News Nation Logo

राहुल और प्रियंका ने मोदी सरकार से पूछा- देविंदर पर चुप्पी क्यों, किसके इशारे पर कर रहा था वो काम?

राहुल गांधी (Rahul gandhi)ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार देविंदर सिंह के मामले पर चुप क्यों हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 16 Jan 2020, 08:22:57 PM
राहुल गांधी और प्रियंका गांधी

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

आतंकवादियों के साथ मिलकर देश से गद्दारी करने के आरोपी जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीएसपी देविंदर सिंह को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने और प्रियंका गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह पर सवाल उठाए हैं. राहुल गांधी (Rahul gandhi)ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार देविंदर सिंह के मामले पर चुप क्यों हैं.

राहुल गांधी ने कहा, 'डीएसपी देविंदर सिंह ने 3 ऐसे आतंकियों को अपने घर में पनाह दी, जिनके हाथ भारतीयों के खून से लाल थे. उसे उस वक्त पकड़ा गया जब वह आतंकियों को दिल्ली ले जा रहा था. उसके खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाना चाहिए, 6 महीने में फैसला आना चाहिए. अगर वह दोषी पाया जाता है तो भारत के खिलाफ विद्रोह के लिए कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए.'

राहुल गांधी ने ट्वीट करके कई सवाल दागे. राहुल गांधी ने कहा, 'पीएम मोदी, अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार देविंदर सिंह के मामले पर चुप क्यों हैं?'

इसके साथ ही राहुल गांधी ने पूछा, 'पुलवामा हमले में देविंदर सिंह का क्या रोल है? उन्होंने और कितने आतंकवादियों की मदद की?.'

राहुल ने इसके साथ यह भी पूछा कि कौन है जो उन्हें बचा रहा है और क्यों?

इसे भी पढ़ें:भारत-पाक रिश्तों की दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति ने अफगानिस्तान को अत्यधिक प्रभावित किया:करजई

इधर, कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी मोदी सरकार को निशाने पर लिया. ट्वीट करके प्रियंका गांधी ने कहा, 'डीएसपी देविंदर सिंह की गिरफ्तारी से परेशान करने वाले सवाल खड़े हुए हैं जो भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण हैं. यह बहुत अजीब लगता है कि वह न सिर्फ शिनाख्त किए जाने से बचा, बल्कि वह मौजूदा हालात में जम्मू-कश्मीर में विदेशी राजनयिकों के दौरे के समय उनके साथ रहने जैसे महत्वूपर्ण संवेदनशील ड्यूटी में लगाया गया.’

उन्होंने सवाल किया, ‘वह किसके निर्देशों पर काम कर रहा था?’

कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘पूरी जांच होनी चाहिए. भारत के खिलाफ आतंकी हमले के षड्यंत्र में मदद करना देशद्रोह है.

First Published : 16 Jan 2020, 08:17:05 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.