News Nation Logo
Banner

प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर बोला हमला, कहा- देश की गरीब जनता के खिलाफ है NRC-CAA

CAA के खिलाफ पूरे देश में हिंसक प्रदर्शन जारी है. इसे लेकर कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) लगातार प्रदर्शनकारियों का समर्थन कर रही हैं.

न्यूज स्टेट ब्यूरो | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 21 Dec 2019, 04:55:39 PM
कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी

नई दिल्‍ली:  

CAA के खिलाफ पूरे देश में हिंसक प्रदर्शन जारी है. इसे लेकर कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) लगातार प्रदर्शनकारियों का समर्थन कर रही हैं. प्रियंका गांधी वाड्रा की ओर से शनिवार को एक बयान जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि जनता की आवाज दबाने के लिए देश में तानाशाही का तांडव जारी है. एनआरसी (NRC) और नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) देश की गरीब जनता के खिलाफ है. छात्रों, बुद्धिजीवियों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, वकीलों और पत्रकारों की गिरफ्तारी निंदनीय है.

यह भी पढ़ेंःCAA का विरोध : उत्तर प्रदेश के रामपुर में हिंसक प्रदर्शन, लोगों ने पुलिस पर किया पथराव, एक की मौत

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून भारत के संविधान के मूल आत्मा के खिलाफ है. किसी भी कीमत पर बाबा साहेब आंबेडकर के संविधान पर हमला नहीं होने दिया जाएगा. जनता इस हमले के खिलाफ सड़क पर उतर कर संविधान के लिए लड़ रही है, लेकिन सरकार बर्बर दमन और हिंसा पर उतारू है.

उन्होंने आगे कहा कि एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून देश की गरीब जनता के खिलाफ है. भाजपा सरकार ने जैसे नोटबंदी में गरीबों को लाइन में खड़ा किया था अब एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून के नाम पर लोगों को लाइन में खड़ा करेगी, एक ‘कट ऑफ डेट’ तय करेगी और हर एक भारतीय को अपनी भारतीयता सिद्ध करने के लिए उस डेट के पहले का कोई मान्य दस्तावेज पेश करना पड़ेगा. इससे ज़्यादातर गरीब और वंचित लोगों को प्रताड़ित किया जाएगा.

प्रियंका गांधी ने आगे कहा कि देश के तमाम हिस्सों से छात्रों, बुद्धिजीवियों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, वकीलों और पत्रकारों की अवैध रूप से गिरफ्तारियां निंदनीय हैं. पूरे देश समेत उत्तर प्रदेश के हर जिले से लोगों को गिरफ्तार करके पुलिस कहां ले जा रही है, किसी को पता नहीं है. यह लोकतंत्र के लिए काला दिन है. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में दो दिन से कई सामाजिक-राजनीतिक कार्यकर्ताओं को पुलिस अवैध हिरासत में रखी हुई है. उनके परिजनों को उनकी गिरफ्तारी की कोई खबर नहीं दी गई. मीडिया के माध्यम से दिल दहला देने वाली खबर मिल रही है कि उनको पुलिस हिरासत में मारा पीटा जा रहा है.

यह भी पढ़ेंःCAA पर हिंसा का ISI कनेक्शन आया सामने, स्लीपर सेल मुहैया करा रहे पैसा

उन्होंने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश में संचार व इंटरनेट सरकार ने बंद कर रखा है. फिरोजाबाद, अमरोहा, मुरादाबाद, बरेली, रामपुर, कानपुर और गोरखपुर में पुलिस ने शांतिपूर्ण चल रहे प्रदर्शनों पर लाठीचार्ज किया. जगह-जगह चल रहे प्रदर्शन और मार्च में पुलिस लोगों को हिंसा के लिए उकसा रही है. उत्तर प्रदेश में पुलिसिया हिंसा में 15 लोगों के मारे जाने की खबर है।.

कांग्रेस महासचिव ने आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी शांति और सौहार्द बनाने की अपील करती है. सत्य और अहिंसा के रास्ते देश को आजादी मिली. आज जरूरी है कि बाबा साहेब अंबेडकर के संविधान की रक्षा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बताए गए सत्य और अहिंसा के रास्ते से की जाए.

First Published : 21 Dec 2019, 04:53:42 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.