News Nation Logo

मन की बात: मोदी बोले- आज वर्चुअल गेम्स और खिलौना सेक्टर में भूमिका निभाने अवसर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज देश की जनता को 'मन की बात' कार्यक्रम के जरिए संबोधित कर रहे हैं. मन की बात कार्यक्रम का यह है 68वां प्रसारण है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 30 Aug 2020, 12:09:26 PM
Modi

मन की बात Live: मोदी बोले- लोकल खिलौनों के लिए वॉकल होने का समय आ गया (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज देश की जनता को 'मन की बात' कार्यक्रम के जरिए संबोधित कर रहे हैं. मन की बात कार्यक्रम का यह है 68वां प्रसारण है. इसके लिए 18 अगस्त को प्रधानमंत्री ने देश के लोगों से विचार और सुझाव साझा करने को कहा था. आज यह कार्यक्रम आकाशवाणी और दूरदर्शन के सभी नेटवर्क पर प्रसारित किया जा रहा है.

LIVE TV NN

NS

NS

आज जब हम देश को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास कर रहे हैं तो हमें पूरे आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़ना है, हर क्षेत्र में देश को आत्मनिर्भर बनाना है. असहयोग आंदोलन के रूप में जो बीच बोया गया था उसे अब आत्मनिर्भर भारत के वट वृक्ष में परिवर्तित करना हम सब का दायित्व है: मोदी

आत्मनिर्भर भारत अभियान में वर्चुअल गेम्स हो,खिलौने का सेक्टर हो,बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है, ये अवसर भी है। जब आज से सौ वर्ष पहले असहयोग आंदोलन शुरू हुआ, तो गांधी जी ने लिखा था कि असहयोग आंदोलन, देशवासियों में आत्मसम्मान और अपनी शक्ति का बौध कराने का एक प्रयास है: मोदी

आत्मनिर्भर भारत ऐप के नवाचार चुनौती के तहत एक ऐप है- KutukiKids Learning app. यह बच्चों के लिए एक इंटरैक्टिव ऐप है, जिसमें वे गणित, विज्ञान के कई पहलुओं को गीतों और कहानियों के माध्यम से आसानी से सीख सकते हैं: पीएम मोदी

मोदी बोले- खिलौनों के साथ हम दो चीजें कर सकते हैं - अपने गौरवशाली अतीत को अपने जीवन में फिर से उतार सकते हैं और अपने स्वर्णिम भविष्य को भी संवार सकते हैं.

इस जमाने में कंप्यूटर गेम्स का भी बहुत ट्रेंड है. लेकिन इनमें जितने भी गेम्स होते हैं उनकी थीम्स अधिकतर बाहर की होती हैं. हमारे देश में इतने आइडियाज़ और कॉन्सेप्ट हैं. मैं देश के युवा से कहता हूं कि भारत में और भारत के भी गेम्स बनाइए- मोदी

कंप्यूटर और स्मार्टफोन के इस युग में, कंप्यूटर गेम का एक बड़ा चलन है. ये खेल बच्चों और बड़ों द्वारा भी खेले जाते हैं. लेकिन इन खेलों में भी, उनके विषय ज्यादातर विलुप्त होते हैं: पीएम

हमारे देश में इस बार खरीफ की फसल की बुआई पिछले साल के मुकाबले 7 फीसदी ज्यादा हुई है. धान इस बार 10 फीसदी, दालें 5 फीसदी, मोटे अनाज लगभग 3 फीसदी, ऑयलसीड लगभग 13 फीसदी, कपास लगभग 3 फीसदी बोए गए हैं. इसके लिए मैं देश के किसानों को बधाई देता हूं: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

भारत के कुछ हिस्से खिलौने के समूहों के रूप में भी विकसित हो रहे हैं, जो खिलौने के केंद्र के रूप में हैं. जैसे रामनगरम (कर्नाटक) में चन्नापटना, कृष्णा (आंध्र प्रदेश) में कोंडापल्ली, तमिलनाडु में तंजावुर, असम में धुबरी, यूपी में वाराणसी- ऐसे कई स्थान हैं, हम कई नामों को गिन सकते हैं: पीएम

हमारे देश में स्थानीय खिलौनों की एक समृद्ध परंपरा रही है. कई प्रतिभाशाली और कुशल कारीगर हैं जिनके पास अच्छे खिलौने बनाने में विशेषज्ञता है: पीएम मोदी

हमारे किसानों ने कोरोना की इस कठिन परिस्थितियों में भी अपनी ताकत को साबित किया है. हमारे देश में इस बार खरीफ की फसल की बुआई पिछले साल के मुकाबले 7 प्रतिशत ज्यादा हुई है- मोदी

मोदी बोले- बिहार के पश्चिमी चंपारण में सदियों से थारू आदिवासी समाज के लोग 60 घंटे के लॉकडाउन, उनके शब्दों में ‘60 घंटे के बरना’ का पालन करते हैं. प्रकृति की रक्षा के लिए बरना को थारू समाज के लोगों ने अपनी परंपरा का हिस्सा बना लिया है और ये सदियों से है. 

आम तौर पर ये समय उत्सव का है. जगह-जगह मेले लगते हैं, धार्मिक पूजा-पाठ होते हैं. कोरोना के इस संकट काल में लोगों में उमंग और उत्साह तो है ही, मन को छू लेने वाला अनुशासन भी है: पीएम

'मन की बात' के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'यह त्योहारों का समय है, लेकिन साथ ही साथ लोगों में COVID-19 स्थिति के कारण अनुशासन की भावना भी है.

First Published : 30 Aug 2020, 11:06:22 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो