News Nation Logo
Banner

हरियाणा के किसानों ने पुलिस कार्रवाई के खिलाफ राजमार्गो को जाम किया

हरियाणा के किसानों ने पुलिस कार्रवाई के खिलाफ राजमार्गो को जाम किया

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 28 Aug 2021, 06:20:01 PM
Proteting farmer

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

चंडीगढ़: हरियाणा में स्थानीय निकाय चुनाव कराने को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की अध्यक्षता में भाजपा की राज्यस्तरीय बैठक के विरोध में शनिवार को जुटे प्रदर्शनकारी किसानों और पुलिस के बीच हिंसा भड़क गई।

पुलिस ने करनाल की ओर जाते किसानों को रोकने और उन्हें तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया, जिसमें कम से कम 10 प्रदर्शनकारी घायल हो गए।

खट्टर के गृहनगर में हुई बैठक में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ओ.पी. धनखड़ भी मौजूद थे।

किसानों के खिलाफ बल प्रयोग के विरोध में भारतीय किसान संघ (हरियाणा इकाई) के प्रमुख गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने राज्य में सभी राजमार्गो को अवरुद्ध करने का आह्वान किया।

चढ़ूनी ने कहा, हम किसानों पर पुलिस से बल प्रयोग करवाने के लिए राज्य की भाजपा सरकार की आलोचना करते हैं। मैं सभी किसानों से राज्य के सभी राजमार्गो को जाम करने का अनुरोध करता हूं।

हिसार, जींद, भिवानी, रोहतक, दादरी, फतेहाबाद और अंबाला में यातायात बाधित होने की सूचना मिली है।

पंजाब में शंभू सीमा पर अमृतसर से नई दिल्ली जाने वाले राजमार्ग पर यातायात बाधित हो गया है। साथ ही अंबाला और यमुनानगर के रास्ते उत्तर प्रदेश जाने वाले राजमार्ग पर भी यातायात प्रभावित हुआ है।

किसान समूह अपने छत्र निकाय संयुक्त किसान मोर्चा के तहत कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। संगठन के नेता दर्शन पाल ने किसानों से शाम 5 बजे सड़कों की नाकाबंदी करने का आग्रह किया। उन्होंने प्रशासन से झड़प के दौरान गिरफ्तार किए गए लोगों को रिहा करने की मांग की।

कांग्रेस नेता और दो बार के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने किसानों पर लाठीचार्ज की निंदा की।

हुड्डा ने एक ट्वीट में कहा, करनाल में किसानों पर कार्रवाई अलोकतांत्रिक और अमानवीय है। लोकतंत्र में विरोध करने का अधिकार सभी को है। सरकारें गोली के डर से नहीं, बल्कि दिल जीतने से चलती हैं।

भाजपा सरकार और उसके नेता, मुख्य रूप से पंजाब और हरियाणा में, तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों की नाराजगी का सामना कर रहे हैं। किसान खासकर राष्ट्रीय राजधानी की सीमाओं पर, पिछले साल नवंबर के अंत से ही लगातार धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 28 Aug 2021, 06:20:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.