News Nation Logo

राजनीतिक दलों ने चुनाव प्रचार पर खर्च किए 33 प्रतिशत : ADR report

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 19 Oct 2022, 06:34:58 PM
ADR report

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

लखनऊ:  

गोवा, मणिपुर, पंजाब, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ने वाले राजनीतिक पार्टियों ने प्रचार पर अपने कुल व्यय का 33.9 प्रतिशत खर्च किया. एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स द्वारा तैयार और जारी एक रिपोर्ट के अनुसार पार्टियों ने प्रचार पर 232.882 करोड़ रुपये खर्च किए, इसके बाद उम्मीदवारों को भुगतान की गई राशि पर 205.144 करोड़ रुपये, यात्रा खर्च पर 138.618 करोड़ रुपये व अन्य पर 56.751 करोड़ रुपये खर्च किए. पार्टियों द्वारा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म/ऐप्स/अन्य माध्यमों से वर्चुअल अभियान पर 29.568 करोड़ रुपये और उम्मीदवार (उम्मीदवारों) के आपराधिक इतिहास को प्रकाशित करने पर 23.368 करोड़ रुपये खर्च किए गए.

इस रिपोर्ट में जिन राष्ट्रीय राजनीतिक दलों को शामिल किया गया है, उनमें भाजपा, कांग्रेस, बसपा, राकांपा, एआईटीसी और भाकपा हैं, और जिन क्षेत्रीय दलों को शामिल किया गया, उनमें भाकपा (माले), आप, रालोद, शिअद, शिवसेना, एआईएमआईएम और एनपीएफ हैं.

राजनीतिक दल प्रचार, यात्रा व्यय, अन्य/विविध व्यय, अपने चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों को भुगतान की गई एकमुश्त राशि, उम्मीदवार (उम्मीदवारों) के आपराधिक इतिहास को प्रकाशित करने पर होने वाले खर्च और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म/ऐप्स के माध्यम से आभासी अभियान पर हुए खर्च की घोषणा करते हैं.

रिपोर्ट के अनुसार इस साल गोवा, मणिपुर, पंजाब, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड विधानसभा चुनावों के दौरान 13 राजनीतिक दलों ने 1441.797 करोड़ रुपये इकट्ठा किया और 470.101 करोड़ रुपये खर्च किया.

पार्टियों द्वारा केंद्रीय मुख्यालय में 1209.598 करोड़ रुपये एकत्रित और 284.92 करोड़ खर्च किया गया.

उत्तर प्रदेश राज्य इकाई ने 73.238 करोड़ रुपये, पंजाब ने 33.95 करोड़ रुपये खर्च किए, उत्तराखंड ने 33.678 करोड़ रुपये, मणिपुर ने 22.495 करोड़ रुपये और गोवा ने 21.82 करोड़ रुपये खर्च किए.

इन पांच राज्यों में राजनीतिक दलों ने मीडिया विज्ञापन (182.6875 करोड़ रुपये) पर सबसे अधिक खर्च किया, इसके बाद प्रचार सामग्री (39.7645 करोड़ रुपये) और जनसभाओं (10.43 करोड़ रुपये) पर खर्च किया गया.

चार माह बाद भी सीपीएम, एनपीईपी, एसपी, एआईएफबी, आईयूएमएल, जेडीयू, एलजेएसपी, लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास), जीएफपी, एमजीपी, आरएसपी के चुनावी खर्च के ब्योरे सार्वजनिक डोमेन में उपलब्ध नहीं हैं.

खास बात यह है कि इस रिपोर्ट में विश्लेषण किए गए 13 राजनीतिक दलों में से केवल शिरोमणि अकाली दल ने विधानसभा चुनाव 2022 के लिए अपने चुनावी खर्च विवरण में 50 लाख रुपये के चुनावी बांड के माध्यम से दान की घोषणा की.

First Published : 19 Oct 2022, 06:32:29 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.