News Nation Logo
Banner

PMC Bank scam : राकेश और सारंग वाधवान हुए गिरफ़्तार, कल अदालत में होगी पेशी

PMC Bank scam : राकेश और सारंग वाधवान हुए गिरफ़्तार, कल अदालत में होगी पेशी

By : Ravindra Singh | Updated on: 03 Oct 2019, 06:23:45 PM

highlights

  • PMC बैंक घोटाले में हुई पहली गिरफ्तारी
  • एचडीआइएल के 2 डायरेक्टर्स हुए गिरफ्तार 
  • राकेश और सारंग वाधवान हुए गिरफ्तार

नई दिल्‍ली:

पीएमसी बैंक घोटाले (PMC Bank Scam) में पुलिस ने HDIL के दो डायरेक्टर्स राकेश और सारंग वाधवान को गिरफ्तार कर लिया है. कल इन दोनों की अदालत में पेशी होगी. आपको बता दें कि यह पीएमसी बैंक घोटाले में पहली गिरफ़्तारी है. इसके पहले मुंबई पुलिस ने दोनों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था. दोनों आरोपियों से मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा मतलब EOW ने पूछताछ के बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. पीएमसी बैंक को कर्ज में डुबाने वाले 44 बड़े अकाउंटों में 10 खाते HDIL और वाधवा से जुड़े हैं. उन 10 खातों में से एक सारंग वाधवा और दूसरा राकेश वाधवा का निजी खाता. दोनों आरोपियों ने मिलकर 3337 करोड़ का लोन पीएमसी बैंक से ले रखा है. इनके खिलाफ दर्ज एफआईआर के मुताबिक़ पीएमसी बैंक के कुछ डायरेक्टर्स की मिलीभगत से ये लोन हासिल किया गया था. जो आगे चल कर NPA में बदल दिया गया.

एचडीआइएल (HDIL) जब संकट में फंसी तो इसे दिया गया पीएमसी बैंक का सारा लोन डूब गया. PMC बैंक ने डिफाल्ट के बाद भी HDIL को लोन देना जारी रखा. और इस हद तक देना जारी रखा कि खुद डूब गया. इसके बाद आरबीआई (RBI) ने कार्रवाई करते हुए पीएमसी बैंक के कारोबार पर रोक लगा दी थी. साथ ही बैंक के ग्राहकों पर दस हजार रुपये से ज्यादा निकालने पर रोक लग गई थी.

यह भी पढ़ें-मोदी सरकार के इस काम से अब Indian Army को डोकलाम पहुंचने में लगेंगे महज 40 मिनट 

वहीं पीएमसी बैंक घोटाले में निलंबित मैनेजिंग डायरेक्टर जॉय थॉमस फरार हो गए हैं. पुलिस जॉय थॉमस को ढूंढने में जुट गई है. पुलिस ने जॉय थॉमस की तलाश में उनके बेटे और उनके पीए से पूछताछ भी की है लेकिन इन लोगों से पूछताछ के बाद भी पुलिस को जॉय थॉमस के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं मिल पाई है. आपको बता दें कि थॉमस ने आरबीआई को चिट्ठी लिखी थी जिसमें उन्होंने कई फर्जी एकाउंट के इस्तेमाल की जानकारी आरबीआई को दी थी.

यह भी पढ़ें-प्याज, टमाटर और लहसुन के बाद अब दाल ने त्योहारी सीजन में बिगाड़ा रसोई का बजट

ये है HDIL की कहानी
हाउसिंग डेवलपमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (HDIL) कंपनी साल 1996 में अस्तित्व में आई, ये कंपनी मुख्य तौर पर मुंबई और उसके आसपास के इलाके में रियल एस्टेट के कारोबार में है. कंपनी ने कई स्लम इलाकों को खाली करवा कर कई प्रोजेक्ट डेवलप किए हैं. कंपनी की आमदनी का एक बड़ा सोर्स ये रहा है कि कंपनी स्लम की जमीन डेवलप करती है और निर्माण का अधिकार किसी और को बेच देती है. आपको बता दें कि किसी जमाने में HDIL मार्केट वैल्यू के हिसाब से देश की तीसरी सबसे रियल एस्टेट कंपनी थी. लेकिन कुछ महीने पहले डूबने लगी. HDIL ने PMC बैंक से ही नहीं, कई और बैंकों से भी लोन लिया हुआ है. और इसके कारण कई बैंक भी मुसीबत में आ गए.

यह भी पढ़ें- INX Media Case : पी चिदंबरम को CBI कोर्ट से झटका, 17 अक्टूबर तक बढ़ी न्यायिक हिरासत

First Published : 03 Oct 2019, 05:29:03 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.