News Nation Logo
Banner

दाऊद इब्राहिम के खास मिर्ची संग जुड़ा प्रफुल्ल पटेल का नाम, ईडी को वित्तीय सौदेबाजी का शक

प्रवर्तन निदेशालय प्रफुल्ल पटेल की कंपनी से दाऊद इब्राहिम के एक सहयोगी के साथ वित्तीय और जमीन का सौदा करने के मामले में जांच कर रहा है. आरोप है कि एनसीपी नेता के परिवार के सदस्य की प्रमोटेड कंपनी और 'मिर्ची' के बीच आर्थिक सौदेबाजी हुई थी.

By : Nihar Saxena | Updated on: 13 Oct 2019, 08:38:01 AM
प्रफुल्ल पटेल का नाम जुड़ रहा दाऊद इब्राहिम से.

highlights

  • प्रफुल्ल पटेल के परिजनों की कंपनी से हुआ जमीन का सौदा.
  • 200 करोड़ रुपए की जमीन दी गई मिर्ची की पत्नी को.
  • ईडी ने 11 स्थानों पर छापेमारी में बरामद किए दस्तावेज.

नई दिल्ली:

अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम के खास सहयोगी रहे इकबाल मिर्ची का नाम एनसीपी नेता और पूर्व नागरिक उड्डयन मंत्री प्रफुल्ल पटेल से जुड़ता नजर आ रहा है. प्रवर्तन निदेशालय प्रफुल्ल पटेल की कंपनी से दाऊद इब्राहिम के एक सहयोगी के साथ वित्तीय और जमीन का सौदा करने के मामले में जांच कर रहा है. आरोप है कि एनसीपी नेता के परिवार के सदस्य की प्रमोटेड कंपनी और 'मिर्ची' के बीच आर्थिक सौदेबाजी हुई थी. अब ईडी पटेल के परिजनों से जुड़ी कंपनी मिलेनियम डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड और मिर्ची के बीच हुए कानूनी सौदेबाजी की जांच कर रहा है.

यह भी पढ़ेंः कांग्रेस नेताओं पर बरसे सलमान खुर्शीद, बोले राजनीति का ककहरा न जानने वाले दे रहे ज्ञान

मिर्ची के परिजनों को दिया गया प्लॉट
सूत्रों का कहना है कि इस डील में पटेल परिवार की कंपनी मिलेनियम डेवलपर्स को मिर्ची परिवार के सदस्यों की ओर से एक प्लॉट दिया गया था. यह प्लॉट वर्ली में नेहरू प्लैनेटोरियम के सामने प्राइम लोकेशन पर है. इसी प्लॉट पर मिलेनियम डिवेलपर्स ने 15 मंजिला व्यावसायिक और रिहाइशी इमारत का निर्माण किया है. इसका नाम सीजे हाउस रखा गया है.

यह भी पढ़ेंः भारत की मेहमाननवाजी से खुश हुआ China, कही ये बड़ी बात

11 जगहों पर छापेमारी से मिले अहम दस्तावेज
बीते दो सप्ताह में मुंबई से लेकर बेंगलुरु तक में 11 स्थानों पर छापेमारी के दौरान बरामद किए गए दस्तावेजों के आधार पर प्रवर्तन निदेशालय जांच में जुटा है. डिजिटल सबूत, ईमेल और डॉक्युमेंट्स को सीज किए जाने के बाद एजेंसी ने अब 18 लोगों के बयान दर्ज कर लिए हैं. इनमें से एक दस्तावेज वह भी है, जिसके मुताबिक पटेल फैमिली की कंपनी को ट्रांसफर हुआ प्लॉट पहले इकबाल मेमन की पत्नी हजरा मेमन के नाम पर था.

यह भी पढ़ेंः यात्री ने कहा- 'लखनऊ से चेन्नई जाने वाली फ्लाइट में बम है', जानें फिर क्या हुआ

200 करोड़ रुपये की जगह मिर्ची की पत्नी को
यही नहीं, इस प्लॉट के रीडिवेलपमेंट को लेकर दोनों पक्षों के बीच हुए समझौते के दस्तावेज भी पाए गए हैं. 2006-07 में हुई इस डील के मुताबिक सीजे हाउस की दो मंजिलें मेमन परिवार को दी गई हैं. ईडी के सूत्रों का कहना है कि इमारत के इन दो फ्लोर्स की कीमत 200 करोड़ रुपये के करीब है. प्रफुल्ल पटेल और उनकी पत्नी मिलेनियम डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड के शेयरहोल्डर हैं. सूत्रों का कहना है कि ईडी पटेल परिवार के सदस्यों को तलब किया जा सकता है.

First Published : 13 Oct 2019, 08:38:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.