News Nation Logo
Banner

Punjab : पाकिस्तान ने अटारी-वाघा बॉर्डर के रास्ते मछुआरों को भारत भेजा

पुलवामा हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव की स्थिति है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 15 Apr 2019, 09:01:02 PM
अटारी-वाघा बॉर्डर पर पाक ने मछुआरों को भारत को सौंपा (ANI)

अटारी-वाघा बॉर्डर पर पाक ने मछुआरों को भारत को सौंपा (ANI)

नई दिल्ली:

पुलवामा हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव की स्थिति है. तनाव कम करने के लिए पाकिस्तान लगातार भारत के पक्ष में फैसला ले रहा है. दूसरे बैच में पाकिस्तान की सरकार ने सोमवार को 100 भारतीय मछुवारों को अटारी-वाघा बॉर्डर के रास्ते भारत भेज दिया है. पाक ने इस महीने भारत के 360 मछुवारों को चार चरण में रिहा करने का ऐलान किया था.

यह भी पढ़ें ः एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ बोले, अगर बालाकोट हमले में राफेल विमान होता तो परिणाम कुछ और होता

पाकिस्तान ने भारतीय मछुवारों के पहले बैच को 7 अप्रैल को रिहा किया था. अधिकारी ने कहा कि सद्धभावना का संकेत देते हुए अन्य 100 भारतीय मछुवारों को कराची के मलीर जेल से रिहा किया गया है. उन्हें लाहौर तक ट्रैन में ले जाया गया था और सोमवार को वाघा बॉर्डर पर भारतीय विभाग के सुपुर्द कर दिया गया.

यह भी पढ़ें ः अंतरिम वित्तीय बजट नहीं मिलने की वजह से जेट एयरवेज ने फिर अंतर्राष्ट्रीय उड़ान रद्द की

यह मछुवारे गैर कानूनी तरीके से पाकिस्तानी जल क्षेत्र में फिशिंग कर रहे थे. मछुवारों का तीसरा बैच 22 अप्रैल और 60 मछुवारों का चौथा बैच 29 अप्रैल को भारत पंहुचेगा. जाहिर है भारत और पाकिस्तान के बीच पानी में कोई निर्धारित सीमा नहीं है, जिसके चलते अक्सर दोनों देश एक दुसरे के मछुआरों को पकड़ लेते हैं और वैश्विक नियमों के तहत उन्हें छोड़ भी देते हैं.

यह भी पढ़ें ः ED ने हरियाणा के पूर्व सीएम ओम प्रकाश चौटाला की 3.5 करोड़ रुपये की संपत्तियां जब्त की

कानूनी और आधिकारिक धीमी प्रक्रिया के कारण मछुवारों को कई महीने या वर्षों तक जेल में ही रहना पड़ता है. भारत और पाकिस्तान के बीच आतंकवाद को लेकर तनाव चरम पर है. 14 फरवरी को पाकिस्तानी समर्थित जैश ए मोहम्मद के एक फियादीन हमलावर ने सीआरपीएफ की बस पर आतंकी हमले को अंजाम दिया था. इस हमले में 40 जवानों शहीद हो गए थे.

First Published : 15 Apr 2019, 08:40:22 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो