2022, 02:30:01 PM
Rajkot water

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

राजकोट:   गुजरात के राजकोट में अजी और न्यारी बांधों में जल स्तर खतरनाक स्तर से काफी कम हो गया है, जिसके बाद नगर निगम ने राज्य सरकार से नर्मदा नदी से 1350 मिलियन क्यूबिक फीट पानी छोड़ने का आग्रह किया है।

गर्मियों के दौरान राजकोट की पेयजल जरूरतों को बनाए रखने के लिए जलाशयों को भरना आवश्यक है।

राजकोट नगर आयुक्त अमित अरोड़ा ने मीडियाकर्मियों को बताया कि शहर की दैनिक पेयजल आवश्यकता 350 मिलियन लीटर प्रतिदिन है। आजी बांध में जल भंडारण 525 एमएफसीटी है, जो मध्य फरवरी तक शहर की मांग को पूरा कर सकता है। न्यारी बांध में पानी का भंडारण 31 मई तक और भादर बांध में 31 अगस्त तक पानी की जरूरत पूरी हो सकती है।

आयुक्त ने कहा कि निगम ने सरकार से आजी बांध में नर्मदा का पानी छोड़ने का अनुरोध किया है ताकि शहर की पानी की जरूरतों को पूरा किया जा सके।

राजकोट शहर की वार्षिक आवश्यकता 1080 एमसीएफटी है, और मांग को पूरा करने के लिए सरकार साल में दो बार नर्मदा का पानी छोड़ती है। पहली बार सितंबर में और दूसरी बार फरवरी में। मानसून आने तक नियमित जलापूर्ति के लिए शहर को कम से कम 700 एमसीएफटी की आवश्यकता होगी।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 30 Dec 2022, 02:30:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.