News Nation Logo
Banner
Banner

सचिन-गहलोत की दूरियां कम करेगा उपचुनाव, हाईकमान की नई सोच

आलाकमान और गहलोत की ओर से ये संकेत दिए गए हैं कि पंजाब जैसे हालात राजस्थान में नहीं बनने दिए जाएंगे. फिलहाल इसी प्लान के तहत कांग्रेस नेतृत्व राजस्थान में काम कर रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 08 Oct 2021, 09:31:50 AM
Pilot Gehlot

उपचुनाव में प्रचार के लिए सचिन पायलट का नाम शामिल. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • कांग्रेस आलाकमान गहलोत-पायलट की दूरियां पाटने की तैयारी में जुटा
  • संकेत हैं कि पंजाब जैसे हालात राजस्थान में नहीं बनने दिए जाएंगे
  •  

नई दिल्ली:

राजस्थान उपचुनाव के सहारे कांग्रेस आलाकमान अशोक गहलोत और सचिन पायलट के मतभेद दूर कर दूरियां पाटने की तैयारी में जुटा है. दरअसल अब तक केवल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश अध्यक्ष गोविंद डोटासरा व प्रदेश प्रभारी अजय माकन की ओर से ही उपचुनाव के प्रचार में शमिल होने का ऐलान किया गया था, लेकिन आलाकमान की ओर से अचानक सचिन पायलट को भी इस लिस्ट में शामिल कर दिया गया. इस बीच, आलाकमान और गहलोत की ओर से ये संकेत दिए गए हैं कि पंजाब जैसे हालात राजस्थान में नहीं बनने दिए जाएंगे. फिलहाल इसी प्लान के तहत कांग्रेस नेतृत्व राजस्थान में काम कर रही है.

सचिन पायलट भी होंगे प्रचार में शामिल
सचिन उपचुनाव के लिए शुक्रवार को दो रैलियों को सम्बोधित करेंगे. सुबह 11 बजे वल्लभगनगर की सीट को सम्बोधित करेंगे इसके बाद दोपहर एक बजे धरियावद विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए प्रचार करेंगे. पार्टी ने इसके लिए एक हेलीकॉप्टर की भी व्यवस्था की है. गौरतलब है कि मंगलवार शाम सचिन को हाईकमान की ओर से अचानक दिल्ली आने को कहा गया, जिसके बाद प्रियंका गांधी के करीबी माने जाने वाले प्रमोद कृष्णम के साथ उन्हें सड़क मार्ग से लखीमपुर खीरी रवाना किया गया. हालांकि देर शाम सचिन को उत्तरप्रदेश पुलिस ने मुरादाबाद में ही हिरासत में ले लिया और गुरुवार सुबह यूपी बॉर्डर लाकर छोड़ दिया. सचिन और प्रमोद कृष्णम लखीमपुर खीरी तक नहीं पहुंच पाए, लेकिन सचिन आलाकमान तक अपना मेसेज जरूर पहुंचाने में कामयाब रहे. इसी बीच आलाकमान ने राजस्थान उपचुनाव में सचिन की भी भूमिका तय कर दी.

नामांकन के दौरान भी करेंगे शिरकत
सचिन पायलट से इतर अगर पार्टी के अन्य नेताओं की बात करें तो प्रदेश प्रभारी अजय माकन, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा दोनों सीटों पर नामांकन के दौरान मौजूद रहेंगे. प्रदेश प्रभारी अजय माकन के अनुसार सचिन और गहलोत उनके साथ एक ही मंच पर मौजूद रहेंगे. वे सुबह 11 बजे वल्लभ नगर और दोपहर 1 बजे धरियावद में कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में जनसभा को संबोधित करेंगे. इसके बाद तीनों नेता शाम 4:30 बजे हेलिकॉप्टर से वापस जयपुर के लिए रवाना हो जाएंगे.

ये हैं कांग्रेस-बीजेपी के उम्मीदवार
उपचुनाव के लिए बीजेपी और कांग्रेस ने अपने अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है. भाजपा ने धरियावद से खेत सिंह मीणा, जबकि वल्लभ नगर से हिम्मत सिंह झाला को अपना उम्मीदवार बनाया है. वहीं कांग्रेस ने वल्लभ नगर से दिवंगत विधायक गजेंद्र सिंह शक्तावत की पत्नी प्रीति शक्तावत को और धरियावद से पूर्व विधायक नगराज मीणा को मैदान में उतारा है. उपचुनाव के लिए नामांकन की आखिरी तारीख 8 अक्टूबर है. फिलहाल अब तक किसी भी उम्मीदवार ने अपना नामांकन दाखिल नहीं किया है. हालांकि वल्लभनगर और धरियावद दोनों ही विधानसभा सीटों से कांग्रेस के प्रत्याशियों को मजबूत उम्मीदवार के तौर पर देखा जा रहा है.

First Published : 08 Oct 2021, 09:31:50 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.