News Nation Logo

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर उतरेगा राफेल, 16 नवंबर को पीएम मोदी करेंगे उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 नवंबर को पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन करेंगे तो उनके सामने इस एक्सप्रेस-वे पर राफेल, सुखोई जैसे लड़ाकू विमान भी करतब दिखाते हुए नजर आएंगे. 

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 12 Nov 2021, 12:41:48 PM
purvaanchal way

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर उतरेगा राफेल (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • पीएम मोदी एक्सप्रेस-वे का करेंगे उद्घाटन
  • सुल्‍तानपुर जिले में बनी हवाई पट्टी पर होगा 
  • जगुआर, मिराज और सुखोई भी दिखाएंगे दम 

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में एक और ऐसा एक्सप्रेस-वे तैयार है जिस पर लड़ाकू विमान उतर सकेंगे. देश का सबसे आधुनिक विमान राफेल पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर उतरेगा. जगुआर, मिराज और सुखोई भी अपना दम दिखाएंगे. 16 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 341 किमी लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करेंगे.  इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी साथ होंगे. पूर्वांचल एक्सप्रेस वे, यूपी का दूसरा ऐसा एक्सप्रेस वे है जिसे लड़ाकू विमानों के उतरने के योग्य बनाया गया है. इससे पहले आगरा एक्सप्रेस वे पर भी जेट्स ने उतरकर और उड़ान भरकर अपने कौशल का परिचय दिया है. इस एक्सप्रेसवे के शुरू होने के बाद दिल्ली से गाजीपुर की दूरी 10 घंटे में तय की जा सकेगी.  

उद्घाटन पर होगा एयर शो
उद्घाटन के मौके पर एक्सप्रेस-वे रनवे पर भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमान एयर शो के जरिए भारतीय सैन्य कौशल का प्रदर्शन भी करेंगे. इसके लिए एक-दो नहीं बल्कि 30 फाइटर जेट्स को पूर्वांचल एक्सप्रेस पर उतारने की तैयारी की जा रही है. इसका अभ्यास आज से शुरू कर दिया जाएगा. यानी आज से अगले चार दिन तक भारतीय वायुसेना के परवाज पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर लैंडिंग और टेकऑफ करेंगे. ऐसे में पूर्वांचलियों को आज से लड़ाकू विमानों की खूब गर्जना सुनाई देगी.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यानथ खुद एक्सप्रेस वे पर तैयार किए गए लैंडिंग स्ट्रिप का जायजा लेने के लिए आज दोपहर सुल्तानपुर पहुंच रहे हैं. जानकारी के मुताबिक 16 नवंबर को पीएम मोदी खुद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ सी-130 जे सुपर हरक्युलिस विमान से एक्सप्रेंस वे पर लैंड करेंगे. इसके बाद यहां एक शानदार एयरशो होगा जिसके जरिए भारत दुनिया के सामने अपनी रक्षा तैयारियों की झलक पेश करेंगा. लखनऊ के चांद सराय गांव से गाजीपुर के हैदरिया गांव तक बनाए गए इस एक्सप्रेस वे पर 22,494 करोड़ की लागत आई है. 6 लेन के इस एक्सप्रेस वे पर गाड़ियां 100 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़ेंगी. इसके जरिए महज चार घंटे में लखनऊ से बाराबंकी, सुल्तानपुर, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ होते हुए गाजीपुर पहुंचा जा सकेगा.

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे : एक नजर में
शिलान्यास - 14 जुलाई 2018 पीएम मोदी के कर कमलों से
एक्सप्रेसवे का प्रारंभिक स्थान- एनएच 731 के लखनऊ-सुल्तानपुर रोड पर स्थित लखनऊ का चांदसराय गांव
अंतिम स्थान - एनएच 19 पर गाजीपुर का हैदरिया गांव (यूपी-बिहार बॉर्डर से 18 किमी पहले)
ले आउट - पूर्णतः प्रवेश नियंत्रित 6 लेन, कुल लम्बाई 340.824 किमी
परियोजना की लागत - 22494.66 करोड़ रुपये, भूमि अधिग्रहण समेत
कवर हुए जनपद - 9 (लखनऊ, बाराबंकी, अमेठी, सुल्तानपुर, अयोध्या, अम्बेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ व गाजीपुर)

First Published : 12 Nov 2021, 12:41:48 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.