News Nation Logo
Banner

SCO सम्मेलन में जाने के लिए पाक के हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल नहीं करेंगे PM, आज इस लंबे रास्ते से जाएंगे

किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में होने वाले शंघाई सहयोग संगठन (SCO) के सम्मेलन में शामिल होने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल नहीं करेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 13 Jun 2019, 06:52:24 AM
पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

highlights

  • किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में होगा SCO का शिखर सम्मेलन
  • पीएम मोदी और पाक पीएम इमरान खान के बीच नहीं होगी मुलाकात
  • चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से मुलाकात करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली:

किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में होने वाले शंघाई सहयोग संगठन (SCO) के सम्मेलन में शामिल होने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल नहीं करेंगे. पीएम मोदी (PM Modi) का विमान दूसरे रास्ते होकर बिश्केक पहुंचा. इसकी जानकारी विदेश मंत्रालय (MEA) ने दी है.

यह भी पढ़ेंः कंगाल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने राष्ट्र को दिए संदेश में दी ये कड़ी चेतावनी

एएनआई के अनुसार, पीएम नरेंद्र मोदी का विमान ओमान, ईरान और मध्य एशिया के लंबे रास्ते से होकर जाएगा. इससे पहले यह जानकारी मिली थी कि भारत ने प्रधानमंत्री के एससीओ की बैठक में हिस्सा लेने जाने के लिए पाकिस्‍तान के हवाई क्षेत्र से गुजरने की अनुमति मांगी थी, जिसे पाक ने मंजूर कर लिया है, लेकिन अब विदेश मंत्रालय ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ओमान, ईरान और मध्‍य एशिया के लंबे रास्‍ते से होते हुए बिश्‍केक जाएंगे.

यह भी पढ़ेंः सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव मेदांता अस्पताल से हुए डिस्चार्ज, लखनऊ के लिए हुए रवाना

बता दें कि किर्गिस्तान के बिश्केक में कल शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन होगा. कयास लगाए जा रहे थे कि इस सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र और पाकिस्तान के पीएम इमरान खान से मुलाकात हो सकती है, लेकिन विदेश मंत्रालय ने इस कयास को खारिज कर दिया है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम इमरान खान के बीच कोई बैठक नहीं हो रही है. ऐसी स्थिति में कोई भी चीज पाकिस्तान के साथ नहीं हो सकता है.

यह भी पढ़ेंः भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी को लगा झटका, चौथी बार जमानत याचिका हुई खारिज

वहीं, यहां वो चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से मुलाकात करेंगे. 2019 लोकसभा चुनाव में भारी बहुमत से जीत मिलने के बाद शी से मोदी की यह पहली मुलाकात होगी. एससीओ चीन के नेतृत्व वाला आठ सदस्यीय आर्थिक एवं सुरक्षा ब्लॉक है. इस समूह में भारत और पाकिस्तान को 2017 में शामिल किया गया था.

First Published : 13 Jun 2019, 06:52:24 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.