News Nation Logo
महाराष्ट्रः कल्याण की आधारवाड़ी जेल में 20 कैदी कोरोना पॉजिटिव आर्यन खान पर NCB का बड़ा बयान, आर्यन की काउंसिलिंग की गई आर्यन ने दोबारा गलती न करने की बात कही: NCB रिहाई के बाद गरीबों के लिए काम करेंगे आर्यन खान: NCB कांग्रेस सिर्फ एक परिवार की पार्टी है: संबित पात्रा कश्मीर पर कांग्रेस भ्रम फैला रही है: संबित पात्रा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चारधाम यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं से सावधानी बरतने की अपील की भाजपा कार्यालय में हो रही राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक का पहला चरण खत्म किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर मोदी नगर (उ.प्र.) में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोकी ISI Chief पर बीवी के टोटके पर अड़े इमरान, पाक सेना के जनरल ने लगाई लताड़ संयुक्त किसान मोर्चा के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर प्रदर्शनकारी बहादुरगढ़ में रेलवे ट्रैक पर बैठे दिल्ली में लगातार दूसरे दिन भी बारिश का दौर जारी. जगह-जगह जलभराव लखीमपुर हिंसा के विरोध में किसानों का रेल रोको आंदोलन आज. 6 घंटे ठप करेंगे ट्रैक दिल्ली सरकार का प्रदूषण के खिलाफ अभियान आज से. ढाई हजार स्वयंसेवक होंगे शामिल डेरा सच्चा सौदा राम रहीम के खिलाफ हत्या के मामले में सजा पर फैसला आज. जिले में अलर्ट जारी मुंबई-पुणे हाईवे पर खंडाला घाट के पास भीषण हादसा, 3 की मौत 24 घंटे में कोरोना के 13,596 नए केस आए सामने
Banner
Banner

PM मोदी ने रक्षा मंत्रालय के नए कार्यालयों का किया उद्घाटन, ये होगा फायदा

रक्षा कार्यालय परिसर दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग और अफ्रीका एवेन्यू में हैं. नए रक्षा कार्यालय परिसरों में सेना, नौसेना और वायु सेना सहित रक्षा मंत्रालय और सशस्त्र बलों के लगभग 7,000 अधिकारी काम कर सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 16 Sep 2021, 11:47:21 AM
Defence Complex

PM मोदी ने रक्षा मंत्रालयों के नए कार्यालय का किया उद्घाटन (Photo Credit: ANI)

highlights

  • रक्षा मंत्रालय के 7000 कर्मचारी बैठ सकेंगे एक जगह
  • सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट की वेबसाइट भी हुई लांच 
  • दोनों इमारतों पर खर्च हुए 775 करोड़ रुपए

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में दो रक्षा कार्यालय परिसरों का उद्घाटन किया. ये रक्षा कार्यालय परिसर दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग और अफ्रीका एवेन्यू में हैं. नए रक्षा कार्यालय परिसरों में सेना, नौसेना और वायु सेना सहित रक्षा मंत्रालय और सशस्त्र बलों के लगभग 7,000 अधिकारी काम कर सकते हैं. इस मौके पर पीएम मोदी ने सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट की वेबसाइट भी लांच की. PMO की तरफ से बताया गया था कि ये भवन आधुनिक होने के साथ-साथ सुरक्षित भी हैं. उद्घाटन कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, आवास और शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी, रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट, आवास और शहरी कार्य राज्य मंत्री कौशल किशोर, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल विपिन रावत (सीडीएस) और सशस्त्र बलों के प्रमुख शामिल रहे.

केंद्र सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट सेंट्रल विस्टा के तहत पहली बिल्डिंग तैयार हो गई हैं. नए रक्षा कार्यालय परिसर काफी एडवांस हैं. इन इमारतों की एक खासयित यह भी है कि इनके निर्माण में नई और टिकाऊ निर्माण तकनीक, एलजीएसएफ (लाइट गेज स्टील फ्रेम) का इस्तेमाल हुआ है. इस तकनीक की वजह से पारंपरिक आरसीसी निर्माण की तुलना में निर्माण समय 24-30 महीने कम हो गया.

दरअसल, अबतक रक्षा मंत्रालय का मुख्य दफ्तर साउथ ब्लॉक के पास था, जबकि बाकी दफ्तर इधर-उधर थे. इनको अब इन दो बिल्डिंग्स में समाहित कर दिया जाएगा. दोनों ही बिल्डिंग्स अब तैयार हैं. अगले कुछ महीनों में कर्मचारी इनमें शिफ्ट हो जाएंगे.

यह भी पढ़ेंः चीन और उसके पिट्ठू पाकिस्तान के लिए बनेगी रॉकेट फोर्स: CDS रावत

क्या होगा फायदा 
ये दोनों इमारतें सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट का हिस्सा हैं. पहला कार्यालय कस्तूरबा गांधी मार्ग (सेंट्रल दिल्ली) और दूसरा अफ्रीका एवेन्यू (चाणक्यपुरी) में स्थित है. रक्षा मंत्रालय के इन दो कार्यालयों को तैयार करने में 775 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं. जानकारी के मुताबिक इन दो दफ्तरों में कुल 7 हजार ऑफिसर्स-कर्मचारी काम कर सकेंगे. जो कि 27 अलग-अलग संगठनों के होंगे. नए रक्षा कार्यालय परिसरों में सेना, नौसेना और वायु सेना सहित रक्षा मंत्रालय और सशस्त्र बलों के कर्मचारी बैठेंगे.

First Published : 16 Sep 2021, 11:17:05 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो