News Nation Logo
Banner
Banner

PM मोदी बोले- राष्ट्रीय शिक्षा नीति को हर तरह के दबाव से मुक्त रखा गया

राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) के तहत सुधारों के एक साल पूरा होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिक्षा और कौशल विकास के क्षेत्र में नीति निर्माताओं को वर्चुअल तरीके से संबोधित किया.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 29 Jul 2021, 05:31:48 PM
PM Narendra Modi

PM Narendra Modi (Photo Credit: news nation)

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) के तहत सुधारों के एक साल पूरा होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिक्षा और कौशल विकास के क्षेत्र में नीति निर्माताओं को वर्चुअल तरीके से संबोधित किया.इस अवसर पर प्रधानमंत्री शिक्षा क्षेत्र में कई पहलों का भी शुभारंभ किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को एक साल पूरा होने पर सभी देशवासियों और सभी विद्यार्थियों को शुभकामनाएं दी. उन्होंने कहा कि बीते एक वर्ष में देश के आप सभी महानुभावों, शिक्षको, प्रधानाचार्यों, नीतिकारों ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति को धरातल पर उतारने में बहुत मेहनत की है.

देखें: न्यूज नेशन LIVE TV

बड़ी अपडेट्स:-

राष्ट्रीय शिक्षा नीति ( NEP ) के तहत सुधारों के एक साल पूरा होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिक्षा और कौशल विकास के क्षेत्र में नीति निर्माताओं को वर्चुअल तरीके से संबोधित कर रहे हैं. इस अवसर पर प्रधानमंत्री शिक्षा क्षेत्र में कई पहलों का भी शुभारंभ किया. पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि एक साल में राष्ट्रीय शिक्षा नीति को धरातल पर उतारा गया है. पीएम मोदी ने कहा कि आज युवा नए बदलाव के लिए पूरी तरह से तैयार है.

नई शिक्षा नीति के माध्यम से नया भविष्य बनेगा 

अब नई शिक्षा नीति के माध्यम से नया भविष्य बनेगा. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में छात्रों ने नए बदलाव को अपनाया है. देश के छात्रों  ने नई चुनौतियों को स्वीकार किया. इसलिए कोरोना काल में भी शिक्षा के क्षेत्र में कई बदलाव हुए. 

ऑनलाइन क्लास अब चलन बन गया

ऑनलाइन क्लास अब चलन बन गया है. पीएम ने कहा कि गांव और कस्बों से असाधारण क्षमता वाले युवा सामने आ रहे हैं. अब अच्छा पढ़ाई के लिए विदेश जाने की जरूरत नहीं. 

नए भारत के निर्माण में नई शिक्षा नीति की अहम भूमिका

पीएम मोदी ने कहा नए भारत के निर्माण में नई शिक्षा नीति की अहम भूमिका है. उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति चरणबद्ध तरीके से लागू हुई है. प्रारंभिक शिक्षा में भी मात्र भाषाा का ध्यान रखा गया है. 

पीएम ने कहा कि भविष्य में हम कितना आगे जाएंगे, कितनी ऊंचाई प्राप्त करेंगे, ये इस बात पर निर्भर करेगा कि हम अपने युवाओं को वर्तमान में यानि आज कैसी शिक्षा दे रहे है, कैसी दिशा दे रहे हैं. मैं मानता हूं भारत की नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति राष्ट्र निर्माण के महायज्ञ में बड़े factors में से एक है.

First Published : 29 Jul 2021, 04:17:16 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.