News Nation Logo
Banner

राहुल गांधी ने बिरला को पत्र लिखा, कहा- सदस्यों को मुद्दे उठाने का अधिकार है

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को पत्र लिखकर आरोप लगाया कि उन्हें रक्षा मामलों की संसदीय समिति की बैठक में बोलने की अनुमति नहीं दी गई.

Bhasha | Updated on: 17 Dec 2020, 06:14:51 PM
rahul gandhi

राहुल गांधी (Photo Credit: फाइल फोटो)

दिल्ली:

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को पत्र लिखकर आरोप लगाया कि उन्हें रक्षा मामलों की संसदीय समिति की बैठक में बोलने की अनुमति नहीं दी गई. सूत्रों ने बताया कि गांधी ने बुधवार को रक्षा मामलों की समिति की बैठक से उनके एवं कुछ अन्य कांग्रेस के सदस्यों के बहिर्गमन की पृष्ठभूमि में बिरला को पत्र लिखा है.

राहुल गांधी ने इस पत्र में कांग्रेस नेता ने आग्रह किया कि लोकसभा अध्यक्ष इस मामले में दखल दें और संसदीय समिति की बैठकों में निर्वाचित सांसदों के खुलकर अपनी बात रखने के अधिकार को सुनिश्चित करें. सूत्रों के मुताबिक, राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि रक्षा मामलों की समिति की बैठक के दौरान उन्हें बोलने की अनुमति नहीं दी गई, जबकि वह राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े विषयों को रखना चाहते थे.

इसे भी पढ़ें:केजरीवाल ने विधानसभा में कृषि कानून की कॉपी फाड़ी, कही ये बड़ी बात

गौरतलब है कि राहुल गांधी और पार्टी के कुछ अन्य सदस्यों ने रक्षा मामले की संसदीय समिति की बैठक से बुधवार को यह आरोप लगाते हुए बहिर्गमन किया कि राष्ट्रीय सुरक्षा के महत्वपूर्ण मुद्दे की बजाय सशस्त्र बलों की वर्दी के रंग पर चर्चा करने में समय बर्बाद किया जा रहा है.

सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी समिति के समक्ष लद्दाख में चीन की आक्रामकता और सैनिकों को बेहतर उपकरण उपलब्ध कराने से जुड़े मुद्दे उठाने चाहते थे, लेकिन समिति के अध्यक्ष जुएल उरांव (भाजपा) ने उन्हें इसकी अनुमति नहीं दी. बोलने की अनुमति नहीं मिलने पर गांधी ने बैठक से बहिर्गमन का फैसला किया.

और पढ़ें:दिल्ली हाई कोर्ट का फैसला- शादी का वादा करके सेक्स करना हमेशा रेप नहीं

इसके बाद समिति की बैठक में शामिल कांग्रेस सांसद राजीव सातव और रेवंत रेड्डी भी उनके साथ बाहर चले गए. राहुल गांधी लद्दाख में चीन की आक्रमकता को लेकर पिछले कई महीनों से सरकार पर निशाना साधते आ रहे हैं. पिछले दिनों भाजपा ने उन पर पलटवार करते हुए आरोप लगाया था कि वह रक्षा मामलों की संसदीय समिति की बैठक में शामिल नहीं होते. 

First Published : 17 Dec 2020, 06:14:51 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.