News Nation Logo

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 ट्रेनों को दिखाई हरी झंडी, बोले- इतिहास में ऐसा पहली बार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को 8 नई ट्रेनों की सौगात दी है. प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 17 Jan 2021, 11:45:44 AM
PM Narendra Modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को 8 नई ट्रेनों की सौगात दी है. प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. जिसके तहत गुजरात के नर्मदा जिले में स्थित केवड़िया अब देश के 8 बड़े शहरों से जुड़ जाएगा. ये ट्रेनें केवड़िया को वाराणसी, मुंबई, अहमदाबाद, दिल्ली, रीवा, प्रतापनगर, दादर और चेन्नई से जोड़ेंगी. उल्लेखनीय है कि विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' भी केवड़िया में ही स्थित है. इन ट्रेनों को चलाने का फोकस देशभर के लोगों को स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से जोड़ने का भी है.

जिस नई निर्माण टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल अब रेलवे कर रही है, उसने इसमें बहुत मदद की. इस दौरान ट्रैक से लेकर पुलों के निर्माण तक नई तकनीक पर फोकस किया गया, स्थानीय स्तर पर उपलब्ध संसाधनों का उपयोग किया गया - पीएम

ये काम सिर्फ बजट बढ़ाना, घटाना, नई ट्रेनों की घोषणा करने तक सीमित नहीं रहा. ये परिवर्तन अनेक मोर्चों पर एक साथ हुआ है - पीएम 

आज़ादी के बाद हमारी ज़्यादातर ऊर्जा पहले की रेल व्यवस्था को सुधारने में लगी रही. उस दौरान नई सोच और नई तकनीक पर फोकस कम रहा. ये अप्रोच बदली जानी बहुत जरूरी थी, इसलिए बीते सालों में देश में रेलवे के पूरे तंत्र में व्यापक बदलाव करने के लिए काम किया गया- प्रधानमंत्री

एक तरफ आयुर्वेद और योग पर आधारित आरोग्य वन है, तो दूसरी तरफ पोषण पार्क है. रात में जगमगाता ग्लो गार्डन है, तो दिन में देखने के लिए कैक्टस गार्डन और बटरफ्लाई गार्डन है- मोदी

पर्यटकों को घुमाने के लिए एकता क्रूज है, तो दूसरी तरफ नौजवानों को साहस दिखाने के लिए राफ्टिंग का भी इंतेजाम है. यानी बच्चे, युवा और बुजुर्ग सभी के लिए बहुत कुछ है - पीएम

बढ़ते हुए पर्यटन के कारण केवड़िया के आदिवासी युवाओं को रोजगार मिल रहा है. यहां के लोगों के जीवन में तेजी से आधुनिक सुविधाएं पहुंच रही हैं- मोदी

छोटा सा खूबसूरत केवड़िया इस बात का बेहतरीन उदाहरण है कि कैसे प्लान तरीके से पर्यावरण की रक्षा करते हुए इकोनॉमी और इकोलॉजी दोनों का तेजी से विकास किया जा सकता है- मोदी

अपने लोकार्पण के बाद करीब-करीब 50 लाख लोग स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने आ चुके हैं- मोदी

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने के लिए अब स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से भी ज्यादा पर्यटक पहुंचने लगे हैं- मोदी

आज केवड़िया गुजरात के सुदूर इलाके में बसा एक छोटा सा ब्लॉक नहीं रह गया है, बल्कि केवड़िया विश्व के सबसे बड़े पर्यटक क्षेत्र के रूप में आज उभर रहा है- मोदी

इस रेल कनेक्टिविटी का सबसे बड़ा लाभ स्टैच्यू ऑफ यूनिटी देखने आने वाले पर्यटकों को तो मिलेगा ही, साथ ही ये केवडिया के आदिवासी भाई बहनों का जीवन भी बदलने जा रही है - पीएम

आज केवड़िया के लिए निकल रही ट्रेनों में एक ट्रेन पुरैच्ची तलैवर डॉ. एमजी रामचंद्रन सेंट्रल रेलवे स्टेशन से भी आ रही है. ये भी सुखद संयोग है कि आज भारत रत्न एमजी रामचंद्रन की जयंती भी है- पीएम

केवड़िया जगह भी ऐसी है जिसकी पहचान एक भारत-श्रेष्ठ भारत का मंत्र देने वाले, देश का एकीकरण करने वाले सरदार पटेल की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, सरदार सरोवर बांध से है- मोदी

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि रेलवे के इतिहास में संभवत: पहली बार ऐसा हो रहा है, जब एक साथ देश के अलग-अलग कोने से एक ही जगह के लिए इतनी ट्रेनों को हरी झंड़ी दिखाई गई हो. 

First Published : 17 Jan 2021, 11:38:26 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.